ना करे बाइक का सेल्फ काम तो हो सकते है यह कारण

ना करे बाइक का सेल्फ काम तो हो सकते है यह कारण सेल्फ किसी भी बाइक के लिए इतना महत्वपूर्ण नहीं होता है क्युकी बाइक को किक से भी स्टार्ट किया जा सकता है

परन्तु जैसे की आपको पता है की एक्टिवा में किक पीछे की तरफ है तो उतर कर किक लगानी पड़ती है जिसे सेल्फ बहुत जादा जरुरी हो जाता है इसके अलावा बजाज पल्सर में एक मोडल है जिसमे किक नहीं है और सेल्फ से ही बाइक स्टार्ट होती है

और उस बाइक के लिए सेल्फ बहुत जादा जरुरी होता है इसके अलावा सभी बाइक में किक है और सेल्फ काम ना करे तो किक से स्टार्ट किया जा सकता है बाइक को सेल्फ इंजन को घुमाने का कार्य करता है और बाइक स्टार्ट होती है

सेल्फ मेगनेट की तरफ लगा होता है और मेगनेट की गरारी से जुड़ा होता है और जब हम सेल्फ लगाते है तो सेल्फ मेगनेट को घुमाता है जिसे इंजन भी घूमता है और मेगनेट से निकला करंट प्लग में जाता है और बाइक स्टार्ट होती है

परन्तु सेल्फ बहुत जल्दी खराब हो जाता है और सिर्फ सेल्फ ही नहीं बाइक में बहुत से पार्ट लगे है जिनके खराब होने से बाइक का सेल्फ काम करना बंद कर देता है आज हम उन्ही कुछ कारण की बात करेगे जानिए

Bike not starting after rain बारिश होने के बाद बाइक स्टार्ट क्यों नही होती है

ना करे बाइक का सेल्फ काम तो हो सकते है यह कारण

बाइक का सेल्फ काम ना करे तो हो सकते है बहुत से अलग अलग कारण जो इस प्रकार है

.  सेल्फ के कार्बन खत्म हो जाने के कारण

बाइक का सेल्फ काम नहीं करता है तो उसका सबसे पहला कारण होता है सेल्फ के कार्बन का ख़त्म हो जाना बाइक जैसे जैसे पुरानी होती जाती है और हम सेल्फ का इस्तेमाल करते रहते है

तो सेल्फ के अन्दर कार्बन खत्म होते रहते है और घिस जाते है और जब सेल्फ के कार्बन पूरी तरह से खत्म हो जाते है तो बाइक का सेल्फ काम करना बंद कर देता है और सेल्फ नही घूमता है

.  सेल्फ रिले खराब होने के कारण

सेल्फ के कार्बन के बाद दूसरा कारण होता है सेल्फ के रिले का खराब होना अधिकतर बाइक में सेल्फ के काम ना करने का दूसरा कारण रिले का खराब हो जाना सेल्फ रिले बैटरी के पास लगी होती है

और इसमें चार वायर लगी होती है और जब हम सेल्फ का बटन दाबते है तो करंट रिले से होता हुआ सेल्फ में जाता है और सेल्फ घूमता है और अगर रिले खराब हो जाती है तो सेल्फ काम नहीं करेगा इसलिए रिले चेक करे

.  बैटरी खराब और डाउन होने के कारण

सेल्फ के काम ना करने का तीसरा कारण बैटरी खराब होना और डाउन होना होता है आपकी बाइक का सेल्फ तब तक काम नहीं करेगा जब तक बैटरी सही नही होगी अगर बैटरी खराब होगी तो स्लेफ़ काम नहीं करेगा

इसके अलावा बैटरी खराब होने पर लाइट , हॉर्न , इंडीकेटर सभी बंद हो जाती है और अगर बैटरी डाउन होती है तो स्लेफ़ या रिले टक टक करती है यह बैटरी डाउन होने का लक्ष्ण होता है

.  फ्यूज ख़राब होने के कारण

बैटरी का कनेक्शन फ्यूज के साथ होता है फ्यूज बाइक में बहुत जादा महत्वपूर्ण होता है अगर वायरिंग में करंट जादा चला जाता है या करंट की तार टूट के टच हो जाती है तो फ्यूज खराब हो जाता है

जिसे बैटरी का कनेक्शन खत्म हो जाता है बैटरी का करंट आगे नहीं जाता है जिसे सेल्फ खराब हो जाता है और हॉर्न , इंडीकेटर बंद हो जाते है इसलिए फ्यूज को जरुर चेक करे

.  सेल्फ बटन ख़राब होने के कारण

सेल्फ काम ना करने का एक कारण होता है सेल्फ का बटन खराब होना जब हम key ऑन करके सेल्फ के बटन को दबाते है तो सेल्फ को स्टार्ट करने वाला करंट आगे रिले तक नहीं जाता है जिसके कारण सेल्फ काम नहीं करता है

देखा गया हैं की कई बार सेल्फ बटन के कंनेक्टेर निकल जाते है जिसे सेल्फ काम करना बंद कर देता है सेल्फ बटन में कई बार बटन काम करने भी लगता है इसलिए ध्यान से चेक करे सेल्फ बटन को तभी पता चल पाएगा

.  वायरिंग टूट जाने के कारण

सेल्फ काम ना करने का एक कारण जो सबसे जादा देखा गया है वह है की वायरिंग का टूट जाना अगर किसी कारण सेल्फ की वायर टूट जाती है तो सेल्फ काम करना बंद कर देता है

सेल्फ में दो वायर लगी होती है एक अर्थ वायर और दूसरी सेल्फ कार्बन में लगी होती है और सेल्फ को घुमाने के लिए इन दोनों वायर का सही रहना बहुत जरुरी होता है इसलिए इन दोनों वायर को भी चेक करे

