अनियमित दिल की धड़कन की समस्या के लिए r66 homeopathic medicine का इस्तेमाल किया जाता है अगर आपकी दिल की धड़कन भी कम ज्यादा होती है तो r66 medicine को ले सकते है

अगर किसी व्यक्ति की दिल की धड़कन बहुत ज्यादा कम व ज्यादा होती है तो उस व्यक्ति को r66 medicine देने से बहुत आराम मिलता है और दिल की धड़कन सही रहती है

यह समस्या ज्यादा तब होती है जब दिल के अंदर एक लेयर होती है उसमे अलग सुजन हो जाती है तो उस समय में व्यक्ति की दिल की धड़कन कम या ज्यादा होती रहती है

एसा दिल कमजोर होने के कारण भी होता है जब दिल के वाल्व में समस्या होती है और यह समस्या किसी बिमारी के कारण भी उत्पन होती है इस समस्या के लिए आज हम आपको r66 medicine के बारे में बताएगे

r66 medicine क्या है – What is r66 homeopathic medicine in hindi

r66 medicine जर्मन की एक homeopathic medicine है जो Dr.reckeweg की medicine है और यह 22ml में आपको drop के रूप में मिलती है

जिसका इस्तेमाल अनियमित दिल की धड़कन की समस्या के लिए किया जाता है r66 medicine को cardiac arrhythmia drop के नाम से भी जाना जाता है इसका प्राइस 198 रूपये है जो आपको homeopathic store से मिलेगी

r66 medicine के अंदर कुछ homeopathic medicine मिली हुई है जैसे Spartium scoparium , Lberis amara , Leonurus cardiaca , Oleander , Smubul , Ammi visnaga . इन सभी homeopathic medicine के बारे में निचे देखने को मिल जाएगा

r66 medicine का इस्तेमाल कैसे करे – r66 homeopathic medicine uses in hindi

r66 medicine का इस्तेमाल उम्र , लिंग , कोई नई या पुरानी बिमारी को ध्यान में रखकर डॉक्टर की सलाह के अनुसार किया जाता है ताकि आने वाले समय में कोई समस्या न हो

r66 medicine को लेने के लिए आपको एक चोथाई कप पानी लेना है और उसमे r66 medicine की 10 से 15 बूंदों को डालना है और सेवन करना है आपको एसा दिन में 3 बार करना है

आपको ध्यान रखना है की आपको r66 medicine को खाना खाने से एक या आधे घंटे पहले लेना है खाली पेट और लगातार इसका सेवन करना है

(1) . r66 medicine का सेवन करे

बिमारीअनियमित दिल की धड़कन
मात्रा10 से 15 ड्राप एक समय में
दिन में कितनी बार लेदिन में 3 बार ले सुबह दोपहर और शाम
खाना खाने के बाद या पहलेखाना खाने से आधे या एक घंटे पहले ले
किसके साथएक चोथाई कप पानी के साथ
सलाहडॉक्टर की सलाह ले
डॉक्टर की सलाह अनिवार्य है

r66 medicine के फायदे – Benefits of r66 medicine in hindi

r66 medicine के फायदे इस प्रकार है

(1) . अनियमित दिल की धड़कन के लिए लाभकारी है

अगर आपको दिल से जुडी समस्या है और दिल की धड़कन बाहुत कम ज्यादा होती है साँस लेने में समस्या होती है तो r66 medicine का सेवन करे इसके सेवन से दिल में blood circulation सही होता है और हम अछे से ऑक्सीजन प्राप्त करते है और दिल की धड़कन सामान्य रहती है

r66 medicine के दुष्प्रभाव – Side effects of r66 medicine in hindi

r66 medicine दिल की धड़कन को सामान्य करने में लाभकारी है और r66 medicine का हमारे शरीर पर कोई दुष्प्रभाव नहीं पड़ता है

परन्तु फिर भी अगर आपको कोई दुष्प्रभाव होता है तो आप तुरंत डॉक्टर से सलाह ले और कुछ समय के लिए r66 medicine का सेवन न करे

r66 medicine की सावधानियाँ – Precautions of r66 medicine in hindi

r66 medicine के सेवन से पहले आपको कुछ बातो का ध्यान रखना है जिसके बारे में आपको निचे देखने को मिल जाएगा जो इस प्रकार है

(1) . डॉक्टर की सलाह ले

जब भी आप दिल की धड़कन के लिए r66 medicine का सेवन करते है तो उसे पहले आपको डॉक्टर की सलाह जरुर लेनी है

(2) . शराब का सेवन न करे

शराब का सेवन आपके लिए नुक्सानदायक हो सकता है इसे आपकी समस्या बढ़ सकती है इसलिए r66 medicine लेने के दोरान शराब का सेवन न करे

(3) . चाय कॉफ़ी का सेवन न करे

चाय कॉफ़ी सबको पसंद होती है परन्तु अगर आप r66 medicine को ले रहे है तो आपको r66 medicine लेने से आधे या एक घंटे पहले या बाद में चाय कॉफ़ी का सेवन नहीं करना है

(4) . मांस का सेवन न करे

मांस का सेवन r66 medicine के असर को कम कर सकता है इसलिए आपको r66 medicine लेने के दोरान बहुत कम मांस का सेवन करना चाहिए

(5) . मुहँ को साफ़ रखे

r66 medicine को लेने से पहले या बाद में मुहँ को साफ़ रखना चाहिए मतलब प्याज जैसे खाद्य प्रदार्थ का सेवन नहीं करना चाहिए जिसे मुहँ से सुगंध आती है

(6) . exp date को जरुर चेक करे

r66 medicine को लेने के लिए जाए तो उसकी exp date को जरुर चेक करे ले क्युकी कई बार exp date निकली होती है

अगर आप r66 medicine को ले रहे है तो आपको उपर बताई गई बातो का ध्यान रखना है

r66 medicine की सामग्री – Ingredients of r66 medicine in hindi –

r66 medicine के अंदर अलग अलग homeopathic medicine मिली हुई है जिसके बारे में आपको निचे देखने को मिल जाएगा

(1) . आइबेरिस अमारा

आइबेरिस अमारा अनियमित दिल की धड़कन को सही करने के लिए बहुत ही लाभकारी है इसे दिल की धड़कन सामान्य हो जाती है

(2) . लियोनूरस कार्डियाका

लियोनूरस कार्डियाका आपके दिल के मसल्स पर कार्य करती है दिल के मसल्स को मजबूत करती है जिसे दिल की धड़कन सामान्य हो जाती है

(3) . ओलिएंडर

ओलिएंडर मरीज को तब दी जाती है जब उसकी दिल की धड़कन बहुत कम या ज्यादा हो और छाती में दर्द हो रहा है तो उस समय में ओलिएंडर बहुत अच्छा कार्य करती है

r66 medicine को कैसे रखे – How to store r66 medicine in hindi

आप r66 medicine को हमेशा ही सामान्य तापमान में रखे इसके लिए आप इसे अपने कमरे के सामान्य तापमान में रख सकते है

बस आपको एक बात का ध्यान रखना है की आपको r66 medicine को ज्यादा गर्म व ज्यादा ठंडी जगह पर नहीं रखना है इसे r66 medicine का असर कम हो सकता है

निष्कर्ष

आशा करते है की आपको r66 homeopathic medicine के बारे में पता चल गया होगा और अब आप इसका इस्तेमाल सही तरीके से करोगे अनियमित दिल की धड़कन की समस्या कई कारणों से हो सकती है इसलिए सबसे पहले डॉक्टर से जांच करवाए उसके बाद r66 medicine का सेवन करे

related topic

एथेरोस्क्लेरोसिस क्या है – Atherosclerosis in Hindi | धमनियों में रुकावट के कारण लक्ष्ण जांच इलाज

r79 homeopathic medicine uses in hindi | दिल की समस्या के लिए dr.reckeweg r79 medicine बहुत लाभकारी है

जानिए कुछ सवालो के जवाब

Q . क्या r66 medicine का इस्तेमाल प्रेगनेंसी के दोरान कर सकते है ?

ans . प्रेगनेंसी के दोरान r66 medicine को लेने से पहले आपको डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए |

Q . क्या स्तनपान करवाने वाली महिला r66 medicine का सेवन कर सकती है ?

ans . स्तनपान करवाने वाली महिला r66 medicine को लेने से पहले डॉक्टर की सलाह ले |

Q . r66 medicine को लेने के कितनी समय के बाद खाना खा सकते है ?

ans . आप r66 medicine को लेने के 1 घंटे बाद खाना खा सकते हो |

Q . r66 medicine को कितने दिनों तक ले सकते है ?

ans . r66 medicine का सेवन कितने दिन कर सकते है इसके बारे में आप डॉक्टर की सलाह ले |

डिस्क्लेमर – जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर प्रकार से प्रयाश  किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी thedkz.com की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है