मोच की समस्या सभी के साथ एक न एक बार जरुर होती है इसलिए आज हम आपको मोच के घरेलू उपाय के बारे में बताएगे जिसे आपको मोच ठीक करने में लाभ हो

किसी अंग पर जादा भार पड़ना या अचानक से पैर कही पड़ जाना , लचक लग जाना और जब हिलने डुलने का प्रयास करने में दर्द बहुत अधिक जादा हो जाता है तो उसे हम मोच का नाम देते है

मोच को हम इंग्लिश में sprain भी कहते है परन्तु जादातर लोग मोच ही बोलते है मोच में सिर्फ देखा गया है की जोड़ो से सम्बंधित मांसपेशियों पर ही भार पड़ता है

मोच दोनों तरह से हो सकती है किसी व्यक्ति को गंभीर मोच की समस्या हो जाती है तो किसी व्यक्ति को समान्य मोच की समस्या होती है जो जल्दी ठीक हो जाती है

कई बार चोट लगने पर हड्डी टूट जाती है और व्यक्ति मोच का इलाज करवाते रहता है इसलिए मोच के इलाज से पहले जांच करवा ले की कोई हडी ना टूट हो तभी मोच का इलाज करवाए

हड्डी टूटी है या नहीं इस बात का पता करने के लिए आप एक्सरे करवा सकते है जिसे आपको अछे से पता चल जाएगा उसके बाद अगर हडी ठीक है तो आप निचे दिए गए मोच के लिए उपाय अपना सकते है

मोच के घरेलू उपाय – sprain home remedies in hindi

मोच के घरेलू उपचार इस प्रकार है परन्तु उसे पहले डॉक्टर से जांच करवाना बहुत जरुरी होता है इसलिए लापरवाही न बरते

मोच-के-घरेलू-उपाय

मोच के लिए मुख्या उपाय

मोच को घर पर ही ठीक करने के लिए आप मुख्या रूप से rice protocol का इस्तेमाल कर सकते है यह तरीका मोच को ठीक करने के लिए बहुत ज्यादा असरदार है इसमें rise का मुख्या अर्थ होता है

R = meaningRest
I = meaningIcing
C = meaningCompression
E = meaning Elevation
यह Rice का पूरा मतलब है

अब हम आपको पैर की मोच के लिए Rice के पुरे मतलब को विस्तार से एक एक करके बताएगे जिसे आपको मोच ठीक करने में आसानी हो जानते है

(1) . R = rest

R के अनुसार rest है जब भी आपके पैर में मोच आती है और आपके शरीर का पूरा वजन उसी पैर पर रहता है तो आपको ज्यादा से ज्यादा आराम करना है ताकि उस पैर पर वजन ज्यादा न पड़े अगर आप एसा करते है तो इसे मोच जल्दी ठीक हो जाती है

रेस्ट के लिए आप splint , crutch and stick , brace का इस्तेमाल कर सकते है एक बात का ध्यान रखे की आप जितना हो सके कम चले ज्यादा चलने से बचे

(2) . I = icing

I का मतलब icing मोच को ठीक करने के लिए आप बर्फ का इस्तेमाल कर सकते है आप बर्फ की सिकाई कर सकते है इसके लिए आप पुरे दिन में 5 से 6 बार मोच पर बर्फ की सिकाई करे 10 मिनट के लिए इसके लिए ice pack का इस्तेमाल करे इसे आपको दर्द से आराम मिलेगा और सुजन भी कम होगी

(3) . C = compression

C का मतलब compression इसके दोरान सुजन को कम किया जाता है आप अगर compression bandage को मोच पर बांधते है तो सुजन कम हो जाती है इसी के साथ इसके कारण खून की नलियाँ में दबाव कम हो जाता है जिसे खून का प्रवाह कम होता है जिसे दर्द कम होने लगता है क्युकी जब मोच लगती है तो खून का प्रवाह अधिक हो जाता है