.  सेल्फ के अर्थ ढीला होने के कारण

जैसा की हमने आपको बताया है की सेल्फ में एक अर्थ वायर भी लगी होती है जो सेल्फ के ही बोल्ड में लगी होती है अगर यह वायर टूट जाती है या इसमें जंग लग जाता है तो अर्थ सही से काम नहीं कर पाता है जिसके कारण सेल्फ काम करना बंद कर देता है

बाइक रोकते समय पहले क्लच दबाये या पहले ब्रेक और माइलेज कम क्यों होती है

सेल्फ के कार्बन को कैसे बदले 

सेल्फ के कार्बन को बदलना बहुत आसान होता है आप किसी भी बाइक और एक्टिवा के सेल्फ के कार्बन को खुद ही बदल सकते है बस आपको थोड़ी मेहनत करनी पड़ेगी

कार्बन खोले कैसे ( स्प्लेंडर +)

.  सेल्फ खोलने से पहले आपको सबसे पहले बैटरी की वायर को खोलना होगा इसे आपको वायर खोलने में कोई समस्या नहीं होगी

.  उसके बाद आपको सबसे पहले गियर लीवर को खोलना होगा उसमे 10 नंबर का बोल्ड लगा होता है उसे खोले और गियर लीवर को बाहर निकाल ले

.  उसके बाद छोटी चेन के कवर को खोलना है उसमे आपको 8 नंबर के दो बोल्ड देखने को मिलेगे उसे खोलकर कवर को बाहर निकाल ले

.  उसके बाद आपको सेल्फ की वायर को अलग करना होगा अगर आप ध्यान से देखेगे तो आपको बैटरी के पास सेल्फ की वायर का कंनेक्टेर देखने को मिलेगा उसे खोलना है

.  उसके बाद आपको मेगनेट के कवर को खोलना होगा उसे पहले आपको न्यूटल वायर को खोलना होगा तभी मेगनेट कवर खुलेगा आपको न्यूटल वायर को स्विच से अलग करके मेगनेट कवर में लगे चार 8 नंबर के लगे बोल्ड को खोलकर कवर निकला लेना है

.  उसके बाद आपको सेल्फ में गले तीन 8 नंबर के बोल्ड को खोल लेना है और सेल्फ हिलने लगेगा उसके बाद आपको सेल्फ में लगी चेन को सेल्फ से अलग करना होगा और सेल्फ को बाहर निकाल लेना है

.  उसके बाद आपको सेल्फ में एक लाइन लगा लेनी है क्युकी जहाँ से आप उसे खोलेगे वही उसे फिट करना होगा उसके बाद आपको सेल्फ में लगे 7 नंबर के तीन बोल्ड को खोल लेना है

. उसके बाद आपको सेल्फ को खोलना है और कवर को उपर की तरफ खीच लेना है आपको आर मेचर को निकाल लेना है आपको दो कार्बन देखने को मिलेगे और उसमे पेचकस वाले बोल्ड लगे होगे उसे खोलकर कार्बन को निकाल लेना है

गियर लगाने पर क्यों लगता है झटका बाइक में जानिये कुछ महत्वपूर्ण कारण

कार्बन लगाए कैसे ( स्प्लेंडर +)

अब आपको सेल्फ के कार्बन को लगाना होगा उसके लिए आपको वही करना होगा जो सेल्फ को खोलते समय किया था परन्तु सेल्फ को फिट करते समय आपको हर चीज का अच्छे से ध्यान देना होगा

.  आपको सबसे पहले सेल्फ को और आर मेचर को साफ़ करना है उसके बाद आपको सेल्फ की पलेट को लेना है और उसमे कार्बन को लगाना है और पेचकस के बोल्ड को टाईट कर देना है

.  उसके बाद आपको दो स्प्रिंग देखने को मिलेगे आपको दोनों स्प्रिंग को कार्बन वाली जगह पर डालना है और उसके उपर से कार्बन को डालना है और पकड लेना है उसके बाद आपको उपर से आर मेचर को लगा देना है

.  उसके बाद आपको सेल्फ के कवर को लगाना है जहाँ आपने निसान लगाया था उसी जगह पर कवर को लगा देना है और 7 नंबर के बोल्ड के कस देना है और सेल्फ को घुमाकर चेक कर लेना है

.  उसके बाद आपको सेल्फ को लगाना है और सबसे पहले सेल्फ की चेन को लगाना है और सेल्फ के तीनो बोल्ड को कस देना है ध्यान रहे की एक बोल्ड में अर्थ वायर लगेगी

उसके बाद मेगनेट कवर को लगाना है उसके बोल्ड को कस देना है न्यूटल वायर को लगा देना है चेन के कवर को लगा देना है और फिर गियर लीवर को लगा देना है

.  उसके बाद आपको सेल्फ की वायर को लगाना है जो आपने कंनेक्टेर खोला था उसके बाद आपको बैटरी की वायर को लगा देना है सेल्फ के कार्बन फिट हो जाएगे

क्यों करती है बाइक वाइब्रेशन चलते समय जानिये कुछ कारण

जानिए कुछ सवालों के जवाब 

Q . क्या पुरानी बाइक में सेल्फ को लगाया जा सकता है ?

ans . हाँ पुरानी बाइक में आप सेल्फ को लगा सकते है परन्तु आपको बाइक में बहुत सी चीजो को बदलना होगा जैस वायरिंग , चेम्बर , बैटरी आदि को तभी आप सेल्फ का इस्तेमाल कर सकते है |

Leave a Comment