उलटी आने पर अपनाए ये घरेलू उपाय और कुछ कारण

उलटी आने पर अपनाए ये घरेलू उपाय जिसे आपको आराम मिलता है , हमारे शरीर को जिस चीज की आवश्यकता नहीं होती है या फिर कोई चीज हमारे शरीर में अधिक मात्रा में होती है तो उसे शरीर मुहं के द्वारा बाहर निकाल देता है उसे ही हम उलटी आना कहते है और इंग्लिश में इसे vommiting कहते है

उलटी की समस्या आम होती है सभी को एक ना एक बार उलटी होती है जब हमारे शरीर को लगता है किसी चीज की शरीर को जरूरत नहीं है तो शरीर उसे बाहर निकाल देता है और यह सिर्फ एक बार होता है परंतु अगर किसी व्यक्ति को उलटी की समस्या बार बार होती है तो यह समस्या की बात हो सकती है

उलटी होने की समस्या अलग अलग प्रकार से होती है अधिकतर लोगो को सफर में उलटी होती है कुछ लोगो को ठण्ड लगने पर उलटी होती है ठण्ड में होने वाली उलटी नोरोवायरस के कारण होती है नोरोवायरस एक तरह का विषाणु होता है जो हमारे शरीर में पेट में और आंतो को इन्फेक्ट करता है

जिसे मरीज को उलटी और दस्त की समस्या हो जाती है और उसके बाद शरीर में अधिक मात्रा में पानी की कमी हो जाती है यह वायरस ठण्ड में जादा फेलता है क्युकी यह कम तापमान में रहते है और यह वायरस एक से दुसरे व्यक्ति से आसानी से चले जाते है जिसे उलटी होती है

इसके अलावा यह वायरस इसलिए भी ठण्ड में जादा फेलता है की ठण्ड में लोग बहुत कम हाथ धोते है और कम नहाते है जिसे नोरोवायरस फेलता है उलटी होने के आपको बहुत से अलग अलग कारण देखने को मिल जाते है आइए जानते है की उलटी के क्या क्या कारण होते है और कुछ घरेलू उपाय

हाथ पैरों में कमजोरी झुनझुनी का एहसास होना है किस बिमारी के लक्ष्ण | पैर में झनझनाहट के घरेलू उपचार कारण

उलटी आने पर अपनाए ये घरेलू उपाय

उलटी की समस्या के लिए बहुत से घरेलू उपाय होते है जिसे आपको आराम मिल सकता है जानिए उन घरेलू उपाय के बारे में

.   तुलसी है फायदेमंद उलटी रोकने के लिए

तुलसी उलटी को रोकने के लिए बहुत अधिक फायदेमंद होती है तुलसी के अन्दर बहुत से पोषक तत्व पाए जाते है जो हमारे पेट के पाचनं के लिए बहुत लाभकारी होते है तुलसी के पतों में विटामिन और खनिज तत्व पाए जाते है तुलसी के अन्दर विटामिन सी , केल्शियम , जिंक , आयरन पाया जाता है इसके अलावा तुलसी में सेट्रिक एसिड पाया जाता है जो फायदेमंद होता है

तुलसी से उपचार 

( i )   आपको थोड़ी मात्रा में तुलसी के पतों का रस लेना है और उतनी ही मात्रा में सहद को ले और दोनों को बराबर मात्रा में मिला ले और उसके बाद इसका सेवन करे इसे आपको उलटी से राहत मिलती है

महिलाओं में कमर दर्द के घरेलू उपचार

.   निम्बू और पोदीना है फायदेमंद उलटी रोकने के लिए

निम्बू का रस और पोदीने की पति का रस उलटी को रोकने के लिए बहुत अधिक फायदेमंद होते है पोदीने में मेथोल , प्रोटीन , कार्बोहाईड्रेट्स , विटामिन ए , कोपर , आयरन पाया जाता है पोदीने के सेवन से उलटी को आसानी से रोका जा सकता है और निम्बू के अन्दर विटामिन सी की अच्छी मात्रा पाई जाती है इसके अलावा इसमें रिबोफ्लेविन , नियासिन , विटामिन बी 6 फोलेट पाया जाता है और यह कब्ज की समस्या से राहत मिलती है

पोदीने से उपचार 

( i )   आपको एक चमच पोदीने की पति का जूस लेना है और एक ही चमच निम्बू का रस और एक चमच सहद का रस आपस में मिला लेना है और दिन में तीन बार सेवन करना है इसे आपको उलटी की समस्या से निजात मिलेगा

.   मुलेठी है फायदेमंद उलटी रोकने के लिए

मुलेठी उलटी को रोकने के लिए बहुत लाभकारी होती है इसका इस्तेमाल और भी कई बीमारियों में किया जाता है और कई बीमारियों को मुलेठी के इस्तेमाल से ठीक किया जाता है मुलेठी में प्रोटीन , एंटीबायोटिक , एंटीओक्सिडेंट गुण पाए जाते है जो उलटी को रोकते है इसमें केल्शियम की अच्छी मात्रा पाई जाती है इसके अलावा सर्दी खांसी को ठीक करने में भी मुलेठी फायदेमंद है

मुलेठी से उपचार 

( i )   मुलेठी का पाउडर उलटी को रोकने में फायदेमंद होता है आपको मुलेठी का पाउडर दूध में मिलाकार उसका सेवन करना है इसे उलटी जल्दी रूकती है

गले की आवाज बेठने के घरेलू उपाय कारण लक्ष्ण

.   चन्दन और आंवला है फायदेमंद उलटी रोकने के लिए

चन्दन और आंवला उलटी रोकने के लिए फायदेमंद होता है चन्दन का पाउडर बहुत फायदेमंद होता है चन्दन एक तरह की सुगन्धित लकड़ी होती है जिसका इस्तेमाल बहुत सी बिमारी में किया जाता है आंवले में भरपूर मात्रा में विटामिन सी पाया जाता है इसके अलावा केल्शियम , आयरन , मैग्नेशियम , फाइबर पाया जाता है

चन्दन और आंवला से उपचार 

( i )   आपको चन्दन का पाउडर लेना है और आंवले का रस लेना है और उसको सहद के साथ मिलाकर उसका सेवन करना है इसे आपकी उलटी की समस्या में राहत मिलती है

.   लॉन्ग है फायदेमंद उलटी रोकने के लिए

लॉन्ग में बहुत से पोषक तत्व पाए जाते है जो हमारे पेट के लिए फायदेमंद होता है लॉन्ग में भरपूर मात्रा में फाइबर पाया जाता है लॉन्ग में विटामिन बी 1 , बी 2 , बी 4 , बी 6 ,और बीटा केरोटिन जैसे तत्व पाए जाते है इसके अलावा लॉन्ग में कार्बोहाईड्रेट्स पाया जाता है लॉन्ग से पेट के कीड़े खत्म होते है

लॉन्ग से उपचार 

( i )   आपको चार या पांच लॉन्ग को पिस लेना है उसके बाद आपको पिसे हुए लॉन्ग को पानी में डालकर उबाल लेना है और जब पानी जलकर आधा रह जाएगा तो पानी को छान लेना है और उसमे थोड़ी चीनी मिला ले और सेवन करे इसे उलटी रुक जाती है

छाती में दर्द होना घरेलू उपाय और कुछ बचाव

.   प्याज का रस है फायदेमंद उलटी को रोकने के लिए

प्याज का रस हमारे शरीर के लिए फायदेमंद होता है एक प्याज में आपको 44 केलोरी मिल जाती है इसमें विटामिन , खनिज , फाइबर पाया जाता है प्याज में बी 9 फोलेट , और बी 6 पाईरेडॉक्सिन पाया जाता है जो शरीर के लिए पाचन के लिए फायदेमंद होता है इसलिए उलटी आने पर प्याज के रस का सेवन करे

प्याज के रस से उपचार 

( i )   आपको प्याज का रस लेना है और उसमे एक चमच पिसा हुआ अदरक मिला लेना है उसके बाद इस मिश्रण को लेते रहे इसे उलटी की समस्या नहीं होगी

.   अनार का रस है फायदेमंद उलटी रोकने के लिए

अनार हमारी सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होता है जब हम बीमार होते है तो सभी डॉक्टर हमें अनार का रस पिने की सलाह देते है जिसे हमे जल्दी आराम मिलेगा अनार में फाइबर विटामिन के , सी , बी , पोटाशियम , जिंक , ओमेगा 6 फेटि एसिड जैसे कई तत्व पाए जाते है अनार कई बिमारी को दूर करता है

अनार के रस से उपचार 

( i )   आपको अनार का रस लेना है और उसमे सहद को मिला लेना है और इस मिश्रण का सेवन करना है इसके सेवन से आपको जल्द ही उलटी से छुटकारा मिलता है

पेट में कीड़े होने के लक्षण और उपाय,नुकसान ,कारण ,pet me kide ki medicine | पेट के कीड़े की घरेलू दवा

.   नमक और पानी है फायदेमंद उलटी रोकने के लिए

नमक पानी हमारे शरीर के लिए लाभकारी होता है जब उलटी की समस्या होती है पानी हमारे शरीर के लिए बहुत आवश्यक होता है हमारा शरीर 70 % पानी का बना होता है और जब किसी व्यक्ति को उलटी होती है तो उसमे पानी की कमी हो जाती है एसे में पानी का सेवन अच्छा होता है पानी हमारे शरीर में उर्जा प्रदान करता है

नमक पानी से उपचार 

( i )   आपको एक गिलास गुनगुना पानी लेना है और उसमे बहुत कम मात्रा में नमक मिला लेना है और उस पानी का सेवन करना है इसे उलटी की समस्या जल्दी नहीं होगी और उलटी रुक जाएगी

उलटी आने के कारण 

उलटी आने के बहुत से कारण होते है जो इस प्रकार है

.   घी वाले प्रदार्थ का अत्यधिक सेवन करना

.   अपच की समस्या होना

.   किसी बात को लेकर घिन आना

.   कोई गन्दी वस्तु को देखना

.   समय पर भोजन ना करना

.   एसे प्रदार्थ का सेवन जिनकी आदत ना हो

.   दही का सेवन अधिक मात्रा में करना

.   प्रेगनेंसी के दोरान

.   पेट में कीड़े होना

.   अल्सर की समस्या होना

.   दिमाग से जुडी समस्या होना

.   अत्यधिक यात्रा करना

सिर दर्द के घरेलू उपाय,कारण,सिर दर्द के प्रकार,सिर दर्द टिक करने का तरीका | instant home remedies for headache in hindi

ध्यान देने वाली कुछ बाते 

.   उलटी की कोई भी दवा खाना खाने के बाद ना खाए , खाना खाने से आधे घंटे पहले ही उलटी की दवा का सेवन करे

.   अगर आपको एक या दो बार उलटी हो भी जाती है तो एकदम से दवा ना खाए क्युकी हमारा शरीर उलटी में उसी चीज को बाहर निकाल देता है जिसकी हमें जरूरत नहीं होती है उलटी होना एक प्राक्रतिक क्रिया है जो खुद ही कुछ समय बाद सही हो जाती है

.   प्रेगनेंसी के दोरान उलटी हो जाती है जिसे शरीर से खराब तत्व बाहर निकल जाते है इसलिए प्रेगनेंसी के दोरान उलटी को बंद करने की दवाईया ना ले अगर उलटी है समस्या जादा है तो डॉक्टर की सलाह के अनुसार दवाइयों का प्रयोग करे

.   अगर आपने कुछ एसी वस्तु का सेवन कर लिया है जो आपके शरीर को जादा नुक्सान पंहुचा सकती है तो आप तुरंत उलटी वाली दवाई का सेवन करे

related topic

बुखार का घरेलू उपचार और लक्ष्ण

डेंगू बुखार के कारण, लक्षण एवं रोकथाम | symptoms of dengue fever in hindi -dengue symptoms in hindi

लंग्स इन्फेक्शन में क्या खाना चाहिए और क्यों खाना चाहिए

डिस्क्लेमर – जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर प्रकार से प्रयाश  किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी thedkz.com  की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है

Leave a Comment