क्या आपको पता है सीएनजी से होते है कार में 10 बड़े नुकसान जिसे जानकर आप हैरान हो जाओगे और सीएनजी कार लेने से पहले सोचोगे

सीएनजी कार आज के समय में सबसे ज्यादा चलाई जा रही है वजह इसका खर्चा बहुत कम पड़ता है यह माइलेज बहुत अच्छी देती है और इसे प्रदुषण कम होता है

परन्तु सीएनजी जितनी फायदेमंद है इसके उतने नुक्सान भी होते है यह आपकी कार में अलग अलग समस्या को उत्पन करती है जिसे आपका खर्चा होता है

इसलिए आज हम आपको सीएनजी के कारण आपकी कार में होने वाले 10 नुक्सान (disadvantages of cng cars in hindi) के बारे में बताएगे जिसके बारे में निचे देखने को मिल जाएगा

सीएनजी से होते है कार में 10 बड़े नुकसान

सीएनजी कार के नुकसान निचे देखने को मिल जाएगे जो इस प्रकार है

सीएनजी-से-होते-है-कार-में-10-बड़े-नुकसान

(1) . शॉक एब्जॉर्बर खराब होते है

सीएनजी कार में सबसे पहला नुकसान जो देखने को मिलता है वह है शॉक एब्जॉर्बर का जल्दी से खराब हो जाना क्युकी सीएनजी का टैंक कार के पीछे बूट में रखा जाता है और यह भारी होता है जिसके कारण कार के शॉक एब्जॉर्बर पर ज्यादा असर पड़ता है और शॉक एब्जॉर्बर लिक हो जाते है और बदलवाने पड़ते है

(2) . हेड वाल्व कट जाते है

सीएनजी का सबसे बड़ा नुकसान इंजन पर पड़ता है अगर आप अपनी कार की सर्विस समय पर नहीं करवाते है तो इंजन की लाइफ कम होती है और सीएनजी के कारण हेड के वाल्व खराब हो जाते है जिसके कारण आपको हेड के वाल्व को बदलवाना पड़ता है

(3) . पीकप कम हो जाती है

सीएनजी कार में एक समस्या और ज्यादा देखने को मिलती है वह है पीकप का कम होना पेट्रोल कार के मुकाबले सीएनजी कार में पीकप कम देखने को मिलती है और यह सीएनजी कार की बड़ी समस्या है

(4) . बूट में जगह कम हो जाती है

सीएनजी कार में सबसे बड़ी समस्या जो देखि गई है वह है बूट में जगह का कम हो जाना सीएनजी का टैंक बड़ा होते है और उसे कार में और किसी जगह पर नहीं लगाया जा सकता है इसलिए सीएनजी टैंक को बूट में लगाया जाता है जिसके कारण बूट की जगह खत्म हो जाती है

(5) . गैस सिलिंडर का छोटा होना

सीएनजी का टैंक बहुत छोटा है और यह भी एक समस्या है आप सीएनजी के टैंक को फुल करवाके 200 या 250 किलोमीटर चल सकते है उसके बाद आपको सीएनजी टैंक को दोबारा भरवाना होगा परन्तु पेट्रोल टैंक के अनुसार आप लम्बी दुरी तय कर सकते है इसलिए यह एक समस्या है सीएनजी कार में

(6) . गाडी का दाम ज्यादा है

सीएनजी कार लेते समय हमे एक बड़ा नुकसान उठाना पड़ता है वह है ज्यादा खर्च करना भारत में सीएनजी कार पेट्रोल कार से ज्यादा महंगी है जिसके कारण हमे ज्यादा पैसे देने पड़ते है सीएनजी कार पेट्रोल कार से कम से कम 30 से 50 हजार महंगी है

(7) . अधिक सावधानी की जरूरत

सीएनजी कार लेने के बाद आपको ज्यादा सावधानी की जरूरत होती है क्युकी सीएनजी ज्यादा ज्वलनशील होती है जल्दी से आग पकड लेती है इसलिए जब भी सीएनजी टैंक को भरा जाता है तो सभी को कार से निकलकर थोडा दूर खड़ा होना पड़ता है इसलिए सीएनजी कार में ज्यादा सावधानी की जरूरत होती है

(8) . अधिक वाइब्रेशन की समस्या

सीएनजी कार में एक समस्या और ज्यादा देखने को मिलती है वह है वाइब्रेशन की समस्या सीएनजी कार चलाने पर बहुत ज्यादा वाइब्रेशन महसूस होती है और यह समस्या सबसे ज्यादा छोटी सीएनजी कार में देखि जाती है

(9) . सर्विस जल्दी करवानी पड़ती है

पेट्रोल कार के मुकाबले सीएनजी कार की सर्विस जल्दी करवानी पड़ती है अगर आप पेट्रोल कार की सर्विस 10,000 किलोमीटर पर करवाते है तो आपको सीएनजी कार की सर्विस 8,000 किलोमीटर पर करवा लेनी चाहिए ताकि इंजन की लाइफ कम न हो इसे आपके हर बार 2000 किलोमीटर कम हो जाते है

(10) . नोकिंग की समस्या

सीएनजी कार में आपको नोकिंग की समस्या भी देखने को मिल जाएगी जब सीएनजी कार थोड़ी पुरानी हो जाती है तो कार को स्टार्ट करने के बाद इंजन नोकिंग करता है जिसके कारण कार में वाइब्रेशन की समस्या होती है

अगर आप सीएनजी कार लेते है तो आपको उपर बताई गई 10 समस्या का सामना करना पड़ सकता है

निष्कर्ष

आशा करते है की आपको सीएनजी से होते है कार में 10 बड़े नुकसान के बारे में पता चल गया होगा और अब आप इन सभी बातो का ध्यान रखेगे अगर आपको भी सीएनजी कार में कोई समस्या देखने को मिलती है तो हमे comment करे हम आपकी मदत करेगे

related topic

क्या सीएनजी इंजन की लाइफ कम करती है

जानिए कुछ सवालो के जवाब

Q . क्या सीएनजी कार का इंजन जल्दी खराब हो जाता है?

ans . एसा नहीं है सीएनजी कार का इंजन जल्दी से खराब हो जाए हाँ अगर आप कुछ बातो का ध्यान नहीं रखते है तो इंजन जल्दी खराब हो जाता है |

Q . क्या सीएनजी कार लेना बेहतर विकल्प है?

ans . अगर आप सिर्फ माइलेज देख रहे है तो सीएनजी कार आपके लिए बेस्ट है परन्तु अगर आप माइलेज के साथ साथ सेफ्टी भी देख रहे है तो पेट्रोल बेस्ट है |