पेट में पैदा होने वाले कीड़े को कृमि या केंचुए , कहाँ जाता है और अगर आयुर्वेद की बात करे तो भी पेट में कीड़ो को कृमि ही कहाँ जाता है , और आधुनिक शासत्र के अनुसार पेट में होने वाले कीड़े को worms कहते है

पेट में कीड़ो का हो जाना कोई बड़ी बिमारी नहीं है यह आम बात है अधिकतर लोगो को पेट में कीड़े होने की समस्या हो ही जाती है पेट में कीड़े का होना आपकी गलत आदत और लापरवाही भी होती है जिसे पेट में कीड़े होते है

पेट में कीड़े का एकदम से आपको पता नहीं चल पाता है धीरे धीरे जब यह कीड़े पेट में परेशानी उत्पन करते है तो आपको बहुत से लक्ष्ण देखने को मिलते है जिसे आपको पता चलता है की पेट में कीड़े है

पेट में कीड़े होने की समस्या सभी को हो जाती है फिर चाहे वह कोई बचा हो या कोई किशोर हो सभी के पेट में कीड़े होने की समस्या हो जाती है बचे जादातर मिटी खाते है या मिटी वाले हाथो से खाना खाते है

जिसके कारण पेट में कीड़े होते है , पेट में कीड़े का होना हमारे शरीर के लिए बहुत जादा नुक्सान दायक होता है क्युकी पेट में कीड़ो के कारण हमें भूख ना लगने की समस्या साथ ही वजन कम होने की समस्या उत्पन होती है

पेट में कीड़े का होना आम बात जरुर होती है परन्तु अगर समय के अनुसार पेट में होने वाले कीड़ो पर ध्यान न दिया जाए तो यह पेट के अन्दर जख्म पैदा कर देते है जिसके कारण हमें बहुत सी समस्या उत्पन हो जाती है

ये भी पढ़ेहर्निया रोग क्या है कारण, प्रकार, लक्ष्ण, इलाज ,सावधानियाँ 

पेट में कीड़ो का होना क्या है 

जब बार बार बुखार आना , भूख ना लगना , या बहुत जादा बुख लगना पेट में दर्द होना , शरीर में कमजोरी होना , गुदा भाग में खुजली होना आदि जेसी समस्या होने का मतलब है पेट में कीड़े है (और पढ़े –पेट दर्द का घरेलू उपचार ,कारण,पेट दर्द के प्रकार,पेट दर्द की समस्या,इलाज का तरिका )

अगर हम पेट में होने वाले कीड़ो के प्रकार के बारे में बात करे तो यह आयुर्वेद के अनुसार 20 प्रकार के होते है और अगर आधुनिक शासत्र की बात करे तो मुख्या चार प्रकार के होते है

पेट में होने वाले कीड़े हमारे पेट में घाव उत्पन कर देते है , जैसा की हमने आपको कहाँ की लापरवाही के कारण पेट में कीड़े उत्पन हो जाते है जब हम अछि जीवन शेली नहीं रखते है

या फिर जब हम खराब खाना खाते है या बहुत जादा बाहर का जंक फ़ूड खाने लगते है तो पेट में कीड़े होने की समस्या उत्पन होती है बहुत से लोगो की बिना हाथ धोए खाना खाने की आदत होती है

जिसके कारण हाथ में लगे कीटाणु जो हमें नजर भी नहीं आते है वह खाने के साथ पेट में जाते है और जिसके कारण पेट में कीड़े उत्पन हो जाते है और हमें कमजोर बनाते है

पेट में कीड़े होने कारण 

पेट में कीड़े होने के बहुत से कारण होते है जो आपको निचे देखने को मिल जाएगे पेट मी कीड़े होने के कारण इस प्रकार है –

.   अपच की समस्या होने के बाद भी बार बार खाना

.   दूध दही से बने प्रदार्थ का सेवन बार बार करना

.   पचने में भारी प्रदार्थ का सेवन करना

.   खाना खाने के तुरंत बाद जो जाना खासकर दोपहर के समय

.   मल का अछे से साफ़ ना होना

.   मिटी का सेवन करना

.   नमी वाली हवा में जादा समय तक रहना

.   हाथ के नाख़ून को बढाकर रखना समय पर नही काटना और उसी हाथ से खाना खाना

.   हमेशा काम करने के बाद हाथ ना धोना गंदे हाथ से खाना खा लेना

.   पेट हमेशा भरा रहना लगना

.   गंदे वातावरण में बहुत जादा रहना

.   बहुत जादा खराब खाने का सेवन करना

पेट में कीड़े होने के बाद के लक्ष्ण 

पेट में कीड़े का होना आम बात होती है और एकदम से पेट में कीड़े होने का पता नहीं चलता है परन्तु अगर आपके पेट में कीड़े हो जाते है तो आपको बहुत से लक्ष्ण देखने को मिलेगे जो इस प्रकार है –

.   बहुत जादा बार बार बुखार होने की समस्या होना

.   भूख ना लगने की समस्या होना

.   बहुत जादा भूख लगने की समस्या होना

.   तवचा पर और शरीर पर सफ़ेद पीले रंग के धबे का निकल आना

.   पेट में दर्द होना

.   शरीर में कमजोरी होना और ताकत का ना रहना

.   चकर आने की समस्या का उत्पन हो जाना

.   कुछ भी खाने का मन ना करना

.   जुलाब होने की समस्या होना

.   गुदे वाले भाग में खुजली का उत्पन होना

.   शरीर और तवचा के रंग का बदलना

.   जीभ का सफ़ेद और आँखों के लाल होने की समस्या होना

.   मल में खून आने की समस्या का होना

.   उलटी होने की समस्या का दिखाई देना

.   होंठो के सफ़ेद पड़ जाने की समस्या उत्पन होना

.   सुखी खांसी का होना

.   छाती में दर्द होने की समस्या होना

.   मल के दोरान कीड़ो का निकलना

.   खून की कमी हो जाना

.   रात को सोने से पहले दांतों का कट कट करना

.   लार गिरने की समस्या होना

.   मुहं से बदबू आने की समस्या हो जाना

पेट के कीड़े कितने प्रकार के होते हैं

आयुर्वेद के अनुसार पेट में होने वाले कीड़े 20 प्रकार के होते है और यह पेट में घाव को उत्पन कर देते है इसके अलावा आधुनिक शासत्र के अनुसार पेट में कीड़े निम्न चार प्रकार के होते है

.   गोल कृमि

.   शुत्र कृमि

.  सफित कृमी

.  अंकुश मुख कृमी

यह 20 प्रकार के पेट में होने वाले कीड़े कुछ उपयोगी होते है और कुछ हानिकारक होते है पेट में होने वाले कीड़ो का आपको पता होना आवश्यक है क्युकी यह शरीर के लिए नुक्सान दायक भी होते है

पेट में कीड़े होने के बाद इलाज 

पेट में कीड़े का होना आम बात है परन्तु अगर समय पर इसका इलाज न हो तो यह नुकसानदायक भी होता है देखा गया है की बहुत से लोगो के पेट में कीड़े होते है परन्तु उनको अपने शरीर में कोई भी लक्ष्ण दिखाई नहीं देता है

उनके पेट में कीड़े रहते है परन्तु वह नोर्मल सभी काम करते है उनके शरीर में कोई बदलाव दिखाई नहीं देता है परन्तु कुछ लोग एसे होते है जिनके पेट में कीड़े होते ही अलग अलग प्रकार के लक्ष्ण देखने को मिलते है जैसे

पेट में दर्द होना , उलटी , बुखार , गुदे में खुजली का होना आदि लक्ष्ण देखने को मिलते है , बहुत से लोगो के पेट के कीड़े खुद ही मल के द्वारा बाहर निकल जाते है और बहुत से लोगो को डॉक्टर की सलाह की जरूरत पड़ती है

देखा जाता है की जिन लोगो के पेट में कीड़े होते है तो उनको बाहर निकालने का इलाज होता है उसके लिए डॉक्टर पेट में कीड़ो की जांच करता है उसके बाद मरीज के अनुसार उसको दवाइयां दी जाती है

वह दवाइयां पेट से कीड़ो को बाहर निकालती है परन्तु जिनसे कीड़े पैदा हो रहे है उनको नहीं निकालती है इसे पेट में कीड़े होना का खतरा रहता है उसके लिए डॉक्टर जांच करता है

पेट में पैदा होने वाले कीड़ो को रोकने के लिए आप खाना खाने से पहले हाथ को धोए ख़राब खाना ना खाए और एक बार डॉक्टर से पूछ ले की पेट में कीड़े होने की दोबारा आशंका ना हो उसके लिए आप अपना स्टूल टेस्ट करवाए

पेट में कीड़े होने के बाद के घरेलू उपाए-पेट के कीड़े की घरेलू दवा

आयर्वेद के अनुसार 20 प्रकार के पेट के कीड़े होते है और इन सभी को पेट से बाहर निकालने के लिए बहुत से घरेलू उपाय का इस्तेमाल किया जाता है जो आपको निचे देखने को मिल जाएगे , पेट से कीड़ो को बाहर निकालने के लिए घरेलू उपाय इस प्रकार है

.   लहसुन है फायदेमंद पेड़ के कीड़ो को निकालने के लिए

लहसुन में एलिकिन नाम का एक ओषधिय तत्व पाया जाता है इसके अलावा लहसुन में विटामिन B , और C अछि मात्रा में पाया जाता है और लहसुन में केल्शियम , मेगनीज आदि भी अछि मात्रा में पाया जाता है और पेट के कीड़ो को बाहर निकालने के लिए लहसुन  बहुत फायदेमंद है

घरेलू उपाय

( i )  अगर आपके पेट में कीड़े है और आप परेशान है तो आप लहसुन को लो और उसे अछे से धो लो और उसके बाद उसकी चटनी बना लो और उसमे सेंधा नमक मिला ले उसके बाद आप इस उपाय का दिन में दो बार इस्तेमाल करे

.   नीम के पते है फायदेमंद पेट के कीड़ो को निकालने के लिए

नीम के पते पेट के कीड़ो को बाहर निकालने के लिए बहुत फायदेमंद होते है नीम के पतों में विटामिन C पाया जाता है नीम के पतों का काढ़ा घाव को धोने के लिए बहुत जादा फायदेमंद होती है पेट के कीड़ो के अलावा नीम का पता नकसीर , भूख ना लगना , दिल के लिए फायदेमंद होता है

घरेलू उपाय

( i )   पेट के कीड़ो को बहार निकालने के लिए आप नीम के पतों का इस्तेमाल करे आप नीम के पतों को साफ़ कर ले अछे और उसकी चटनी बना ले पीसकर उसके बाद आप इसमें सहद मिलाकर इसका सेवन करे

.   तुलसी का इस्तेमाल करे पेट के कीड़ो को निकालने के लिए

तुलसी का इस्तेमाल पेट के कीड़ो को बाहर निकालने के लिए किया जाता है और तुलसी के अन्दर पारा और आयरन की अछि मात्रा पाई जाती है तुलसी के पतों के जादा सेवन से दांत में दर्द और खून पतला होने की समस्या उत्पन हो जाती है

घरेलू उपाय

( i )  पेट के कीड़ो को बाहर निकालने के लिए आप तुलसी के पते का इस्तेमाल कर सकते हो उसके लिए आप तुलसी के पतों को साफ़ करे और धो ले उसके बाद इसका रस बना ले और दिन में दो बार पिए पर एक ही चमच पिए इसे कीड़े बाहर निकल जाएगे

.   अजवाइन है फायदेमंद पेट के कीड़े को निकालने के लिए

अजवाइन पेट के कीड़ो को बाहर निकालने के लिए फायदेमंद होते है अजवाइन में आयरन , फास्फोरस , केल्शियम , मिनरल्स आदि गुण पाए जाते है जो हमारे शरीर के लिए फायदेमंद होते है इसके अलावा जो लोग अजवाइन का सेवन करते है उन लोगो को सर्दी जुकाम , नाक बहने की समस्या नहीं होती है

घरेलू उपाय

( i )  अजवाइन में एंटी बैकटिरियल गुण होते है जो पेट के कीड़ो को खत्म करने में बहुत जादा फायदेमंद होता है उसके लिए आप आधा चमच अजवाइन के पाउडर में आधा गुड को मिला ले और गोली बना ले और पुरे दिन में दो या तीन बार सेवन करे

( ii )  अगर किसी बचे के पेट में कीड़े है तो दो चुटकी काले नमक की ले और उसमे आधा ग्राम अजवाइन को अछे से मिला ले और बचे को रात के सोने से पहले ही गर्म पानी के साथ पिलाए

.   लॉन्ग है फायदेमंद पेट के कीड़ो को निकालने के लिए

लॉन्ग का इस्तेमाल भी पेट के कीड़ो को बाहर निकालने में किया जाता है क्युकी लॉन्ग में अछि मात्रा में फाइबर पाया जाता है जो हमारे शरीर के लिए बहुत जादा जरुरी होते है इसके अलावा लॉन्ग में विटामिन B 1 , विटामिन B 2 , विटामिन B 4 , विटामिन B 9 आदि पाया जाता है

और पढ़े7 दिन में 4 इंच लंबाई बढ़ाने के कामयाब नुस्खे लंबाई बढ़ाने के उपाय क्या खाए

घरेलू उपाय

( i )   अगर आपके पेट में कीड़े है तो आप लॉन्ग को पानी में भिगाने के लिए रखे और उस पानी का सेवन कर सकते है इसे आपको पेट के कीड़ो से छुटकारा मिलेगा

.   कचे पपीते का इस्तेमाल करे पेट के कीड़ो को निकालने के लिए

कचे पपीते के इस्तेमाल से पेट के कीड़ो को निकाला जाता है जैसा की आपको पता है कचे पपीते का इस्तेमाल हम सब्जी बनाने के लिए भी करते है इसके अलावा कचे पपीते में विटामिन A , विटामिन C , विटामिन E , विटामिन B , एजाइम्स पाए जाते है कचे पपीते का जूस हमारी तवचा के लिए भी फायदेमंद होती है

घरेलू उपाय

( i )   कचा पपीता पेट के कीड़ो को बाहर निकालने के लिए फायदेमंद होता है इसके लिए आपको चार चमच गर्म पानी के लेने है और उस गर्म पानी में एक चमच कचे पपीते का दूध डालना है और एक चमच सहद डालना है और इनको अछे से मिलाकर सेवन करना है

.   अनार है फायदेमंद पेट के कीड़े को बाहर निकालने के लिए

अनार हमारे शरीर के लिए जितना फायदेमंद होता है उतना ही यह पेट के कीड़े को बाहर निकालने के लिए फायदेमंद होता है क्युकी अनार में फाइबर , विटामिन K , विटामिन C , विटामिन B , आयरन पोटाशियम जिंक आदि बहुत से तत्व पाए जाते है जो हमारे शरीर के लिए फायदेमंद होते है

घरेलू उपाय

अनार का छिलका पेट के कीड़ो को बाहर निकालने के लिए फायदेमंद होता है आपको अनार के छिल्को को लेना है और साफ़ कर लेना है उसके बाद उसको अछे से सुखाना है और उसका पाउडर बना लेना है उसके बाद आप दिन में एक एक चमच दो बार इस्तेमाल कर सकते है

.   टमाटर है फायदेमंद पेट के कीड़ो को निकालने के लिए

घर में बनाई जाने वाली सब्जी में टमाटर का इस्तेमाल किया जाता है पेट के कीड़ो से भी टमाटर छुटकारा दिलाता है टमाटर में विटामिन A , विटामिन C , फाइबर , फोलेट , केल्शियम जैसे कई तत्व पाए जाते है

घरेलू उपाय

अगर आपके पेट में कीड़े है तो आप टमाटर का इस्तेमाल करे आपको एक टमाटर लेना है उसे अछे से धो लेना है और उसके टुकड़े कर लेने है और उसमे आप सेधा नमक और काली मिर्ची पाउडर मिलाकर सेवन कर सकते है

.   आम की गुठली है फायदेमंद पेट के कीड़ो को निकालने के लिए

आम की गुठली में अछि मात्रा में पोटाशियम पाया जाता है आम की गुठली का पाउडर रक्तचाप को कम करने में बहुत जादा असरदार होती है आम की गुठली का पाउडर बहुत सी बीमारियों को कम करता है

घरेलू उपाय

( i )   आपको कचे आम की गुठली लेनी है और उसको सुखाकर उसका पाउडर बना लेना है उसके बाद आप उस पाउडर में दही मिलाकर सेवन कर सकते है या पानी के साथ इसका सेवन कर सकते है कुछ ही समय बाद पेट के कीड़े बाहर निकल जाएगे

कुछ अन्य घरेलू उपाय 

( i )    जिस व्यक्ति को पेट में कीड़े की समस्या है उस व्यक्ति को गुड की तरह मीठे प्रदार्थ खाने के लिए दीजिए जब वह मीठा प्रदार्थ पेट में जाता है तो पेट के कीड़े उस मीठे प्रदार्थ को खाने के लिए इकठा हो जाएगे उसके बाद मरीज को कीड़े मारने की दवाई दी जाए और फिर कीड़ो को बाहर निकालने के लिए जुलाब की दवा दी जाए

( ii )   जिस कारण पेट में कीड़े होने की संभावना होती है उन सभी कारणों से दूर रहे

( iii )   गुड खाने के बाद आप दस से पन्द्रह मिनट तक आराम करो और बाद में विडंग चूर्ण एक ग्राम गर्म पानी के साथ ले सकते है इसे पेट के कीड़ो से छुटकारा मिलेगा

( iv )  पेट में कीड़े होने के बाद प्याज के रस का इस्तेमाल करे दिन में दो या तीन चमच प्याज का रस पिए

( v )  आप विडंग चूर्ण को एक या दो ग्राम दिन में दो या तीन बार गर्म पानी के साथ ले

पेट में कीड़े होने से क्या नुक्सान होता है

पेट में कीड़े होने पर कुछ लोगो को लक्ष्ण दिखाई देते है और कुछ लोगो को लक्ष्ण दिखाई नहीं देते है परन्तु पेट में होने वाले कीड़े जादा नुकसान नहीं करते है अगर नुक्सान करते है तो उसे ठीक किया जा सकता है

पेट में पैदा होने वाले कीड़े जो बहुत बड़े होते है वह जादातर पेट में अपेंडिक्स को रोक देते है जिसके कारण अपेंडिक्स में सक्रमण होने का खतरा बढ़ जाता है इसके अलावा पेट के कीड़े सक्रमण अधिक मात्रा में करते है

पेट में जो कीड़े होते है उनके सक्रमण से कभी कभी हमें सिर में दर्द होने की समस्या का सामना करना पड़ता है और कभी कभी हमें देखने में भी समस्या उत्पन होती है और इसके अलावा मिर्गी के दौर भी पड़ सकते है

देखा जाता है की जब पेट के कीड़े लीवर या फेफड़ो में जाते है तो इनका अकार बढ़ जाता है जिसके कारण यह कार्य कर रहे अंगो में खून की सप्लाई को रोक देते है जिसे समस्या उत्पन हो जाती है

इसके अलावा देखा गया है की जिन लोगो के पेट में कीड़े होते है उन लोगो का वजन कम होते रहता है बढ़ता नहीं है क्युकी पेट में रहने वाले कीड़े पोषक तत्व को खाते रहते है जिसके कारण हमारा वजन कम होते रहता है

और पढ़े- सर्दी में पैर सूजन का इलाज के घरेलु उपाय | सर्दियों में हाथ पैरों की उंगलियों मैं सूजन क्यों आता है जाने घरेलु उपाय

पेट में कीड़े होने से कैसे रोका जा सकता है 

अगर आप कुछ बातो की तरफ अछे से ध्यान दे तो आप पेट में कीड़े होने से पहले ही इन्हें रोक सकते हो और अपने आप को सवस्थ रख सकते हो जानिए कैसे –

.   ध्यान रहे की आप खराब खाना नहीं खाए इसे आप पेट में पैदा होने वाले कीड़ो को रोक सकते है

.   हमेशा खाना खाने से पहले हाथो को अछे से धो ले उसके बाद ही खाने का सेवन करे

.   फ़ास्ट फ़ूड एव बाहर मिल रहे खाने का सेवन जादा मात्रा में ना करे

.   जादा मीठी चीजो का सेवन ना करे क्युकी मीठी चीजे पेट में कीड़ो को पैदा करने का काम करती है

.   ध्यान रखे की आधा कचा खाना ना खाए भोजन को अछे से पकाकर ही भोजन का सेवन करे

.   मार्किट में मिलने वाले सब्जियों और फलो को अछे से धोने के बाद ही उसका सेवन करे

.   ध्यान रखे की बचे मिटी ना खाए

.   अपने आस पास सफाई रखे और गन्दी जगह पर ना जाए

.    मछली को अछे से पकाकर ही खाए कचा ना खाए

.   सोंच करने के बाद हाथो को अछे से धो ले उसके बाद किसी और वस्तु को छुए

.   मल को अछे से साफ़ कर दे टॉयलेट को गन्दा ना रखे

.   अगर आपको गुदा छेत्र में खुजली होने की समस्या है तो खुजली करने से बचे

.   अगर आप किसी दूसरी जगह गए है तो वहा ध्यान रखे की पेक्ट बंद खाना खाए और पानी भी बंद बोतल का ही पिए

पेट में होने वाले कीड़ो को रोकने के लिए दवाइयां -pet me kide ki medicine

आपको बजार में पेट के कीड़ो से छुटकारा पाने के लिए बहुत सी दवाइयां है जो इस प्रकार है

.   syp krimihar

.   tab . butterpills

.   syp . cruminill

.   cap . exotica

.   tab . k . k .pills

.   syp / cap . worminil

.   syp . wormahal

.   krimishodhani churana

पेट में कीड़े होने के बाद क्या नहीं खाना चाहिए 

पेट में कीड़े होने पर आपको यह पता होना चाहिए की आपको क्या नहीं खाना है जानिए पेट में कीड़े होने के बाद आपको किस चीज का सेवन नहीं करना है

.   दूध

.   दही

.   घी

.   दूध से तेयार किये गए प्रदार्थ

.   सभी प्रकार के मीदे प्रदार्थ

.   मांशाहार

पेट में कीड़े होने के बाद क्या खाना चाहिए 

पेट में कीड़े होने के बाद आपको किस चीज का सेवन करना है जानिए –

.   छाज

.   सहिजनी की सब्जी

.   मुंग दाल

.   सुरन

पेट में कीड़े होने के बाद किस बात का ध्यान रखे 

.   जिस दिन आप सोने से पहले पेट के कीड़े की दवाई लेते है तो आपको खाने में बहुत हल्का खाना खाना है और कम मात्रा में ध्यान रखे की रात का खाना सात या आठ बजे तक खा ले और उसके बाद पेट के कीड़े की दवाई का सेवन करे

.   पेट के कीड़ो को आप हलके में ना ले , पेट में कीड़े होने पर डॉक्टर की सलाह ले और डॉक्टर के बताए गए अनुसार दवाई का इस्तेमाल करे

नोट :-  

अगर आपको बार बार पेट में कीड़े होने की समस्या होती है तो आपके लिए आयुर्वेद में बहुत सी ओषधियाँ पाई जाती है जिसे आपको लाभ होता है और पेट में कीड़े बार बार नहीं होते है

आयुर्वेद में रक्तज पेट के कीड़े को मान्यता है जिसके कारण अलग अलग प्रकार के तवचा के रोग होते है पलकों के बाल झड़ने की समस्या हो जाना या खुजली का होना आदि लक्ष्ण दिखाई देते है

कई बार जब  पेट में कीड़े होते है पता करने के लिए रक्त और शोच का टेस्ट करवाते है परन्तु टेस्ट नोर्मल आ जाता है परन्तु आपके तवचा पर पेट के कीड़े के लक्ष्ण दिखाई देते है

इसके लिए आपको पेट के कीड़े के उपचार के साथ साथ रक्त को साफ़ करने वाले उपचार भी करने पड़ते है बहुत से लोगो का मानना होता है की पेट में कीड़े सिर्फ मीठा खाने से ही होते है यह कहना गलत होगा

अगर आपको लगता है की आपके पेट में कीड़े है तो आपको तुरंत ही डॉक्टर से सलाह लेनी होगी और डॉक्टर के बताए अनुसार ही चलना होगा क्युकी कहाँ जाता है पेट में कीड़े होने से कोई भी रोग होने की आशंका होती है

डिस्क्लेमर – ये आर्टिकल या पोस्ट या लेख सिर्फ एजुकेशन के मकसद से लिखा गया है इसकी सत्यता की कोई पुष्ठी नही की गयी है इसमें thedkz.com की किसी भी प्रकार की कोई जिमेदारी नही है इसलिए यूजर जो भी कुछ करे डॉक्टर  की सल्लाह से करे