R46 homeopathic medicine का इस्तेमाल कोहनी के दर्द को ठीक करने के लिए किया जाता है अगर आपको भी कोहनी के दर्द की समस्या है तो आप R46 medicine ले सकते है

बहुत से व्यक्ति एसे है जिनको कोहनी में दर्द की समस्या होती है कोहनी के बाहर की तरफ सुजन हो जाती है कई बार कुछ ज्यादा भारी कार्य या चोट लगने के कारण यह समस्या देखि जाती है

tennis elbow कोहनी की एक चोट होती है कोहनी में मोजूद टेंडन जो मांसपेशियों और हडियों को जोड़ने का कार्य करते है और जब इसमें चोट लगती है या समस्या होती है तो इसे tennis elbow कहते है

medical में इसे Lateral Epicondylitis भी कहाँ जाता है यह समस्या सिर्फ आपके कोहनी में ही नहीं बल्कि जहाँ जहाँ आपके शरीर में जॉइंट है जैसे घुटने , टखने आदि में समस्या हो सकती है

movement वाली जगह पर आपको यह समस्या देखने को मिल सकती है और यह मुख्या 25 से 50 साल की उम्र में जयादा देखने को मिलता है और इसके होने के कई कारण है जैसे

अगर आप ज्यादा खेल कूद का कार्य करते है , या एसा कोई कार्य जिसमे कोहनी या शरीर के अन्य भाग की movement अधिक होती है एसे में टेंडन में चोट या सुजन हो जाती है

जब आपको tennis elbow की समस्या होती है तो आपको उस जगह पर दर्द होगा और यह दर्द आगे तक जा सकता है इसके लिए डॉक्टर आपका x ray करते है आपकी जाँच करते है

tennis elbow के लिए R46 medicine बहुत लाभकारी है यह एक homeopathic medicine है जिसका लगातार सेवन से आपको बहुत आराम मिलता है जानते है R46 medicine के बारे में

R46 medicine क्या है – What is R46 homeopathic medicine in hindi

R46 medicine जर्मन की homeopathic मेडिसिन है जो की Dr.reckeweg की medicine है और इसका इस्तेमाल कोहनी और हाथो में दर्द के लिए किया जाता है R46 medicine को Manurheumin – In rheumatism of fore – arms and hands के नाम से भी जाना जाता है इसका प्राइस है 256 रूपये

R46 medicine के अंदर कुछ homeopathic medicine मिली हुई है जैसे Ferrum phosphoricum , Lithium carbonicum , Natrum sulphuricum , Rhododendron chrysanthum , Filipendula ulmaria . इन सभी मेडिसिन के बारे में निचे देखने को मिल जाएगा

R46 medicine का इस्तेमाल कैसे करे – R46 homeopathic medicine uses in hindi

R46 medicine का इस्तेमाल उम्र , लिंग , कोई नई या पुरानी बिमारी को ध्यान में रखकर डॉक्टर की सलाह के अनुसार किया जाता है ताकि आने वाले समय में आपको समस्या न हो

जब भी आप किसी homeopathic store पे R46 medicine को लेने के लिए जाए तो उसे अपनी सही उम्र , अपनी समस्या , सभी लक्ष्ण , दर्द के बारे में पूरी जानकारी दे

R46 medicine को लेने के लिए आपको एक चोथाई कप पानी लेना है और उसमे R46 medicine की 10 से 15 बुँदे डालनी है और उसका सेवन करना है आपको दिन में 3 बार R46 medicine का सेवन करना है

हर बार में आपको थोड़े पानी के साथ 10 से 15 बुँदे लेनी है एक बात का और ध्यान रखे की आपको R46 medicine को खाना खाने से आधे या एक घंटे पहले लेना है

(1) . R46 medicine का सेवन कैसे करे

बिमारीकोहनी में दर्द और हाथो में दर्द
मात्रा10 से 15 ड्राप एक समय में
दिन में कितनी बारदिन में 3 बार ले सुबह , दोपहर , शाम
खाना खाने के बाद या पहलेखाना खाने के एक या आधे घंटे पहले ले
किसके साथ लेएक चोथाई कप पानी के साथ
सलाहडॉक्टर की सलाह जरुर ले
R46 medicine की डोस आपकी समस्या पर निर्भर है

अगर आप R46 medicine का अच्छा असर चाहते है तो आपको R46 medicine का सेवन लगातार करना है बीच में नहीं छोड़ना है तभी आपको ज्यादा फायदा होगा

R46 medicine के फायदे – Benefits of R46 medicine in hindi

(1) . कोहनी में दर्द के लिए लाभकारी है

अगर ज्यादा कार्य के कारण या ज्यादा मूवमेंट के कारण कोहनी या हाथ में सुजन या दर्द की समस्या होती है और डॉक्टर आपको tennis below की समस्या बताता है तो आप R46 medicine का सेवन कर सकते है आपको इसे बहुत ज्यादा फायदा होगा

(2) . हाथो में दर्द के लिए लाभकारी है

R46 medicine कोहनी के दर्द या सुजन के साथ साथ हाथो में होने वाली सुजन को दर्द के लिए भी लाभकारी है अगर आपके शरीर में मूवमेंट वाली जगह पर कोई चोट की समस्या होती है तो आप आसानी से R46 medicine को ले सकते है

R46 medicine को लगातार इस्तेमाल करे तभी फायदा होगा

R46 medicine के दुष्प्रभाव – Side effects of R46 medicine in hindi

R46 medicine का इस्तेमाल मूवमेंट वाली जगह पर होने वाले दर्द के लिए किया जाता है और R46 medicine का हमारे शरीर पर कोई दुष्प्रभाव नहीं पड़ता है

परन्तु फिर भी आप इसे डॉक्टर की सलाह के अनुसार ले और शुरू में इसे ज्यादा मात्रा में इस्तेमाल न करे पहले थोड़ी कम डोस ले जैसे जैसे आदत हो जाए दिन में 3 बारे ले

R46 medicine की सावधानियाँ – Precautions of R46 medicine in hindi

R46 medicine को लेने से पहले आपको कुछ बातो का ध्यान रखना बहुत ज्यादा जरुरी होता है जिसके बारे में आपको निचे देखने को मिल जाएगा

(1) . डॉक्टर की सलाह ले

R46 medicine को लेने से पहले आपको डॉक्टर से अपनी समस्या की जांच करवानी चाहिए उसके बाद ही R46 medicine का सेवन करना चाहिए

(2) . कोई भी भारी कार्य न करे

जब भी आपको tennis below की समस्या होती है तो आपको एक बात का ध्यान रखना है की कोई भी भारी कार्य नहीं करना है आराम करना है जहाँ दर्द हो उस पार्ट को ज्यादा हिलाना नहीं है

(3) . शराब का सेवन न करे

R46 medicine के अगर ले रहे है तो आपको ध्यान रखना है की आप शराब का सेवन न करे इसे R46 medicine का असर खत्म हो सकता है इसे आपको कोई फायदा नहीं होगा

(4) . एलर्जी है तो डॉक्टर की सलाह ले

बहुत से व्यक्ति एसे होते है जिनको पुरानी एलर्जी होती है इसलिए अगर आपको कोई भी एलर्जी है तो आप R46 medicine को लेने से पहले डॉक्टर की सलाह ले

(5) . चाय कॉफ़ी का सेवन न करे

अगर आप R46 medicine को ले रहे है तो आपको मेडिसिन लेने के आधे या एक घंटे पहले या बाद में चाय कॉफ़ी का सेवन नहीं करना है इसे मेडिसिन अच्छा असर नहीं करती है

(6) . मांस का सेवन न करे

अगर आप R46 medicine का सेवन कर रहे है या करना चाहते है तो आपको मांस का सेवन नहीं करना है इसे आपको कोई फायदा देखने को नहीं मिलेगा

(7) . exp date को जरुर चेक करे

R46 medicine को लेने से पहले आपको exp date को जरुर चेक करना है क्युकी हमने कई बार देखा है की exp date निकली होती है इसलिए R46 medicine को चेक करके ले

अगर आप R46 medicine को ले रहे है या लेना चाहते है तो आपको उपर बताई गई बातो का ध्यान रखना है ताकि किसी प्रकार की समस्या न हो

R46 medicine की सामग्री – Ingredients of R46 medicine in hindi

R46 medicine के अंदर कुछ अलग अलग homeopathic medicine मिली हुई है जिसके बारे में आपको निचे देखने को मिल जाएगा जो इस प्रकार है

(1) . फेरम फास्फोरिकम (Ferrum phosphoricum)

फेरम फास्फोरिकम सुजन की समस्या में बहुत ज्यादा फायदा करती है अगर कोहनी में चोट के कारण सुजन हो जाती है तो फेरम फास्फोरिकम अच्छा असर करती है गठिया में भी लाभकारी है

(2) . लिथियम कार्बनिकम (Lithium carbonicum)

लिथियम कार्बनिकम गठियां रोग में बहुत ज्यादा लाभकारी है अगर लिथियम कार्बनिकम का लगातार सेवन किया जाए तो इसे गठियां में बहुत आराम मिलता है

(3) . नेट्रम सल्फ्यूरिकम (Natrum sulphuricum)

नेट्रम सल्फ्यूरिकम गठियां और अस्थमा में बहुत ज्यादा लाभकारी है इसके लगातार इस्तेमाल से आपको दोनों ही समस्या में फायदा मिलता है

(4) . रोडोडेंड्रोन (Rhododendron)

रोडोडेंड्रोन अंगो में दर्द के लिए बहुत ज्यादा लाभकारी है मुख्या रूप से अगर कोहनी और हाथो में दर्द होता है तो रोडोडेंड्रोन बहुत लाभकारी है

यह सभी मेडिसिन R46 medicine में मिली हुई है जिसके कारण R46 medicine का असर ज्यादा हो जाता है और आप इन सभी मेडिसिन को अलग से भी ले सकते हो

R46 medicine को कैसे रखे – How to store R46 medicine in hindi

R46 medicine को आपको हमेशा ही सामान्य तापमान में रखना चाहिए आप R46 medicine को अपने कमरे के समान्य तापमान में रख सकते है

आपको बस एक बात का ध्यान रखना है की आपको R46 medicine को ज्यादा गर्म व् ज्यादा ठंडी जगह पर नहीं रखना है इसे मेडिसिन का असर कम हो सकता है

निष्कर्ष

आशा करते है की आपको R46 homeopathic medicine के बारे में पता चल गया होगा और आप अब इसका सेवन जरुर करेगे और इसे फायदा लेंगे बस आपको एक बार डॉक्टर की सलाह जरुर लेनी है और यह homeopathic medicine है इसलिए इसके असर में समय लग सकता है इसलिए लगातार इसका इस्तेमाल करे

related topic

r81 homeopathic medicine का इस्तेमाल सभी प्रकार के दर्द में किया जाता है

r80 homeopathic medicine का इस्तेमाल चोट और मांशपेशियो में दर्द के लिए किया जाता है

जानिए कुछ सवालों के जवाब

Q . R46 medicine कितने दिनों में असर करती है ?

ans . R46 medicine का असर आपके शरीर और आपकी बीमारी पर निर्भर करता है कुछ व्यक्ति में R46 medicine का असर जल्दी हो जाता है और कुछ व्यक्ति के R46 medicine का असर देर में होता है |

Q . क्या R46 medicine के कोई दुष्प्रभाव है ?

ans . R46 medicine का हमारे शरीर पर कोई दुष्प्रभाव नहीं पड़ता है परन्तु फिर भी R46 medicine को लेने से पहले डॉक्टर की सलाह ले |

Q . R46 medicine लेते समय क्या नहीं खाना चाहिए ?

ans . R46 medicine को लेते समय चाय कॉफ़ी , दही और मांस का सेवन बिलकुल नहीं करना चाहिए |

Q . क्या R46 medicine लेने के बाद पानी पी सकते है

ans . नहीं आपको R46 medicine को लेने के तुरंत बाद पानी नहीं पीना चाहिए कुछ समय रूककर पानी पिए |

Q . क्या प्रेगनेंसी के दोरान आप R46 medicine ले सकती हो ?

ans . प्रेगनेंसी के दोरान R46 medicine को लेने से पहले डॉक्टर की सलाह जरुर ले उसके बाद ही आप इस्तेमाल करे |

डिस्क्लेमर – जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर प्रकार से प्रयाश  किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी thedkz.com की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है