सेब के फायदे 20 | सेब खाने के फायदे और नुकसान | benifits of eating apple

आज बात करते है सेब की , बहुत से लोगो को सेब खाना बहुत पसंद होता है , और यह उनकी बहुत अच्छी आदत है सेब खाने से आपको बहुत फायदा होता है | लेकिन कुछ लोगो को सेब खाना बिलकुल भी पसंद नहीं होता , लेकिन अगर आपको सेब के फायदे पता चले तो आप सेब जरुर खाना शुरू कर देगे | आपको एक सेब रोज जरुर खाना चाहिए |

क्यकी सेब के अन्दर एंटीओक्सिडेंट , फाइबर , केल्शियम ,विटामिन्स ,और बहुत सारे पोषक तत्व पाए जाते है जो हमारे शरीर के लिए बहुत जायदा फायदेमंद होते है |

अगर हम आपसे सेब की बात करे तो सेब कई तरह के आते है सेब हरे रंग का भी आता है और पीले रंग का भी आता है और कश्मीर का सेब लाल रंग का आता है और कहा गया है की खाने के लिए कश्मीर का लाल सेब बहुत अच्छा होता है |

और लाल सेब खाना चाहिए | जो लाल सेब होता है इसमें कोई वेक्स नहीं होती इसका टेस्ट भी अच्छा होता है और इसको छिलके के साथ भी खाया जा सकता है |इसलिए आपको रोज सेब खाना ही चाहिए | जानते है सेब के फायदे –

सेब के फायदे 20  | सेब खाने के फायदे और नुकसान best

ये भी पढे

पपीता खाने के फायदे और नुकसान | side effects of eating papaya | benefit of eating papaya

केला खाने के फायदे और नुकसान | Banana eating benefits and side effects in hindi

1 . सेब के फायदे-benifits of apple

Contents

(i)हार्ट के लिए फायदेमंद सेब

(i)हार्ट के लिए फायदेमंद सेब

अगर हम सेब के फायदे की बात करे तो सबसे पहले यह हमारे हार्ट के लिए बहुत फायदेमंद होता है बहुत से लोगो को हार्ट प्रोब्लम होती है और वो लोग डॉक्टर पर जाते है

और यही सोचते है की एक बार यह हार्ट प्रोबलम ख़तम हो जाए और बहुत सी मेडिसिन खाते है , लेकिन अगर आप दिन में एक सेब भी खाते है तो हार्ट की प्रोब्लम से निजात पा सकते है | आप सेब रोज खाए तो आपको जयादा फायदा होगा |

(ii)वजन कम करता है सेब

वजन कम करता है सेब

वजन कम करने में भी सेब बहुत फायदेमंद होता है | सेब में बहुत सारा फाइबर होता है जो वजन कम करने के लिए बहुत फायदेमंद होता है अगर आप सेब रोज खाते है तो यह आपकी चर्बी को कम करता रहेगा और आपको चर्बी बढ़ने से होने वाली कई बीमारियों से छुटकारा मिलेगा इसके लिए भी आप  सेब खाए |

(iii)कब्ज की प्रोब्लम को दूर करता है सेब

कब्ज की प्रोब्लम बहुत बड़ी और बेकार होती है , इस प्रोब्लम में वजन भी कम हो जाता है , पाचन क्रिया भी अछे से काम नहीं करती | आप घंटो टॉयलेट में बैठते है इसे पाइल्स की प्रोब्लम हो सकती है |

कब्ज क्या है

अगर 24 घंटो में आपका पेट एक बार भी साफ़ नहीं होता तो इसका मतलब है की आपको कब्ज है , या फिर कुछ लोग दिन में तीन या चार बार टॉयलेट जाते है फिर उनका पेट साफ़ होता है इसको भी कब्ज ही कहा जाता है , कुछ लोग दो या तीन दिन में टॉयलेट जाते है और वो सोचते है की वो नार्मल है , इसको भी कब्ज ही माना जाएगा |

