air mass flow sensor (hfm) क्या है | performance mass air flow sensor

आज हम बात करते है AIR MASS FLOW SENSOR (HFM) के बारे में | ये sensor है क्या ?

यह sensor  हर CRDI कार में लगा होता है | यह  sensor इम्पोर्टेन्ट इनफार्मेशन ECU तक पहुचाता है |

इस sensor का इम्पोर्टेन्ट काम इंजन  में घुसने वाली हवा को पकड़ना है और इस डिटेल को ECU तक अछे से पहुचाना होता है | क्युकी हवा की लिमिट होती है ,की इंजन में कितनी हवा जानी चाहिए , इंजन में हवा और DISEL का फिक्स मिसरन होता है |

इंजन में जो हवा होती है और जो DISEL होता  है इन दोनों का मेस्रण होता है उनका फिक्स रेसो जो है 14  रेसो  1 होता है मतलब 14 दाने अगर हवा के होगे तो 1 दाना DISEL का होता है | यह रेसो मेंटेन करने के लिए यह जानकारी ECU के पास होना बहुत जरुरी है | की इंजन के अन्दर कितनी हवा और DISEL गयी |

मान लीजिये अगर 14 दाने हवा के गए तो 1 दाना DISEL का  इंजेक्टर को ECU देगा |

इस दोरान हमारा ECU जो है वह और इनफार्मेशन इकठा करता है | ओक्सिजन SENSOR  से भी | ऑक्सीजन sensor का भी बहुत बड़ा रोल होता है | कितना DISEL इंजन को मिलना चाहिए यह डिपेंड करता है HFM sensor और ऑक्सीजन o2 sensor पर | जब ECU इन दोनों से इनफार्मेशन लेता है तो फिर आगे इंजेक्टर को यह इनफार्मेशन देता है |और फिर इंजेक्टर इंजन के अन्दर DISEL सप्लाई करता है | AIR MASS SENSOR AIR फ़िल्टर में लगा होता है |

 

 AIR MASS sensor खराब हो जाये तो क्या होगा

AIR MASS SENSOR जब खराब हो जाता है तो ECM को पता ही नहीं चल पाता की कितनी हवा इंजन के अन्दर जा रही है |

AIR MASS SENSOR खराब होने पर सबसे पहले जो दिकत आती है वो LOW PICKUP की आती है | PICKUP बहुत ड्रॉप हो जाती है |

अगर AIR MASS SENSOR अगर पूरा खराब हो जाता है तो कार स्टार्ट भी नहीं होती |

या फिर कार लेट स्टार्ट होती है |

 

AIR MASS SENSOR में क्या क्या लगा होता है |

 

इसमें एक सोकेट लगी होती है ,एक माइक्रो कंट्रोलर चिप लगी होती है | और एक एलिमेंट लगा होता है | ये बहुत स्मार्ट sensor  होता है | इसकी एक खुद की एक चिप होती है | यह चिप सारी चीजो को परख कर एक सिग्नल जनरेट करता है | यह सिग्नल 5 वाल्ट का होता है या फिर 4 .8 वाल्ट होता है |और यह सिग्नल हमारे ecu तक पहुचता है |

इसके अन्दर एक वायर होती है यह किस तरह काम करता है | इसमें एक हॉट वायर लगी होती है और साथ में दो रजिस्टर लगे होते है|  और इन रजिस्टर की  एक प्रोपर्टी होती है जेसे ही TEMPRECTURE हाई होता है , तो रेजिस्टेंन भी हाई हो जाता है |

ये रजिस्टर काम क्या करता है |

एक रजिस्टर लगा होता है INTEK AIR TEMPRECTURE में | यह अन्दर आने वाली हवा का TEMPRECTURE नापता है | और दूसरा रजिस्टर वह हित्टर की तरह काम करता है |

जब इस sensor में हवा आती है तो AIR MASS sensor के रजिस्टर का TEMPRECTURE LOW होता है , तो ये रजिस्टर यह जानकारी ECU को देता है | जेसे ही TEMPRECTURE गिरता है रजिस्टेंस भी गिरता है | इन रजिस्टरों में जो बहने वाला जो करेंट होता है उसको रोकने की समता होती है | जब रोकने की समता बढ़ जाती है ,तो करेंट जायदा बहने लगेगा | जब करेंट जायदा बहने लगता है | तो दूसरा रेजिटेंस अपना काम करने लगता है | TEMPRECTURE को वही लेकर आता है |

इसमें एक माइक्रो कंट्रोलर चिप होती है | यह इसका काम यही होता है की रजिस्टरों के करंट को मेंटेन करता है | और ECU को इनफार्मेशन देता है |

 

MASS AIR FLOW KG/H  VOLTAGE (V) MASS AIR FLOW KG/H      VOLTAGE (V)
              0      0.95-1.05               250                   3.51
            10         1.28               370                   3.93
            15         1.41              480                   4.23
            30        1.71              640                   4.56
            60        2.16              800                    4.82
           120        2.76

 

यह चार्ट है AIR MASS SENSOR के सिग्नल का |

मान लीजिये 0.95 -1.05 वोल्टेज सप्लाई पास हुई तो हवा 0 % पास होगी | आप ऊपर चार्ट के अनुसार वोल्टेज और हवा के सप्लाई देख सकते है |

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *