कब्ज के घरेलू उपचार | 11 प्रकार के घरेलू उपचार कब्ज से दिलाते है जल्दी राहत

सुबह के समय नियमित रूप से शौच साफ़ ना होने को व्यवहारिक भाषा में कब्ज या पेट साफ़ ना होना कहते है कब्ज को इंग्लिश में constipation कहते है आयुर्वेद के अनुसार कब्ज के घरेलू उपचार अलग अलग प्रकार के होते है

कब्ज को मलावरोध भी कहाँ जाता है भारत में अधिकतर लोगो को कब्ज की समस्या है और हेरानी की बात है की उनमे से अधिकतर लोगो को पता ही नहीं है की उनको कब्ज की समस्या है

जिन व्यक्ति को कब्ज हो जाती है उनका पेट साफ़ नहीं होता है मल टाईट हो जाता है और दिन में कई बार शौच जाना पड़ता है पेट भरा हुआ लगता है और इसके कारण शरीर में बहुत सी बीमारियाँ होने लगती है

कब्ज का नाम तो सभी को पता है परन्तु कब्ज है क्या यह बहुत कम लोगो को पता होता है और कब्ज भी अलग अलग प्रकार की होती है किसी को पुरानी कब्ज होती है और किसी को कुछ समय पहले वाली कब्ज होती है

अगर आम भाषा में कहें तो अधूरी पाचन क्रिया और सुबह के समय पेट साफ़ ना होने को ही कब्ज कहाँ जाता है हम जब कुछ खाते है तो हमारा शरीर उस खाने में से पोषक तत्त्व को ग्रहण कर बाकी को शौच के द्वारा निकाल देता है

और जब बाकी का खाना शौच के द्वारा ना निकले या पेट में ही हार्ड हो जाता है तो कब्ज की समस्या उत्पन हो जाती है कब्ज के घरेलू उपचार आयुर्वेद में अलग अलग है परन्तु कब्ज के बाद कुछ लक्ष्ण भी दिखाई देते है

कब्ज के घरेलू उपचार

कब्ज के लक्ष्ण 

कब्ज के लक्ष्ण इस प्रकार है –

.  सुबह के समय शौच का साफ़ ना होना

.  पेट में गेस बने की समस्या होना

.  भूख बहुत कम लगना

.  कभी कभी पेट में दर्द होना

.  शरीर और सिर में दर्द होना

.  काम करने का मन ना करना

.  हमेशा बेचेन रहना

यह कुछ लक्ष्ण है जो कब्ज के बाद दिखाई देते है अगर आपको यह लक्ष्ण दिखाई दे तो डॉक्टर से जांच करवाए जल्द है 

कब्ज के घरेलू उपचार 

कब्ज के घरेलू उपचार इस प्रकार है जो आपको निचे देखने को मिल जाएगे –

.  उपवास करे

कब्ज के घरेलू उपचार में सबसे अच्छा उपचार है उपवास जो आज तक बहुत से वयक्ति अपना चुके है जिसे बहुत आराम मिलता है आपको कब्ज से राहत पाने के लिए आपको हफ्ते में एक बार पुरे दिन का उपवास करना है इसे कब्ज की शिकायत जल्दी खत्म हो जाती है और मल मुलायम होता है

.  व्यायाम करे

व्यायाम सबसे अच्छा उपचार है कब्ज को दूर करने के लिए इसे पुरानी से पुरानी कब्ज दूर हो जाती है आपको हर दिन सुबह उठकर पेट के व्यायाम करने है जैसे बालासन , हलासन ,पवनमुक्ताआसन आदि करे इसे आपको कब्ज से जल्दी छुटकारा मिलता है और मल त्याग होता है

.  दूध और घी का इस्तेमाल करे

कब्ज के घरेलू उपचार में एक उपचार है दूध और घी का सेवन इसे कब्ज की समस्या से आराम मिलता है आपको रात को सोने से पहले 2 या 3 चमच घी लेना है और उसे गर्म दूध में मिला लेना है और सेवन करना है आप गर्म दूध की जगह गर्म पानी का इस्तेमाल भी कर सकते है

.  सेंधा नमक का इस्तेमाल करे

सेंधा नमक का इस्तेमाल भी कब्ज के घरेलू उपचार में बहुत फायदेमंद होता है क्युकी सेंधा नमक में आयरन , कोपर , जिंक आदि तत्व होते है आपको खाना खाने से 20 मिनट पहले 2 चमच मखन में 1 ग्राम सेंधा नमक मिलाकर खाना है और उसके बाद आपको गर्म पानी का सेवन करना है

.  काली मुनक्का का इस्तेमाल करे

काली मुनक्का कब्ज के लिए बहुत फायदेमंद होती है इसके इस्तेमाल से आपको जल्द ही कब्ज से आराम मिलता है आपको रात को सोने से पहले 10 या 15 काली मुनक्का का सेवन करना है इसे कब्ज से राहत मिलेगी और सुबह पेट अच्छी तरह से साफ़ हो जाएगा

.  एरंड तेल का इस्तेमाल करे

एरंड के तेल में एंटीइम्फ्लामेंट्री  , एंटीओक्सिडेंट जैसे कई तत्व पाए जाते है जो हमारे लिए अच्छे होते है आपको 2 चमच एरंड का तेल लेना है और उसके बाद 2 चमच घी लेना है और उसको गर्म दूध में मिला लेना है या गर्म पानी में लेना है इसे आपकी कब्ज जल्दी ठीक हो जाएगी

.  त्रिफला चूर्ण का इस्तेमाल करे

कब्ज के लिए त्रिफला चूर्ण का इस्तेमाल कई सालो से किया जा रहा है आयुर्वेद के अनुसार त्रिफला चूर्ण कब्ज के लिए बहुत अच्छा उपचार है आपको सुबह और रात को सोने से पहले 1 या 2 ग्राम त्रिफला चूर्ण गर्म पानी के साथ सेवन करना है इसे मल मुलायम होगा और पेट अच्छे से साफ़ होगा

.  इसबगोल की भूसी का इस्तेमाल करे

इसबगोल की भूसी कब्ज के घरेलू उपचार में बहुत अधिक फायदेमंद है आपको 2 या 3 चमच इसबगोल बड़े गिलास में आधा घंटा भिगो कर रख देना है और बाद में चमच के साथ उसका सेवन करना है और इसके इस्तेमाल के बाद जादा से जादा पानी पीना है इसे शोच साफ़ हो जाता है

.  पानी जादा पिए

कब्ज के घरेलू उपचार में सबसे अच्छा है जादा से जादा पानी का सेवन करना क्युकी हम जितना पानी पिएगे हमारा मल उतना मुलायम होगा क्युकी कब्ज में मल हार्ड हो जाता है और जादा पानी के सेवन से मिल मुलायम होकर पेट अच्छे से साफ़ होता है इसलिए पानी जादा पिए

.  दूध और गुड का इस्तेमाल करे

दूध और गुड का इस्तेमाल कब्ज के लिए लिए बहुत फायदेमंद होता है क्युकी दूध में केल्शियम , विटामिन ए , विटामिन डी , विटामिन के , विटामिन ई आदि पाए जाते है आपको एक गिलास गर्म दूध लेना है और उस दूध में आपको गुड मिला लेना है और सेवन करना है कब्ज से आराम मिलेगा

.  अजवायन का इस्तेमाल करे

अजवायन का इस्तेमाल कब्ज के घरेलू उपचार में सालो से किया जा रहा है यह कब्ज को खत्म करने में बहुत फायदेमंद है आपको सुबह उठकर खाली पेट पहले अजवायन और जीरे के पानी का सेवन करना है इसे कब्ज की समस्या दूर होगी और हर सुबह पेट साफ़ होने में मदत मिलेगी

उपर दिए हुए सभी कब्ज के घरेलू उपचार है इन सभी के इस्तेमाल से आप कब्ज को दूर भगा सकते है और कब्ज से छुटकारा पा सकते है 

कब्ज होने पर क्या खाना चाहिए 

आपको कब्ज के घरेलू उपचार तो पता चल ही गए होंगे इसके साथ हम आपको बताएगे की आपको कब्ज की समस्या में क्या खाना है जिसे आपको आराम मिले

.  आपको जवार की रोटी , चावल , का अधिक सेवन करना है

.  दूध , मकखन , छाछ , घी , का सेवन करना है

अंगूर , चीकू , सेब , पपीता का सेवन करना है

कब्ज होने पर क्या नहीं खाना चाहिए 

जानिए की कब्ज होने पर आपको किन चीजो का सेवन नहीं करना है

.  बड़ा पाँव का सेवन ना करे

.  किसी भी इंस्टेट प्रदार्थ का सेवन ना करे

.  पोहे का सेवन ना करे

कब्ज होने पर क्या करे 

जानिए कब्ज होने पर आपको क्या करना है

.  व्यायाम करे

.  आपको आराम आराम से और अच्छे से चबाकर भोजन करना है

.  शोच जाने से पहले एक गिलास पानी पीना है

.  रात को जल्दी खाना खा लेना है

.  सुबह जल्दी उठ जाना है

कब्ज होने पर क्या ना करे 

कब्ज होने पर आपको क्या नहीं करना है जाने

.  आपको देर रात तक नहीं जागना है

दोपहर के समय आपको सोना नहीं है

.  एक ही जगह पर अधिक समय तक नहीं बेठना है

निष्कर्ष

आशा करते है की आपको कब्ज के घरेलू उपचार के बारे में पता चल गया होगा और साथ में कब्ज से जुडी जानकारी मिली होंगी कब्ज एक आम समस्या है परन्तु बहुत अधि परेशानी जनक है जिसे हमें बहुत सी बीमारियाँ हो सकती है एसे में जरुरी है की समय पर डॉक्टर से मिले और जांच करवाए और कब्ज का इलाज करवाए

related topic 

पेट के ऊपरी हिस्से में दर्द के कारण और जानिए पेट दर्द के कुछ सामान्य कारण

पेट में कीड़े होने के लक्षण और उपाय,नुकसान ,कारण ,pet me kide ki medicine | पेट के कीड़े की घरेलू दवा

पेट दर्द का घरेलू उपचार ,कारण,पेट दर्द के प्रकार,पेट दर्द की समस्या,इलाज का तरिका 

सुबह खाली पेट कीवी खाने के फायदे

जानिए कुछ सवालों के जवाब 

q . कब्ज में क्या क्या नहीं खाना चाहिए?

ANS . बड़ा पाँव , पोहा का सेवन कब्ज में नहीं करना चाहिए |

q . कब्ज की आयुर्वेदिक दवा पतंजलि?

ANS . सरक चूरन , गोलाक्स पाउडर , इसोवा पाउडर |

q . कब्ज में इसबगोल कैसे ले?

ANS . आपको 2 या 3 चमच इसबगोल बड़े गिलास में आधा घंटा भिगो कर रख देना है और बाद में चमच के साथ उसका सेवन करना है

q . कब्ज में परहेज?

ANS . रात को जागना नहीं है , दोपहर को सोना नहीं है , एक ही जगह पर बेठना नहीं है जादा समय तक

q . कब्ज दूर करने के लिए योग?

ANS . हलासन , बालासन , पवनमुक्तासन करे |

डिस्क्लेमर – जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर प्रकार से प्रयाश  किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी thedkz.com  की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है

Leave a Comment