तो ये सब कब्ज के लक्ष्ण ही होते है , और कब्ज के कारण आपको बहुत सी बिमारिय हो सकती है जेसे पाइल्स , केंसर , पाचन क्रिया में प्रोब्लम आदि | इसलिए अगर आप कब्ज से निजात पाना चाहते है तो रोज एक सेब जरुर खाए खाली पेट | आपकी कब्ज की समस्या दूर हो जायेगी |

(iv)दांतों के लिए फायदेमंद सेब

सेब दांतों के लिए बहुत फायदेमंद होता है , जिनके मुह से बदबू आती है , या दांतों में केवटी , या मसूड़े से खून आता है , उन सबको सेब जरुर खाना चाहिए | सेब दांतों को मजबूत बनाता है |दांतों में पीलापन रहना , ठंडी चीजो के खाने से दांत में दर्द होना इन सब प्रोब्लम से छुटकारा पाया जा सकता है आसानी से सिर्फ रोज एक सेब खाए |

(v)हडियो को मजबूत करता है सेब

सेब खाने से हडियाँ भी मजबूत होती है| जब भी हडियों की बात करते है तो सब लोग यही कहते है की दूध पियो इसे हडियाँ मजबूत होती है लेकिन बहुत से बचे या बड़े लोगो को भी दूध पीना अच्छा नहीं लगता , उनको दूध पिने से उलटी जेसा महसूस होता है , दूध में केल्शियम होता है जो हडियाँ मजबूत करता है , सेब में भी केल्शियम होता है

अगर आप दिन में एक सेब भी खाते है तो यह आपके हडियाँ के लिए फायदेमंद होता है| और हडियाँ मजबूत करता है | बचो के लिए तो सेब और भी जायदा फायदेमंद होता है | जिन लोगो को हडी में फ्रक्चर आ जाता है उन लोगो के लिए भी सेब बहुत फायदेमंद होता है उनकी हडी को जोड़ने और मजबूत करने में काम करता है |

(vi)दमा की बिमारी को दूर करता है सेब

जो लोग दमा के मरीज होते है उनके लिए सेब खाना बहुत अच्छा होता है , जो लोग दमा के मरीज होते है जिनको अटैक आता है दमा का अगर वह रोज सेब खाते है तो उनका दमा का अटैक कम हो जाएगा और ठीक होता चला जायेगा |

क्युकी सेब फेफड़ो में सुजन नहीं आने देता फेफड़ो में जमा कफ को बाहर निकाल देता है जिसे फेफड़ो की इम्युंस पॉवर बढती जाती है और अस्थमा की प्रोब्लम ख़त्म हो जाती है | इसलिए रोज एक सेब जरुर खाए |

(vii)तवचा के लिए फायदेमंद

सेब तवचा के लिए बहुत फायदेमंद होता है फिर चाहे आप इसे लगाने के रूप में इस्तेमाल कर सकते हो या फिर खाने के रूप में इस्तेमाल करो यह दोनों ही तरीको से तवचा को निखारता है इसमें बहुत सारे विटामिन होते है जो त्वचा के लिए फायदेमंद है |

सेब सिर्फ तवचा को निखारता ही नही बल्कि तवचा जितने दाग होते है या पिंपल , ब्लैक दाग उन सभी को ख़त्म कर देता है और तवचा को साफ़ रखता है |रोज एक सेब का सेवन करेगे तो आपकी त्वचा को बहुत लाभ होगा |

(viii)डायबटीज के लिए फायदेमंद है सेब

जिन लोगो को डायबटीज है उन लोगो को बहुत फायदा होता है सेब खाने से , अगर आपको डायबटीज है तो आप सेब का सेवन जरुर करे | दुनिया में 50 % लोग ऐसे है जो डायबटीज से परेशान है और इनको अलग अलग तरह की डायबटीज है ,  अगर आपकी डायबटीज जायदा बढ़ जाती है तो आप इन्सिलिन लेना पसंद करते है

और अगर आप दो टाइम का लंच करते है तो आप इन्सुलिन लेते है , लेकिन अगर आप दिन में सेब का सेवन करते है तो आपको डायबटीज से छुटकारा मिल सकता है या फिर जो लोग डायबटीज की दूसरी स्टेज पर पहुच जाते है अगर वो भी एक सेब का सेवन दिन में करते है तो उनकी डायबटीज रुक जाती है आगे नहीं बढती | इसलिए दिन में एक सेब जरुर खाए |

(xi)अलजाइमर से छुटकारा देता है सेब

अलजाइमर से छुटकारा देता है सेब

अलजाइमर एक बहुत खतरनाक बिमारी होती है जो दिमाग से जुडी हुई होती है | इस बिमारी में आपके सर में बहुत दर्द होता है और आप बहुत से दवाईया खाते है | लेकिन स्टडी से यह बात साबित हो चुकी है की अगर एक सेब दिन में खाया जाए तो इस बीमारी से छुटकारा पाया जा सकता है |

(i)अल्जाइमर क्या है

अल्जाइमर बिमारी दिमाग से जुडी हुई होती है यह एक भूलने की बिमारी होती है जो धीरे धीरे बहुत बड़ी बन जाती है , आपने देखा होगा की जो बुजुर्ग लोग होते है वो कुछ न कुछ भूलते रहते है , वो एक दिन पहले की घटना भी भूल जाते है

लेकिन आजकल यह बिमारी 40 या 45 साल की उम्र में भी होती जा रही है , इसमें आप एक दिन पहले की बात तक याद नही रख पाते है | इस बिमारी में नाम बार बार भूल जाते है कोई बात समझने या समझाने में दिकत आ जाती है एक ही बात बार बार पूछते है |

अल्जाइमर एक तरह की भूलने की बिमारी होती है और उम्र बढ़ने के साथ साथ यह बिमारी बढती रहती है |

(ii)अल्जाइमर बिमारी के लक्ष्ण

(i) याद्दाश कमजोर हो जाना | (ii) किसी चीज का निर्णय ना ले पाना | (iii) शारीरिक तालमेल की समस्या (iv) समय ,तारिक , जगह का भूलना (v) बोलने में परेशानी होना (vi) वयवहार में बदलाव (vii) भ्रम में रहना (viii) पागलपन की स्तिथि |

(iii)अल्जाइमर का उपाए

अल्जाइमर से बचने के लिए आप एक सेब रोज खाए और साथ में अच्छी नींद ले , व्यायाम करे , किताबे पढ़े , और दिमाग को तेज करने वाले खाद्य प्रधार्त खाए , किसी भी तरह की टेंसन ना ले , जायदा किसी चीज के बारे में ना सोचे अगर आप एसा करते है तो इस बिमारी को कम किया जा सकता है | और धीरे धीरे ख़त्म भी हो सकती है |

(x)पथरी के दर्द को कम करता है सेब

जिन लोगो को पथरी है वो लोग सेब का सेवन जरुर करे आजकल 100 % में से  40 % लोगो को अलग अलग जगह में पथरी है और वो इसे बहुत परेशान रहते है , क्युकी पथरी का दर्द जायदा होता है , पथरी पित की थेली में , किडनी में , पेशाब नली में आदि जगह पर होती है |

अगर आप एक सेब दिन में खाते है या सेब खा नहीं सकते तो सेब का जूस पिते है तो इसे पथरी के दर्द से छुटकारा पाया जा सकता है | इसलिए एक सेब रोज जरुर खाए | पथरी के दर्द से छुटकारा मिलेगा |

(xi)रुखी तवचा में फायदेमंद है सेब

रुखी तवचा में फायदेमंद है सेब

जिन लोगो की तवचा रुखी होती है , सुखी सुखी लगती है उन लोगो के लिए सेब बहुत फायदेमंद होती है | अगर आप सेब का रस निकाल ले और उस रस को रुई के माध्यम से तवचा पर लगाये और शरीर पर लागाये और आधा घंटा छोड़ दे और फिर हलके गुनगुने पानी से धो ले उनकी तवचा से सम्बंधित सभी प्रोब्लम ख़त्म हो जाती है और तवचा clean रहती है |

(xii)शुक्राणुओ की कमी पूरी करता है सेब

अगर रोज सेब खाया जाए तो शुक्राणुओ की कमी पूरी की जा सकती है | आपने देखा होगा की आजकल पुरषों को शुक्राणुओ की कमी होती है अगर आप दूध और सेब का रोज सुबहे और शाम को सेवन करते है तो शुक्राणुओ की कमी पूरी हो जायेगी |

(xiii)केलेस्ट्रोल के लिए फायदेमंद

आपने देखा ही होगा कई लोगो का केलेस्ट्रोल बढ़ा रहता है जिनका LDL , VLDL , और सीरम केलेस्ट्रोल बढ़ा रहता है उन लोगो का सेब खाने से बहुत फायदा होता है सेब खाने से उनका बेड केलेस्ट्रोल कम हो जाता है और गुड केलेस्ट्रोल(HDL) बढ़ जाता है | जिसके कारण रोगी हमेशा सवस्थ रहता है और निरोग हो जाता है |

(xiv) केंसर के रोगी के लिए सेब फायदेमंद

जिसको केंसर होता है उसके लिए सेब बहुत फायदेमंद होता है | शरीर में किसी भी जगह केंसर हो सेब खाने से केंसर को कम व् रोका जा सकता है | सेब केंसर को धीरे धीरे रोक्देता है और कम कर देता है | इसलिए रोज सेब का सेवन अवश्य करे |

(xv)सुजन को कम करता है सेब

सुजन की कमी यह बहुत बड़ी समस्या है इस प्रोबलम में शरीर में सुजन आ जाती है , अगर आप सेब रोज खाते है तो यह आपकी सुजन को कम कर देता है फिर वो सुजन चाहे किसी भी वजह से हो सेब खाने से सभी तरह की सुजन कम हो जाती है |इसलिए एक सेब जरुर खाए |

2 . सेब खाने का सही तरीका

अब बात करते है सेब खाने के तरीके के बारे में , सेब खाने के तरीके के के बारे में कहे तो आप सेब छिलके के साथ खा सकते है | अगर आप सेब काटकर खाते है तो सेब को साथ ही खा ले काटकर ना छोड़े क्युकी सेब काटने के बाद उसके ऊपर पीलापन आ जाता है जो हमें नुक्सान पंहुचा सकता है | अगर सेब को काटकर कुछ देर बाद खाते है तो उसके पीलेपन को काटकर खाए |

सेब को खाने के बाद कम से कम 1 घंटे बाद ही खाना खाए | सेब और खाने के बीच में 1 घंटे का गैप जरुर होना चाहिए फिर चाहे वो नास्ता हो लंच या डिनर हो गेप जरुर रखे | सेब हमेशा फ्रेश और धो कर ही खाए | अगर आप पेकेट बंद सेब लेकर आये तो वो भी धो कर खाए |

3 . सेब खाने का सही समय

आप कोई भी फल खा लो अगर आपको उस फल का खाने का सही समय नहीं पता तो आपको वह फल लाभ नहीं देगा या गलत समय पे  खाने से आपको उस फल से नुक्सान भी हो सकता है | अगर आप फल सही समय पर खाते है तो बहुत फायदे होगे | इसलिए हम आपको सेब खाने का सही समय बतायेगे |

सेब खाने के सही टाइम के बारे में बात करे तो आप सुबहे खाली पेट सेब ना खाए ,  सुबहे का नास्ता करने के आधे घंटे के बाद सेब का सेवन करे | आप सुबहे , दोपहर , शाम  इन तीनो टाइम में सेब का सेवन कर सकते है , लेकिन सेब खाने और नास्ता करने के बीच आधा या एक घंटे का गेप रखना |

