R37 homeopathic medicine का इस्तेमाल मुख्या रूप से आंतो में दर्द और पेट की समस्या को ठीक करने के लिए किया जाता है अगर आपको पेट से जुडी कोई समस्या है तो R37 medicine जरुर ले आपको फायदा होगा

आंतो में दर्द और पेट अफरने की समस्या आज के समय में आम समस्या हो गई है जिसे बहुत से व्यक्ति परेशान है और बहुत से व्यक्ति एसे है जिनको आंतो में पुराने दर्द की समस्या है जो ठीक नहीं होती है

जब आप medicine को खा लेते है तो आपको आराम मिलता है ठीक हो जाती है और दवाई को छोड़ते ही समस्या दोबारा से शुरू हो जाती है इसके लिए Dr.reckeweg की R37 medicine बहुत लाभकारी है

R37 medicine दस्त के साथ साथ आंतो में दर्द , पेट का अफरना , गैस बना , लीवर सिरोसिस आदि समस्या के लिए बहुत अधिक लाभकारी है और इसे फायदा मिलता है जानते है R37 homeopathic medicine के बारे में

R37 medicine क्या है – what is R37 homeopathic medicine in hindi

R37 medicine पेट की समस्या के लिए बहुत अछि medicine है यह Dr.reckeweg की homeopathic medicine है जो जर्मन में बनाई जाती है R37 medicine को Colinteston – Intestinal colic drops भी कहते है

और यह आपको 260 रूपये में मिल जाएगी R37 medicine के अंदर बहुत सी अलग अलग homeopathic medicine मिली हुई है जो बहुत लाभकारी है

Sulphus , Alumina , Bryonia alba , Colocynthis , Lachesis , Lycopodium clavatum , Mercurius corrosivus , Nux vomica , Plumbum aceticum . इन सभी medicine के बारे में निचे देखने को मिल जाएगे

R37 medicine का इस्तेमाल कैसे करे – R37 homeopathic medicine uses in hindi

R37 medicine का इस्तेमाल उम्र , लिंग , कोई नई या पुरानी बिमारी को ध्यान में रखकर डॉक्टर की सलाह के अनुसार किया जाता है ताकि आने वाले समय में मरीज को समस्या न हो

उसकी खुराक की बात की जाए तो वह आपके शरीर पर और बिमारी पर निर्भर करती है अगर आपकी बिमारी नई नई है और कम है तो आप R37 medicine को कम मात्रा में ले

अगर आपको समस्या पुरानी है और ज्यादा है तो थोड़ी ज्यादा मात्रा में ले सकते है परन्तु डॉक्टर की सलाह के अनुसार ही डोस को कम ज्यादा करे

R37 medicine को लेने के लिए आपको 1 चोथाई कप पानी लेना है और उसमे 10 से 15 बूंद R37 medicine की डाल लेनी है और उसका सेवन करना है

आपको एसा दिन में 3 बार करना है हर बार में 10 से 15 बूंदों को लेना है और इसका सेवन आपको खाना खाने से आधे घंटे पहले करना है अगर समस्या ठीक होती है तो डोस को कम कर दो

और अगर समस्या कम नही हुई है तो आप इसे थोडा लम्बे समय तक ले सकते है ध्यान रखे शुरू में इसकी डोस कम ले 5 से 10 बुँदे ले धीरे धीरे आदत होने पर dose को बढ़ा सकते है

(1) . समस्या कम होने पर R37 medicine को कैसे ले

बिमारी आंतो में दर्द , पेट की समस्या
मात्रा 5 से 10 बूंदों के बीच में
दिन में कितनी बार दिन में 3 बार ले
खाना खाने के बाद या पहले खाना खाने से आधे घंटे पहले ले
किसके साथ मेडिसिन ले 1 चोथाई कप पानी के साथ ले
सलाह डॉक्टर की सलाह अनिवार्य है
अगर लगता है समस्या बढ़ गई है तो डोस को बढ़ा सकते है

(2) . समस्या ज्यादा होने पर R37 medicine को कैसे ले

बिमारी आंतो में दर्द , पेट की समस्या
मात्रा 10 से 15 बुँदे ले
दिन में कितनी बार दिन में 3 बार ले
खाने से पहले या बाद में खाना खाने से आधे घंटे पहले ले
किसके साथ ले 1 चोथाई कप पानी के साथ ले
सलाह डॉक्टर की सलाह अनिवार्य है
अगर आपको R37 medicine से आराम नहीं है तो डॉक्टर की सलाह ले

R37 medicine के फायदे – Benefits of R37 medicine in hindi

R37 medicine के मुख्या फायदे के बारे में आपको निचे देखने को मिल जाएगा जो इस प्रकार है

(1) . आंतो में दर्द के लिए फायदेमंद है

आंतो में दर्द की समस्या के लिए R37 medicine लाभकारी है आंतो में दर्द का एक कारण कब्ज भी होती है और आंत में कचरा जमा हो जाता है उसके लिए R37 medicine ले सकते है

(2) . लीवर सिरोसिस में फायदेमंद है

लीवर सिरोसिस लीवर का एक रोग है यह लीवर को सही प्रकार से कार्य करने नहीं देता है उसे रोकता है यह बहुत ज्यादा खतरनाक हो सकता है इसलिए डॉक्टर की सलाह ले पहले और R37 medicine का सेवन करे

(3) . पेट फूलने और मरोड़ के लिए फायदेमंद है

पेट फूलना और पेट में मरोड़ का होना इनके बहुत से कारण होते है इसका एक कारण दस्त भी हो सकती है इसके लिए आप R37 medicine का सेवन कर सकते है आपको फायदा होगा

(4) . पेट में गैस बने की समस्या के लिए लाभकारी है

पेट में गैस बने की समस्या के लिए R37 medicine बहुत ज्यादा लाभकारी है बहुत से व्यक्ति एसे है जो एक ही जगह पर बैठकर काम करते है जिसके कारण उनके पेट में गैस बनती है तो R37 medicine ले सकते है

यह R37 medicine के कुछ मुख्या लाभ है R37 medicine के इस्तेमाल से आपको आराम मिलेगा

R37 medicine के दुष्प्रभाव – side effects of R37 medicine in hindi

वैसे तो homeopathic medicine के side effects नहीं होते है परन्तु कई बार R37 medicine के दुष्प्रभाव देखने को मिल जाते है जिनका आपको ध्यान रखना है जो इस प्रकार है

(1) . त्वचा में जलन हो सकती है

अगर आप R37 medicine का शुरू में ज्यादा मात्रा में इस्तेमाल कर लेते है और आपको इसकी आदत नहीं है तो त्वचा में हलकी जलन हो सकती है परन्तु जरुरी नहीं की सभी में यह साइड इफेक्ट्स हो हर मरीज का शरीर अलग अलग होता है इसलिए अगर एसा है तो डोस को कम कर दो

(2) . त्वचा लाल हो सकती है

कुछ व्यक्ति में R37 medicine के सेवन से त्वचा लाल होने की समस्या होती है यह भी हल्का प्रभाव होता है अगर आप डोस को सही मात्रा में लेते है तो यह समस्या ठीक हो जाएगी अगर आपको दुष्प्रभाव ज्यादा दिखाई देते है तो डॉक्टर की सलाह तुरंत ले

R37 medicine के गलत या ज्यादा मात्रा में सेवन से या आपके शरीर के अनुसार उपर दिए गए साइड इफेक्ट्स हो सकते है तो डॉक्टर से मिले तुरंत और जांच करवाए

R37 medicine की सावधानियाँ – precautions of R37 medicine in hindi

अगर आप R37 medicine का सेवन कर रहे है या करना चाहते है तो आपको कुछ बातो का ध्यान रखना होगा जिसके बारे में आपको निचे देखने को मिल जाएगा जो इस प्रकार है

(1) . डॉक्टर की सलाह ले

अगर आप R37 medicine का सेवन करना चाहते है तो आपको पहले डॉक्टर से अपनी समस्या की जांच करवानी होगी उसके बाद ही R37 medicine का सेवन करे ताकि समस्या न हो

(2) . एलर्जी होने पर R37 medicine न ले

अगर आपको किसी प्रकार की एलर्जी की समस्या है तो आपको R37 medicine के सेवन से पहले डॉक्टर की सलाह लेनी है उसके बाद ही R37 medicine के सेवन के बारे में सोचना

(3) . शराब का सेवन बिलकुल न करे

अगर आपको पेट की समस्या है तो आपको शराब का सेवन बिलकुल नहीं करना है इसे नुकसान हो सकता है और R37 medicine कोई असर नहीं करेगी इसलिए शराब का सेवन बिलकुल नहीं करना है

(4) . मांस का सेवन न करे

अगर आप R37 medicine या कोई homeopathic medicine का सेवन कर रहे है तो आपको मांस मछली आदि का सेवन नहीं करना है इसे R37 medicine का असर नहीं होगा

(5) . चाय कॉफ़ी का सेवन न करे

चाय कॉफ़ी का सेवन R37 medicine के असर को कम करती है इसलिए जब आप R37 medicine ले तो उसे आधे घंटे पहले या बाद में चाय कॉफ़ी का सेवन न करे

(6) . exp date को जरुर चेक करे

किसी भी medicine के लिए उसकी exp date बहुत ज्यादा जरुरी होती है इसलिए R37 medicine को लेने से पहले exp date की जांच जरुर करे

अगर आप R37 medicine का इस्तेमाल करना चाहते है या कर रहे है तो उपर बताई गई बातो का ध्यान जरुर रखे

R37 medicine की सामग्री – Ingredients of R37 medicine in hindi

R37 medicine के अंदर बहुत सी अलग अलग homeopathic medicine मिली हुई है जिसके बारे में आपको निचे देखने को मिल जाएगा जो इस प्रकार है

(1) . सल्फर (sulphur)

सल्फर भी दस्त की समस्या में दी जाती है अगर आपको सुबह के समय में ज्यादा दस्त की समस्या रहती है तो उस समय में सल्फर अच्छा कार्य करती है साथ ही गैस और पेट अफरने में यह लाभकारी है

(2) . एलुमिना (Alumina)

एलुमिना homeopathic medicine कब्ज की समस्या में दी जाती है अगर आपका मल छोटे छोटे हिसे में आता है और जोर लगाकर आता है तो एलुमिना लाभकारी है इसे आप अलग से भी ले सकते है

(3) . ब्रायोनिया अल्बा (Bryonia alba)

ब्रायोनिया अल्बा medicine का इस्तेमाल भी कब्ज की समस्या के लिए किया जाता है इसमें आपका मल काले रंग हो जाता है तो इसके लिए भी आप ब्रायोनिया अल्बा ले सकते है

(4) . कोलोसिन्थ (colocynthis)

कोलोसिन्थ पेट दर्द की समस्या के लिए दी जाती है साथ में मरोड़ होती है आगे झुकने से आराम मिलने लगता है मरीज को तो उस समय में कोलोसिन्थ medicine दी जाती है

(5) . लैकेसिस (Lachesis)

जब कुछ व्यक्ति शराब का अधिक सेवन कर लेते है जिसके कारण उनके पेट में दर्द होता है मरोड़ होती है उस समय में लैकेसिस medicine दी जाती है जो लाभकारी है

(6) . लाइकोपोडियम क्लेवेटम (Lycopodium clavatum)

पेट का अफरना दर्द होना शाम को समस्या बढ़ जाना साथ ही लीवर सिरोसिस की समस्या है तो लाइकोपोडियम क्लेवेटम बहुत लाभकारी है और यह R37 medicine में मिली हुई है

(7) . मर्क्युरस कोरोसिव्स (Mercurius corrosivus)

मर्क्युरस कोरोसिव्स मरीज को तब दी जाती है जब उसे पेचिस की समस्या हो जाती है उस समय में मर्क्युरस कोरोसिव्स बहुत अच्छा फायदा करती है

(8) . नक्स वोमिका (Nux vomica)

जिन लोगो को गैस की समस्या है उनको नक्स वोमिका दी जाती है अगर आपका काम एक ही जगह पर बैठे रहने का है जिसे गैस की समस्या हो रही है तो नक्स वोमिका बहुत अच्छा फायदा करती है

(9) . प्लंबम (Plumbum)

प्लंबम medicine मुख्या रूप से तब दी जाती है जब मरीज को बहुत ज्यादा पुरानी दस्त की समस्या हो जाती है उस समय में प्लंबम बहुत लाभकारी medicine है

यह सभी homeopathic medicine R37 medicine में मिली हुई है जिसे R37 medicine और ज्यादा लाभकारी हो जाती है आप उपर दी गई medicine का सेवन अलग से कर सकते है

निचे दी गई दवाइयों के साथ R37 medicine का इस्तेमाल न करे – Which medicine can not used with R37 medicine in hindi

निचे बताई गई दवाइयों के साथ आपको कभी भी R37 medicine का इस्तेमाल नहीं करना है जानते है उन medicine के बारे में

(1) . Acutret 10 mg capsul

(2) . Retino A 0.025 cream

(3) . Acutret 20 mg capsul

(4) . A ret 0.1 % gel

(4) . Acutret 30 mg capsul

(5) . Acutret 5 mg capsul

इन दवाइयों के साथ R37 medicine न ले

निचे दी गई बिमारी है तो R37 medicine का इस्तेमाल न करे – Do not use R37 medicine in these diseases in hindi

इस बिमारी की समस्या होने पर R37 medicine न ले जो इस प्रकार है

(1) . एलर्जी की समस्या है तो R37 medicine न ले

R37 medicine को कैसे रखे – How to store R37 medicine in hindi

आपको R37 medicine को हमेशा ही सामान्य तापमान में रखना है आप R37 medicine को अपने कमरे के सामान्य तापमान में रख सकते है

एक बात का ध्यान रखे की R37 medicine को ज्यादा गर्म व ज्यादा ठंडी जगह से दूर रखे इसे medicine का असर कम हो सकता है

निष्कर्ष

आशा करते है की आपको R37 homeopathic medicine के बारे में पता चल गया होगा आपको पूरी जानकरी मिल गई होगी यह बहुत ही लाभकारी medicine है परन्तु हर मरीज की समस्या अलग अलग होने के कारण आपको इसे लेने से पहले एक बार डॉक्टर की सलाह जरुर लेनी चाहिए और R37 medicine का सेवन लगातार करे बीच में न छोड़े

related topic

पेट के ऊपरी हिस्से में दर्द के कारण

अमीबियासिस रोग क्या है – amebiasis disease in hindi

जानिए कुछ सवालों के जवाब

Q . R37 medicine का इस्तेमाल कितने दिन तक करना चाहिए ?

ans . आप R37 medicine का इस्तेमाल लगातार कर सकते है जब तक आपको आराम न मिले इसमें 1 महिना या उसे ज्यादा लग सकता है |

Q . क्या प्रेगनेंसी के दोरान R37 medicine का इस्तेमाल कर सकते है ?

ans . प्रेगनेंसी महिला को R37 medicine के इस्तेमाल से पहले अपने डॉक्टर की सलाह जरुर लेनी चाहिए |

Q . क्या R37 medicine का हमारे शरीर पर कोई दुष्प्रभाव पड़ता है ?

ans . R37 medicine का हमारे शरीर पर हल्का दुष्प्रभाव पड़ता है जैसे त्वचा में जलन और तवचा का लाल हो जाना परन्तु कुछ व्यक्ति में दुष्प्रभाव नहीं होते है इसके दुष्प्रभाव आपके शरीर और डोस पर निर्भर करते है |

Q . R37 medicine का प्राइस क्या है ?

ans . R37 medicine का प्राइस 260 रूपये है परन्तु इसका प्राइस आपके मेडिसिन खरीदने पर निर्भर करता है आप किसी होम्योपैथिक स्टोर से R37 medicine को ले सकते है या इसे ऑनलाइन Tata 1 mg या My upchaar से मंगवा सकते है |

डिस्क्लेमर – जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर प्रकार से प्रयाश  किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी thedkz.com की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है

Categorized in: