Hyundai starting problems and solution क्यों होती है कार 40 किलोमीटर पर बंद जानिये

आज हम HYUNDAI STARTING PROBLEMS i10 या अन्य HYUNDAI कार STARTING के बारे मैं बात करने जा रहे है हम वही स्टार्टिंग प्रॉब्लम की बात करते है जो हमे आके एक कस्टमर बताता है क्युकी वो वही बताता है जो उसे प्रॉब्लम आती है

कार में स्टार्टिंग की समस्या बहुत जादा देखि जाती है कोई भी कार हो कुछ समय बाद स्टार्टिंग में समस्या होने ही लगती है ,

फिर पेट्रोल इंजन में हो या डीजल इंजन में हो Hyundai की कोई भी कार हो इसके सभी काम समय पर करवाने पड़ते है , अगर डीजल इंजन है तो सर्विस बिलकुल सही समय पर करवानी पड़ती है

क्युकी Hyundai की डीजल कार सर्विस लेट होने पर स्टार्टिंग की समस्या उत्पन करती है , लेकिन Hyundai की पेट्रोल कार में जल्दी समस्या नहीं आती बस समय पर सर्विस होनी चाहिए

परन्तु आज हम Hyundai की i 10 पेट्रोल कार की स्टार्टिंग की समस्या के बारे में बात करेगे यह स्टार्टिंग की समस्या एसी है जिसका solution सभी कार में एक ही होगा

इस i 10 पेट्रोल कार के मालिक का कहना था की कार 40 या 50 किलोमीटर चलते ही बहुत जादा लेट स्टार्टिंग होती है बहुत लम्बा सेल्फ लेती है और कुछ समय बाद ही एकदम से स्टार्ट होती है

मालिक का कहना था की सेल्फ , बैटरी और फ्यूल टैंक सब चेक करवा लिया है , अब बात आती है क्या समस्या हो सकती है सबसे पहले जानते है क्या कारण होगा लेट स्टार्टिंग का जानिये

HYUNDAI STARTING PROBLEMS क्यों होती है कार 40 किलोमीटर पर बंद जानिये

HYUNDAI STARTING PROBLEMS-लेट स्टार्टिंग होने का कारण

लेट स्टार्टिंग होने के दो कारण मुख्या माने जाते है पेट्रोल कार में पहला sensor में समस्या होना , दूसरा फ्यूल line में समस्या होना , इस कार में sensor की समस्या नहीं हो सकती

क्युकी यह 40 किलोमीटर के बाद लेट स्टार्टिंग करती है मतलब इसकी फ्यूल की सप्लाई में समस्या है इसके लिए आपको , सबसे पहले इंजन के पास से फ्यूल की सप्लाई को चेक करना है

कितनी स्पीड में आगे पेट्रोल आ रहा है , अगर आपसे कोई बोलता है की कार कुछ दूर चलने के बाद बंद होती है और फिर स्टार्ट हो जाती है इसका मतलब है फ्यूल की सप्लाई में कट लग रहा है

आपको क्या चेक करना है सबसे पहले फ्यूल की सप्लाई में

पेट्रोल फ़िल्टर  या डीजल फ़िल्टर

अगर कार 20 , 30 , 40 किलोमीटर चलने पर या कुछ दूर चलने पर बंद हो जाती है या बहुत लेट स्टार्ट होती है तो आपको सबसे पहले उस कार का पेट्रोल या डीजल फ़िल्टर को चेक करना है

अगर पेट्रोल या डीजल फ़िल्टर चोक होगा तो कार बार बार बंद होगी और pickup ड्राप होगा क्युकी फ़िल्टर चोक होने के कारण इंजन को सही पेट्रोल या डीजल नहीं मिल पाता

फ्यूल मोटर फ़िल्टर

यह फ़िल्टर फ्यूल मोटर के निचे लगा होता है जब भी लेट स्टार्टिंग की समस्या होती है तो फ्यूल मोटर को बाहर निकालकर उसके निचे लगे फ़िल्टर को चेक करो डस्ट तो नहीं है

अगर उसमे डस्ट होगी तो फ्यूल की सप्लाई कम हो जाएगी जिसके कारण कार में लेट स्टार्टिंग की समस्या होगी फिर कार चलते चलते बंद हो जायेगी

फ्यूल मोटर

सबसे बड़ा कारण होता है डीजल या पेट्रोल कार में चलते चलते बंद होने का फ्यूल मोटर का खराब होना जब आपकी फ्यूल टैंक की मोटर खराब हो जाती है

तो कुछ दूर चलने के बाद फ्यूल मोटर काम करना बंद कर देती है और कार बंद हो जाती है लेकिन जब आप दो या तीन बार स्विच लगाते है तो फ्यूल मोटर में एकदम से करंट जाता है

जिसके कारण वह फिर काम करने लगती है लेकिन थोड़ी देर बाद ही फिर बंद हो जाती है इसलिए फ्यूल मोटर को चेक करे |

अगर सब कुछ ठीक है तब क्या करे

कुछ कार में फ़िल्टर और फ्यूल मोटर बिलकुल ठीक होते है sensor भी ठीक होते है लेकिन फिर भी जादा चलने के बाद समस्या करती है तब क्या कर सकते है

इस समस्या में आपको एक बार बैटरी को चेक कर लेना है उसके बाद आपको फ्यूल गेज को टैंक से बाहर निकाल लेना है और फ्यूल गेज से मोटर को बाहर निकाल लेना है

उसके बाद जिस बॉक्स में फ्यूल मोटर लगी थी उस बॉक्स में निचे की तरफ एक छेद करना है ताकि फ्यूल गेज को टैंक में डालते ही फ्यूल मोटर में एकदम से फ्यूल जा सके और फ्यूल गेज पूरी फ्यूल गेज से भरी रहे

उसके बाद आपको फ्यूल मोटर को फ़िल्टर को साफ़ करके गेज को वेसे ही फिट कर देना है और कार को चलाकर चेक कर लेना है , जब भी आपके पास कोई एसी कार आती है जिसमे स्टार्टिंग की समस्या है

तो आपको सबसे पहले कार को scan करके यह चेक करना है की कोई sensor प्रॉब्लम तो नहीं है अगर स्कैनर कोई code बताता है तो उसके मुताबिक़ ही काम करना है

अगर स्कैनर फ्यूल से जुड़ा कोई code बताता है तो सबसे पहले फ्यूल की सप्लाई को ही चेक करना है आ रही है या नहीं फ्यूल की सप्लाई को भी दो जगह चेक करना है पहला डीजल फ़िल्टर दूसरा मेन पाइप

अगर डीजल फ़िल्टर में स्विच लगाने पर फ्यूल आ रहा है और आगे डीजल pump में नहीं जा रहा है तो इसका मतलब है की आपका drbi स्विच खराब हो चूका है

आप drbi स्विच को बदलकर देखो समस्या ठीक हो जायेगी , किसी भी कार की स्टार्टिंग चेक करने से पहले चेक करे की फ्यूल टैंक में सही मात्रा में फ्यूल है या नहीं तभी आगे कुछ चेक करे |

 
 

Q . crank sensor खराब होने पर लेट स्टार्टिंग की समस्या हो सकती है ?

ans . हा अगर crank sensor खराब हो जाता है तो कार में लेट स्टार्टिंग की समस्या उत्पन हो जाती है , लेकिन अगर crank sensor बिलकुल खराब हो जाता है तो कार बिलकुल ही बंद हो जाती है , crank sensor के खराब होने पर जब आप कार में सेल्फ मारोगे तो rpm की सुई नहीं उठेगी , लेकिन जब crank sensor सही होता है तो सेल्फ मारने पर rpm की सुई हलकी हलकी उपर जाती है

Q . क्या सेल्फ के खराब होने पर लेट स्टार्टिंग की समस्या हो सकती है ?

ans . बहुत सी कार में देखा गया है की कार बहुत जादा चलने के बाद कार ठीक से सेल्फ नहीं लेती टक टक करती है , एसा इसलिए होता है क्युकी सेल्फ के उपर लगी गुघी ख़राब हो जाती है जिसके कारण कार जादा चलने के बाद वह गुघी काम करना बंद कर देती है और कार सेल्फ नहीं लेती

Q . डीजल या पेट्रोल फ़िल्टर के कारण क्यों लेट स्टार्टिंग की समस्या होती है

ans . जब हम बहुत लम्बे समय तक डीजल या पेट्रोल फ़िल्टर नहीं बदलवाते है तो फ्यूल टैंक में जितना भी कचरा होता है वह डीजल फ़िल्टर या पेट्रोल फ़िल्टर में जमा होता है और वहा से फ्यूल इंजेक्टर में जाता है और इंजेक्टर जाम होते है या फिर डीजल या पेट्रोल फ़िल्टर के गन्दा होने के कारण इंजेक्टर को सही मात्रा में फ्यूल नहीं मिल पता जिसके कारण लेट स्टार्टिंग की समस्या उत्पन होती है

Q . swift कार का डीजल फ़िल्टर कितने का होता है ?

ans . डीजल फ़िल्टर आपको तीन प्रकार से मिल जायेगे पहला देसी जो आपको 350 रूपये में मिल जाएगा , दूसरा है मीडियम जो आपको 600 रूपये तक मिल जाएगा , तीसरा जो 1180 रूपये तक मिलता है जो orginal होता है mgp का , कोशिस करे की आप 600 या 1180 वाला ही डलवाए

Leave a Comment