रात को सोने से पहले सेब ना खाए , सिर्फ सेब ही नहीं और भी फल आप रात को खाकर मत सोना कभी भी | और सेब को छिलके के साथ अछे से चबा कर खाए |

4 . प्रेगनेंसी में सेब के फायदे

प्रेगनेंसी में सेब के फायदे

बहुत सी महिलाए प्रेगनेंसी पे पूछती है की हमें सेब खाना चाहिए या नहीं | आपको प्रेगनेंसी में सेब जरुर खाना चाहिए क्युकी सेब में बहुत सारे विटामिन , एन्टीओक्सिडेंट , डाएट्री फाइबर , और विटामिन B , C होता है और कुछ मात्रा में A , E , और K होता है | सेब में बहुत जायदा आयन होने की वजह से यह खून की कमी को पूरा करता है |

सेब में बहुत जायदा केल्शियम होने के कारण यह बेबी के बोर्न और डेवलपमेंट में बहुत मदत करता है बेबी की ग्रोथ अच्छी होती है | केल्शियम की वजह से आपको जो बोर्न पेन होता है वो भी कम हो जाता है |

(i) नींद में फायदेमंद है सेब (प्रेगनेंसी)

बहुत से महिलाओं को प्रेगनेंसी के दोरान नींद नहीं आती और वो अच्छे से सो नहीं पाती , लेकिन अगर आप रोज एक या दो सेब का सेवंन करती हो तो आपकी नींद की समस्या दूर हो जायेगी , और आपको अच्छी नींद आएगी |

(ii) खून की कमी दूर करता है सेब (प्रेगनेंसी)

प्रेगनेंसी के दोरान महिलाओं को बहुत जायदा खून की कमी होती है , जिसकी वजह से उनको बहुत तकलीफ का सामना करना पड़ता है , या फिर खून की कमी के कारण अनीमिया की समस्या हो जाती है | इसलिए प्रेगनेंसी में महिला को सेब का सेवन करना चाहिए क्युकी सेब में आयरन होता है और आयरन खून की कमी को पूरा करता है |

(iii) बीमारियों से बचाव (प्रेगनेंसी)

सेब बहुत सी बीमारियों से बचाव करता है प्रेगनेंसी के दोरान महिला की , क्युकी सेब में बहुत मैग्नेशियम , पालिक एसेड और फाइबर होता है | जिसे आपको इन्फेक्शन और छोटी मोटी बिमारिय नहीं होती प्रेगनेंसी के दोरान इसलिए सेब जरुर खाए प्रेगनेंसी में |

(iv) थकावट दूर करता है सेब (प्रेगनेंसी)

महिला प्रेगनेंसी के दोरान बहुत थकावट महसूस करती है उनका शरीर थका थका लगता है , इसलिए अगर प्रेगनेंसी में महिला सेब का सेवन करती है तो उसको जल्दी ताकत मिलती है और वो थका थका महसूस नहीं करती है |

प्रेगनेंसी में सेब कब खाए

प्रेगनेंसी में सुबहे के टाइम सेब खाना अच्छा होता है लेकिन नास्ता करने के 1 घटा बाद आप सेब खाए , और दोपहर को भी आप सेब खा सकते है लेकिन लंच करने के 1 घंटा पहले या बाद में ही सेब खाए | और शाम को आपको सेब नहीं खाना है | आपको सेब सिर्फ सुबहे या दोपहर को खाने है वो भी नास्ता करने के 1 घंटे बाद | या पहले पर आप सुबहे खाली पेट सेब का सेवन ना करे नास्ता करने के बाद ही सेब खाए |

प्रेगनेंसी में कितने सेब  खाने चाहिए दिन में

आपको प्रेगनेंसी के दोरान दिन में मीडियम साइज़ के दो सेब खा सकते है वो भी टाइम के अनुसार | सेब फ्रेश होना चाहिए | और एक बार सेब काट ले तो तुरंत खा ले काटने के थोड़ी देर बाद ना खाए वह आपको नुक्सान दे सकता है |

प्रेगनेंसी में जायदा सेब खाने के साइड इफ़ेक्ट

बहुत से महिलाए पूछती है की जायदा सेब खाने से बेबी पर कोई साइड इफ़ेक्ट तो नहीं पड़ेगा , हां अगर आप जायदा सेब खाते है तो इसका नुक्सान भी हो सकता है , क्युकी कोई भी चीज आप जायदा खा लेते हो तो उसका साइड इफ़ेक्ट होना आम बात है |

अगर आप सेब जयादा खा लेते हो तो उसमे कार्बोहाईड्रेटस , और सुगर होता है उसकी वजह से आपका मेटाबोलिज़म स्लो हो जाता है जिसकी वजह से गेस की प्रोब्लम हो सकती है | सेब में जो ओर्गानिक एसेड होता है वो आपके स्टमक के एसेड को बढ़ा सकता है नार्मल से जायदा जिसकी वजह से एसिडिटी की प्रोब्लम हो सकती है इसलिए जायदा सेब ना खाए एक या दो सेब खाए |

क्या प्रेगनेंसी में हरा सेब खाना चाहिए या नहीं

फिर एक सवाल और होता है की प्रेगनेंसी में हरा सेब खाना चाहिए या नहीं , आप हरा सेब भी प्रेगनेंसी में खा सकते हो इनमे जायदा डिफरेंस नहीं होता है हरे सेब की स्कीन थोड़ी थीक होती है और यह सेब थोड़े खटे होते है हरे सेब में सोलिबल फाइबर की मात्रा बहुत होती है जिसकी वजह से आपका पाचन सही रहता है बेड केलेस्टोर्ल कम हो जाता है और ब्लड सुगर भी बराबर बनी रहती है |

अगर आपके पास सुध सेब है जो सीधा पेड़ पर लगे हो उसको आप खा सकते हो लेकिन अगर आप सेब मार्किट से लेकर आते है तो उसको आप अच्छी तरह क्लीन करो और सेब के सीस्ज को आपको नहीं खाना है | सेब को छिलके के साथ खाए क्युकी सेब के छिलके में बहुत प्रोटीन होता है |

5 .सेब के मुरबे के फायदे

अब जानते है की सेब के मुरबे के क्या क्या फायदे होते है जितना फायदा हमें सेब खाने से होता है उतना ही फायदा हमें सेब का मुरबा खाने से भी होता है सेब का मुरबा

(i) पेट की बीमारियों को ख़त्म करता है सेब का मुरबा

आज के टाइम में हमारा खाना एसा हो गया है की जिनको खाने से हमारा पेट खराब हो जाता है | और कई चीजे हम एसी खाते है जो अभी नहीं लेकिन कुछ समय बाद असर करती है जेसे आजकल फ़ास्ट फ़ूड जायदा खाया जाता है यह धीरे धीरे हमारे शरीर पर बुरा प्रभाव डालती है अगर सेब का मुरबा खाया जाए तो यह पेट की पाचन क्रिया को सही रखता है |

(ii) गुर्दे की पथरी को ख़त्म करता है

सेब का मुरबा गुर्दे की पथरी को ख़तम करने के लिए बोहत अच्छा होता है | रोज अगर सेब का मुरबा खाया जाए तो गुर्दे की पथरी को रोका या ख़त्म किया जा सकता है |

(iii) लूस मोशन में है फायदेमंद

सेब का मुरबा लूस मोशन को ख़तम करता है इसके साथ साथ यह कब्ज को भी ख़तम करता है इसमें फाइबर होने की वजह से इसे कब्ज नहीं होती , अगर बचो को लूस मोशन हो जाए तो  सेब को पीसकर देने से लूस मोशन ख़तम हो जाते है इसलिए सेब का मुरबा सेहत के लिए फायदेमंद होता है |

सेब का मुरबा बनाने का तरीका

सेब का मुरबा बनाने का तरीका

सेब का मुरबा बनाने के लिए आपको छोटे सेब ले और ध्यान रखे की सेब अच्छे हो और सेब पर कोई दाग ना हो |

step 1

सबसे पहले सेब को धो ले अच्छे से फिर सेब को छिलना है | सेब को छिलने के बाद आपको सेब को उबालना है , एक बर्तन ले उसमे इतना पानी डाले की सेब उसमे अच्छी तरीके से उबल जाए | और सिर्फ इतना उबालना है की सेब नर्म हो जाए |

step 2

सेब उबल जाने के बाद आपको चासनी बनानी है चासनी बनाने के लिए आपको 1 kg चीनी लेनी है और तीन कप पानी चीनी में डाल लेना है पानी आप व्ही ले सकते है जिसे सेब उबाले है लेकिन चासनी के लिए 3 कप पानी लेना है | और चीनी और पानी को उबालना है  तब तक उबालना है की पानी में चीनी घुल नहीं जाती |

step 3

चीनी पानी में घुलने के बाद  आपको उसमे उबले हुए सेब डालने है और उसको तब तक उबालना है जब तक की चासनी गाढ़ी न हो जाए | चासनी को चेक करने के लिए आप उबलते हुए चीनी के पानी को थोडा सा बाहर निकाल लेना है दुसरे बर्तन में चीनी पानी के ठंडा होने के बाद उसको छू कर चेक करना है की चासनी कितनी थिक हुई है  , अगर चासनी ठीक है तो गेस बंद कर दे और उसे ठंडा होने दे सेब को उसमे ही दुबे रहने दे |

step 4

उसके बाद आपको मुरबे में नीबू का रस डालना है|आपको  दो निम्बू का रस डालना है | उसके बाद उसमे आधा चमच इलाईची पाउडर डालना है |और उसके बाद 2 दिन के लिए रख देना है | और दो दिन बाद आपको मुरबा चेक करना है |

मुरबा बनाते समय एक बात का ध्यान रखे की सेब जायदा ना उबल जाए और चीनी की चासनी अच्छे से एक तार की बन जाए |

6 . सेब के minerals, और vitamins

1 . minerals                                                                   

107 MG (k)           —            potasium 

11 ,MG (p)            —             phosphorus

6 MG (ca)             —             calcium

5MG (mg)            —             magnesium

1 MG (na)             —             sodium 

0.12 Mg (fe)         —            1 ron

0.04 MG (zn)      —             zinc  

2 . vitamins 

4.6 MG  (c)                —             ascorbic acid 

0.18 MG (e)               —            alpha tocopherol 

0.091 MG (B3)          —             niacin

0.041 MG (B6)          —            

0.026 MG (B2)          —             riboflavin

0.017 MG (B1)           —              thiamine 

3.4 UG (A)                  —               

3 UG (B9)                   —               folate 

2.2 UG (K)                 —               phylloquinone

13.81 G                       —                carbohydrates

0.17 G                        —                 fat 

0.26                           —                  protein 

 

Disclaimer- हमारी टीम ने ये आर्टिकल को बहुत ही रिसर्च कर के लिखा है पर फिर भी हम आपको यही कहेगे की आप कुछ भी करे पर उससे पहले डॉक्टर की सलाह से करे

sabrun

मेरा नाम सबरून है मैंने MBA HOME SCIENCE से किया है मैं WOMAN को एक अच्छी लाइफ और अच्छी जानकारी देना चाहती हु जिससे वो आगे बड़े मैं डेली हेल्थ प्रॉब्लम और दैनिक जीवन मैं अपना हेल्थ का ख्याल कैसे रखे इसके बारे मैं जानकरी देती हु

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *