हिचकी के घरेलू उपाय आपको अलग अलग देखने को मिल जाएगे जो आपके लिए बहुत फायदेमंद होते है आमतोर पर जिस बिमारी में आपको हिक हिक की आवाज आती है उसे ही व्यवहारिक भाषा में हिचकी कहाँ जाता है और अगर आयुर्वेद के अनुसार हिचकी को हिक्का कहाँ जाता है और इंग्लिश में hiccup कहाँ जाता है

आमतोर और सबसे जादा देखा गया है की हिचकी खांसी और दमे के कारण ही आती है और हम अत्यधिक परेशान रहते है , हमारे शरीर में लंग्स के निचे एक प्लेट होती है जिसे डायफ्राम कहाँ जाता है यह डायफ्राम हमारे शरीर में ऑक्सीजन लेने और कार्बन डाईऑक्साइड छोड़ने में हमारी मदत करता है

जब यह डायफ्राम कसता है मतलब जब हम एयर लेते है तो हमारे लंग्स में एयर भर जाती है और जब हम साँस को छोड़ते है तो एयर बाहर निकल जाती है डायफ्राम का कार्य हमारे मष्तिष्क पर निर्भर करता है हम कितनी एयर लेते है कितनी एयर छोड़ते है यह हमारे दिमाग पर निर्भर है

जब हमें हिचकी आती है तो हमारा दिमाग हमारे डायफ्राम को एक दम से कस देता है जिसके कारण गले के अन्दर बहुत एयर जमा हो जाती है और हमारी बॉडी एकदम से जादा एयर लेने की कोशिस करती है जिसके कारण हमारे गले में एक वोकल कोर्ड लगा होता है जो एकदम से बंद हो जाती है जादा एयर के कारण

और इसी वोकल कोर्ड जब बंद होता है उस वोकल कोर्ड के बंद होने की आवाज को ही हम हिचकी कहते है देखा जाता है की जब हिचकी आती है तो अमाशय में एयर अधिक बढ़ जाती है इसके अलावा जब हम जादा रोते है , या जादा खुस होते है , बहुत तेजी से खाना या पीना हिचकी का कारण होता है जानवर को भी हिचकी आती है

गले की आवाज बेठने के घरेलू उपाय कारण लक्ष्ण

हिचकी के घरेलू उपाय

हिचकी के बहुत से घरेलू उपाय होते है जिसे आप हिचकी से छुटकारा पा सकते है जो आपको निचे देखने को मिल जाएगे जानिए

.   साँस को रोके

देखा गया है की अगर सांस को रोकर रखा जाए तो हिचकी को बंद किया जा सकता है इसके लिए आप अपनी सांस को कुछ सेकंड को रोकर रखे एसा करने से फेफड़ो में कार्बन डाईऑक्साइड जमा हो जाती है जिसे हमारा डायफ्राम उस कार्बन डाईऑक्साइड को बाहर निकालने की कोशिस करता है जिसे हिचकी बंद हो जाती है

.   चीनी है फायदेमंद हिचकी के लिए

चीनी हिचकी को रोकने के लिए फायदेमंद होता है इसके लिए आप एक गिलास पानी से चीनी डालकर उसमे चुटकी भर नमक डालकर सेवन करे इसे आपकी हिचकी बहुत जल्द बंद हो जाएगी और आपको आराम मिलेगा

महिलाओं में कमर दर्द के घरेलू उपचार

.   निम्बू और सहद का इस्तेमाल करे हिचकी के लिए

हिचकी आने पर आप निम्बू और सहद का सेवन करना बहुत फायदेमंद होता है इसे जल्दी हिचकी खत्म हो जाती है आपको निम्बू का एक चमच तजा रस लेना है उसके बाद उसमे एक चमच सहद डालना है उसके बाद दोनों को अच्छे से मिक्स करना है और उसका सेवन करना है चाटना है इसे हिचकी जल्दी बंद हो जाएगी

.   खाने का जल्दी जल्दी सेवन ना करे

देखा गया है की जो लोग जल्दी जल्दी खाना खाते है और जादा तीखा खाना खाते है तो हिचकी की समस्या उत्पन हो जाती है इसके लिए ध्यान दे की आप आराम आराम से खाना खाए और अच्छे से चबाकर खाना खाए और जादा तीखा खाना ना खाए एसा करने से हिचकी जल्दी बंद हो जाती है

छाती में दर्द होना घरेलू उपाय और कुछ बचाव

.   चोकलेट पाउडर का प्रयोग करे

चोकलेट पाउडर हिचकी को रोकने में बहुत अधिक फायदेमद होता है अगर आपको बार बार हिचकी आ रही है और आप परेशान हो गए है तो आपको चोकलेट पाउडर का इस्तेमाल करना सही होगा जब भी हिचकी आए तो साथ ही एक या आधा चमच चोकलेट पाउडर का सेवन कर ले इसे जल्दी हिचकी बंद हो जाएगी

.   नमक और पानी का इस्तेमाल हिचकी के लिए

आपको नमक और पानी का सेवन करना है यह आपकी हिचकी को बंद करने के लिए बहुत फायदेमंद होता है आपको एक गिलास पानी लेना है और कम मात्रा में आपको उसमे नमक डालना है उसके बाद उस पानी का सेवन करना है इसे आपकी हिचकी की समस्या जल्दी ठीक हो जाएगी

सर्दी जुकाम के 16 अचूक उपाय और सर्दी के घरेलू उपाय और 1 दिन में जुकाम कैसे ठीक करें,कारण,तरीका | home remedies for cold and cough in hindi

.   काली मिर्ची का इस्तेमाल है फायदेमंद हिचकी के लिए

काली मिर्ची का इस्तेमाल बहुत सी चीजो में किया जाता है आयुर्वेद के अनुसार काली मिर्ची का इस्तेमाल बहुत सी बिमारी को सही करने के लिए किया जाता है आपको तीन काली मिर्ची लेनी है और उसमे मिश्री का एक टुकड़ा या चिनी के कुछ दाने को मुंह में रखर चबाए और उसका रस चुसे इसे हिचकी जल्दी ख़त्म हो जाती है

.   उलटी गिनती गिने हिचकी आने पर

कहाँ जाता है की उलटी गिनती गिने से हिचकी बंद हो जाती है क्युकी जब हम उलटी गिनती गिनते है तो आपका दिमाग उसी में लग जाता है और हिचकी को हमारा दिमाग भूल जाता है जिसे हमारी हिचकी ठीक हो जाती है

.   टमाटर का सेवन करे हिचकी आने पर

हिचकी हमें अचानक से शुरू होती है और कुछ समय बाद खुद ही ठीक हो जाती है परन्तु कई बार हिचकी जादा हो जाती है जिसे हमे परेशानी होती है उसके लिए आप टमाटर का सेवन करे जब भी आपको हिचकी होती है तो साथ ही टमाटर का सेवन करे आप टमाटर खा सकते है हिचकी बंद हो जाएगी

पेट दर्द का घरेलू उपचार ,कारण,पेट दर्द के प्रकार,पेट दर्द की समस्या,इलाज का तरिका 

.   पीनट बटर का सेवन करे हिचकी आने पर

पीनट बटर का इस्तेमाल हिचकी को बंद करने के लिए किया जाता है जब आपको हिचकी आती है तो आप साथ ही एक चमच पीनट बटर का सेवन करे एसा करने से सांस लेने की प्रक्रिया में बदलाव आता है जिसके कारण हिचकी आना बंद हो जाती है और हमें हिचकी से आराम मिलता है

हिचकी के आयुर्वेदिक उपाय 

आयुर्वेद के अनुसार हिचकी को सही करने के लिए बहुत से उपाय है जो इस प्रकार है

.   संख भस्म

आपको एक गिलास गर्म पानी लेना है और उसमे आपको 250 मी . ग्राम . मिलाना है और दिन में तीन चार बार सेवन करना है इसे आपकी हिचकी रुक जाएगी

.   काली मिर्च का चूर्ण

आपको सबसे पहले भोजन करना है और उसके बाद एक गिलास गर्म पानी लेना है उसके बाद आपको 500 मी . ग्राम में से एक ग्राम की मात्र को लेना है और दिन में तीन या चार बार सेवन करना है

.   कपुर्र काचरी चूर्ण

आपको इसका गर्म पानी में एक एक ग्राम का सेवन करना है इसे आपको हिचकी से छुटकारा मिलता है

.   संख वटी

संख वटी का सेवन हिचकी के लिए फायदेमंद होता है आपको संख वटी दो दो गोलियों का सेवन गर्म पानी के साथ दिन में दो या तीन बार ले इसे आपको फायदा होगा

.   सूत शेखर रस

250 मी . ग्राम की मात्रा में दो या तीन बार सेवन करे इसे हिचकी में राहत मिलती है

पेट में कीड़े होने के लक्षण और उपाय,नुकसान ,कारण ,pet me kide ki medicine | पेट के कीड़े की घरेलू दवा

हिचकी की समस्या में क्या खाए 

.   भात का सेवन करे हिचकी की समस्या में

.   गेहू का सेवन करे हिचकी की समस्या में

.   जवार का सेवन करे हिचकी की समस्या में

.   अनार और सेब का सेवन करे हिचकी की समस्या में

हिचकी की समस्या में क्या ना खाए 

.   आपको सभी प्रकार के ठन्डे पेय प्रदार्थ का सेवन ना करे

.   दही का सेवन हिचकी की समस्या में नहीं करना चाहिए

.   श्री खंड का सेवन ना करे हिचकी की समस्या में

हिचकी होने पर क्या टाले 

.   हिचकी होने पर जोर से ना बोले

.   हिचकी की समस्या होने पर दोपहर में ना सोए

.   हिचकी की समस्या होने पर रात को ना जागे

मधुमेह के कारण ,डायबिटीज के लक्षण और उपाय,प्रकार,घरेलू उपाय, दवाइयाँ,क्या ना खाए,क्या करे मधुमेह की समस्या होने पर

डिस्क्लेमर – जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर प्रकार से प्रयाश  किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी thedkz.com  की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है