हृदय से जुडी समस्या आज के समय में अधिकतर लोगो को है और एसे में खान पान सही होना जरुरी है इसलिए आज हम हार्ट के मरीज को क्या नहीं खाना चाहिए यह बताएगे

हृदय में अलग अलग समस्या होती है जैसे एथेरोमा रोग , जन्म से होने वाले हृदय रोग , रुमेटिक हृदय रोग , हृदय में ब्लॉकेज आदि और यह सभी हृदय रोग आपके लिए जानलेवा होते है

और इनका इलाज समय पर किया जाना सही होता है परन्तु जब भी हृदय रोग की बात आती है तो डॉक्टर आपके खान पान को बदलने के लिए कहता है क्युकी हृदय से जुडी आधी समस्या गलत खान पान से होती है

इसलिए हृदय रोग में क्या नहीं खाना चाहिए इसकी पूरी जानकारी देंगे जिसे आप अपने हृदय का ख्याल रख सके और जो गलतियाँ आप कर रहे है वह न करे

हृदय रोग को कार्डियोवैस्कुलर रोग के नाम से जानते है और इसमें हृदय की बहुत सी समस्या आती है जैसे हार्ट अटैक , हृदय का फ़ैल हो जाना , एंजाइना , कोरोनरी धमनी की बिमारी , अनियमित दिल की धडकन , एथेरोस्क्लेरोसिस , हृदय वाल्व रोग , हृदय में छेद , धमनी की बिमारी , पेरिफेरल आर्टरी रोग आदि

हृदय की इन सभी समस्या में मेडिसिन के साथ साथ आपको बहुत ज्यादा खान पान में ध्यान रखना होता है उन चीजो से दुरी बनाकर रखनी होती है जिसे हृदय रोग बढे या आपको समस्या हो

हार्ट के मरीज को क्या नहीं खाना चाहिए – heart patient diet chart in hindi

जब भी किसी व्यक्ति को हृदय का कोई रोग होता है तो उसे अलग अलग व्यक्ति अलग अलग खाना पान की राय देते है जिसे वह उलझन में रहता है आज हम आपकी इस उलझन को दूर करेगे और बताएगे हार्ट के पेशेंट को क्या क्या सावधानी बरतनी चाहिए

हार्ट-के-मरीज-को-क्या-नहीं-खाना-चाहिए

(1) . जानवरों से बने वाली चीजे न खाए

अगर आपको हृदय के रोग की समस्या है तो आपको जानवरों से बने वाली चीजो का सेवन नहीं करना चाहिए क्युकी जो चीजे हमे जानवरों से प्राप्त होती है उसमे अधिक मात्रा में कॉलेस्ट्रोल पाया जाता है और हृदय रोग में कॉलेस्ट्रोल का सेवन नहीं करना चाहिए लीवर में जितना कॉलेस्ट्रोल बन रहा है वह आपके शरीर के लिए ठीक है आपको जानवरों से बने प्रदार्थ से कॉलेस्ट्रोल नहीं लेना है अगर आप हार्ट के मरीज है

(1) . लाला मांस , अन्य कोई मांस का सेवन नहीं करना है

(2) . मछली का सेवन नहीं करना है

(3) . अंडे के पीले भाग का सेवन नहीं करना है

(4) . दूध का सेवन नहीं करना है

(5) . दूध से बने प्रदार्थ का सेवन नही करना है

(2) . ट्राइग्लिसराइड्स का सेवन नही करना है

हृदय रोग में आपको ट्राइग्लिसराइड्स का सेवन नहीं करना चाहिए इसे हृदय रोग बढ़ता है ट्राइग्लिसराइड्स को आम भाषा में तेल कहाँ जाता है जो घर के खाने में इस्तेमाल किया जाता है आपको तेल का सेवन कम से कम करना चाहिए इसे हृदय का रोग बढ़ता है

यह एक तरह का वसा होता है जो हृदय में जाकर जम जाता है और हृदय में ब्लॉकेज का मुख्या कारण बनता है इसलिए किसी भी प्रकार के तेल का सेवन न करे खाने में कम से कम तेल का इस्तेमाल करे या फिर बिना तेल के खाने को बनाए आपको फायदा होगा

(3) . ड्राई फ्रूटस का सेवन नहीं करना है

बहुत से व्यक्ति हृदय रोग से पीड़ित होते है और वह किसी से सुनते है की ड्राई फ्रूट्स के खाने से बहुत से फायदे है तो वह हृदय रोग में ही ड्राई फ्रूट्स खाने लगते है जिसे उनको फायदे की जगह नुकसान होने लगता है उनके हृदय में वसा इकठा होने लगता है और हृदय में ब्लॉकेज की समस्या होती है क्युकी ड्राई फ्रूट्स में भी तेल (ट्राइग्लिसराइड्स) की मात्रा ज्यादा पाई जाती है जो हृदय रोगी के लिए नुक्सानदायक है

(1) . बादाम का सेवन नहीं करना है

(2) . काजू का सेवन न करे

(3) . मूंगफली का सेवन न करे

(4) . अखरोट का सेवन न करे

(5) . पिस्ता का सेवन न करे

(4) . तले हुए प्रदार्थ का सेवन नहीं करना है

हृदय रोगी को तले हुए खाने से दूर रहना चाहिए आज के समय में लोगो का खान पान बहुत ज्यादा बिगड़ गया है खाना समय पर न खाकर जल्दी के कारण बाहर का तला हुआ खाना खाते है इस खाने में ट्राइग्लिसराइड्स और कॉलेस्ट्रोल की बहुत ज्यादा मात्रा होती है जो हृदय के रोग को भडाती है

(1) . बर्गर का सेवन नहीं करना है

(2) . चाउमीन का सेवन नही करना है

(3) . मोमोस का सेवन न करे

(4) . टिकी का सेवन न करे

(5) . आइसक्रीम और पेस्ट्री का सेवन न करे

गर्मियों में लोग बड़े ही चाव से आइसक्रीम का सेवन करते है परन्तु अगर आप हार्ट के मरीज है तो आपको आइसक्रीम और पेस्ट्री का सेवन नहीं करना चाहिए यह हार्ट अटैक होने का एक मुख्या कारण होता है आइसक्रीम और पेस्ट्री में बहुत अधिक मात्रा में कॉलेस्ट्रोल पाया जाता है साथ ही इसमें फैट की बहुत अधिक मात्रा पाई जाती है इसलिए आपको इन चीज का सेवकं नही करना है

(6) . नमक का सेवन कम करना है

अगर आप हार्ट के मरीज है या आपकी अभी हार्ट की सर्जरी हुई है तो आपको नमक को ज्यादा नहीं लेना है साथ ही टेबल सॉल्ट को आपको बिलकुल ही बंद कर देना है क्युकी अधिक नमक के सेवन से आपका ब्लड प्रेशर बढ़ सकता है आपको आचार , पापड़ का सेवन नहीं करना है इसमें भी अधिक नमक होता है

(7) . शुगर का सेवन नहीं करना है

हृदय रोग की समस्या होने पर आपको मीठा ज्यादा नहीं लेना चाहिए इसे नुक्सान होता है अगर आपको डायबटीज की समस्या है तो आपको चीनी , शक्र , शहद का सेवन आपको नहीं करना है इसे आपको नुकसान होगा और अगर आपको शुगर नहीं है तो आप इन चीजो का सेवन बहुत कम करे

(8) . चाय कॉफ़ी का सेवन कम करे

इंडिया में सुबह का खाना खाए या न खाए परन्तु चाय का सेवन सबसे पहले करते है परन्तु जब किसी व्यक्ति को हृदय रोग की समस्या हो जाती है या ब्लड प्रेशर जैसी समस्या हो जाती है तो यह चाय या कॉफ़ी नुक्सानदायक बन जाती है इसे ब्लड प्रेशर बढ़ता है और हृदय को नुक्सान होता है इसलिए चाय या कॉफ़ी का सेवन कम से कम करे