(4) . E = elevation

E मतलब elevation मोच के बाद आप दर्द को कम करने के लिए elevation का इस्तेमाल कर सकते है इसके अनुसार आप जब सो रहे होते है तो आपको पैर को थोडा उपर उठाकर रखना है इसके लिए आप तकिये का इस्तेमाल कर सकते है पैर को हृदय के बराबर में उठाए इसे खून का प्रवाह सही होगा

इस प्रकार आप rice protocol का इस्तेमाल घर पर ही करके मोच को ठीक कर सकते है और जब मोच ठीक हो जाए तो आप आसानी से पैर पर वजन डाल सकते है

मोच के लिए अन्य उपाय

(1) . गर्म पानी या गर्म रेत का इस्तेमाल

गर्म पानी या गर्म रेत मोच के लिए बहुत जादा लाभकारी होता है यह मोच को खत्म करती है इसके लिए आपको गर्म रेत से मोच को सेंक सकते है आपको आराम मिलेगा

(2) . आमाहल्दी और चन्दन के लेप का इस्तेमाल करे

मोच के लिए आमाहल्दी और चन्दन का लेप भी बहुत अधिक लाभकारी होता है क्युकी हल्दी और चन्दन में बहुत से गुण पाए जाते है उसके लिए आपको आमाहल्दी और चन्दन का लेप बनाकर मोच वाली जगह पर लगाना है इसे भी आपको अच्छा आराम मिलेगा

(3) . तिल और नारियल का इस्तेमाल करे

तिल और नारियल मोच से आराम दिलाता है उसके लिए आपको तिल और नारियल को एक साथ कूट लेना है और उसे तेल में भुज लेना है और उसमे थोड़ी हल्दी डाल लेनी है और उसको मोच वाली जगह पर लगाए आराम मिलेगा

(4) . हल्दी और फिटकरी का इस्तेमाल करे

हल्दी और फिटकरी मोच को सही करने के लिए इस्तेमाल की जाती है उसके लिए आपको हल्दी और फिटकरी को पानी में घिस लेना है और उसमे तेल को डाल लेना है और उस लेप को मोच पर लगाना है

(5) . त्रिफला गुग्गुल का इस्तेमाल

त्रिफला गुग्गुल मोच को सही करने में बहुत अधिक लाभकारी सिद्ध हुआ है उसके लिए आपको त्रिफला गुग्गुल की 2 या 3 गोलियाँ दिन में 3 बार लेनी है इसे मोच से जल्दी आराम मिलेगा

(6) . योगराज गुग्गुल का इस्तेमाल

योगराज गुग्गुल मोच की समस्या के लिए बहुत ज्यादा लाभकारी होता है उसके लिए आपको जादा कुछ नहीं करना है आपको 2 या 3 गोलियाँ दिन में 3 बार लेनी है

निष्कर्ष

आशा करते है की आपको मोच के घरेलू उपाय के बारे में पता चल गया होगा , मोच एक आम समस्या भी है और गंभीर भी है इसलिए मोच को अनदेखा ना करे तुरंत डॉक्टर के पास जाए और अछे से जांच करवाए उसके बाद ही मोच के लिए घर पर उपाय के बारे में सोचे डॉक्टर के सलाह के अनुसार ही चले

related topic

R55 medicine का इस्तेमाल सभी प्रकार की Injury को ठीक करने के लिए किया जाता है

पैर फटना क्या है और इसके घरेलू उपाय

जानिए कुछ सवालो के जवाब

Q . पैर में मोच आने के लक्षण ?

ans . सुजन , दर्द , वजन ना उठा पाना आदि लक्ष्ण दिखाई देते है |

Q . मोच ठीक होने में कितना समय लगता है?

ans . इसके बारे में कुछ कहा नहीं जा सकता है हफ्ता या 3 हफ्ते भी लग सकते है |

डिस्क्लेमर – जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर प्रकार से प्रयाश  किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी thedkz.com  की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है