हृदय रोग से पीड़ित व्यक्ति को उपर बताए गए खाद्य प्रदार्थ का सेवन नहीं करना चाहिए

ध्यान देने वाली बात

आपको उपर यह तो पता चल गया है की हृदय रोगी को क्या नहीं खाना चाहिए और आप इन सभी बातो का ध्यान रखेगे परन्तु इसको लेकर भी बहुत से लोग गलती करते है

कुछ हृदय रोगी एकदम से इस डाईट को फ़ॉलो करने लगते है और लगातार 10 से 15 दिन फ़ॉलो करने के बाद फिर छोड़ देते है और दोबारा से पुरानी डाईट लेने लगते है

एसा करना गलत भी नहीं है क्युकी किसी भी व्यक्ति की डाईट को एकदम से बदलना बहुत मुश्किल होता है और एसा करने से नुकसान ही होता है वजन कम होता है और समस्या बढ़ जाती है

इसलिए आप इस डाईट को एकदम से फ़ॉलो न करे धीरे धीरे अपने डाईट में बदलाव करे उन चीजो को धीरे धीरे अवॉयड करे जिसे हृदय को नुक्सान होता है या हृदय रोग बढ़ता है

इसलिए जब भी डाईट को बदले एकदम से उस पर अम्ल न करे धीरे धीरे अपने डाईट को बदले खुद पर कण्ट्रोल करे तब आपको ज्यादा फायदा होगा और आपको अन्य नुक्सान भी नहीं होगा

निष्कर्ष

आशा करते है की आपको हार्ट पेशेंट को क्या नहीं खाना चाहिए इसके बारे में पता चल गया होगा और अब आप सभी बातो का ध्यान रखेगे उन चीजो से परहेज करेगे जो हृदय के लिए नुक्सानदायक होती है परन्तु एक बात का ध्यान रखे की किसी भी चीज को एकदम से न छोड़े धीरे धीरे अपनी आदत बनाए इसे आपको ही फायदा होगा

जानिए कुछ सवालो के जवाब

Q . क्या परहेज करने से हृदय की समस्या ठीक हो जाती है?

ans . अगर आप हृदय रोग होने पर खान पान में परहेज करते भी है तो भी समस्या ठीक नहीं होगी आपको इलाज करवाना ही पड़ेगा परन्तु सही खान पान समस्या को बढ़ने से रोकती है और आपको फायदा करती है|

Q . क्या ज्यादा कॉलेस्ट्रोल का सेवन सामान्य व्यक्ति के हृदय पर बुरा प्रभाव डाल सकता है|

ans . अगर एक एसा व्यक्ति जिसे कोई हृदय रोग नहीं है वह अधिक कॉलेस्ट्रोल का सेवन करता है तो उसे हृदय से जुड़ा रोग हो सकता है|

Q . हृदय रोग में डाइट चार्ट फ़ॉलो करने से क्या समस्या ठीक हो सकती है?

ans . अगर आपको हृदय से जुडी समस्या है और आप डाईट चार्ट फ़ॉलो कर रहे है तो 10 या 15 दिन में आपको फायदा नहीं होगा आपको लम्बे समय तक इस डाईट को फ़ॉलो करना होगा तभी फायदा होगा परन्तु फिर भी समस्या को ठीक करने के लिए आपको मेडिसिन और डॉक्टर की जरूरत होगी|

Q . हृदय रोग में कौन सी मछली बिलकुल नहीं खानी चाहिए?

ans . हृदय रोग में आपको सालमन मछली का सेवन नहीं करना चाहिए इसमें अधिक फैट कॉलेस्ट्रोल पाया जाता है जो हृदय को नुक्सान पहुचाता है|