प्रेगनेंसी किसी भी महिला के लिए बहुत खुसी का समय होता है और बहुत ज्यादा महतवपूर्ण होता है प्रेगनेंसी में सुबह कितने बजे उठना चाहिए बहुत सी महिलाए यही जाना चाहती है

प्रेगनेंसी के दोरान किसी भी महिला को अपना बहुत ज्यादा रखना पड़ता है और अगर प्रेगनेंसी के दोरान कुछ भी हो जाता है तो बहुत ज्यादा समस्या उत्पन हो जाती है

जिसके कारण हमें प्रेगनेंसी के दोरान सभी चीजो का ध्यान रखना पड़ता है जैसे उठना , बेठना , लेटना , कब सोना है कब उठना है इन सभी चीजो का ध्यान रखना पड़ता है

इसके अलावा प्रेगनेंसी के दोरान वेट बढ़ना , हार्मोन में बदलाव होना आदि जैसे समस्या भी होने लगती है और इन सभी चीजो को बहुत जादा ध्यान देना पड़ता है

इसके अलावा बहुत सी महिलाओं को बैठने और लेटने और उठने में समस्या होती है आज हम आपको प्रेगनेंसी में सुबह कितने बजे उठना चाहिए इसके साथ साथ प्रेगनेंसी में ध्यान देने वाली कुछ बातो के बारे में बताएगे

प्रेगनेंसी में सुबह कितने बजे उठना चाहिए

प्रेगनेंसी-में-सुबह-कितने-बजे-उठना-चाहिए

प्रेगनेंसी में सुबह कितने बजे उठना चाहिए यह जाना प्रेग्नेंट महिलाओं के लिए बहुत जरुरी होता है कहाँ जाता है की अगर प्रेगनेंसी के दोरान जल्दी सोना और जल्दी उठने की आदत हो तो माँ और बचे के लिए बहुत ज्यादा फायदेमंद होती है

माना जाता है की जो महिला रात को जल्दी सो जाती है उनको गहरी नींद आती है जो बचे के लिए भी फायदेमंद होता है और पूरा दिन माँ तारो तजा महसूस करती है और कोई समस्या भी नहीं होती है

प्रेगनेंसी के दोरान किसी भी महिला को रात को 9 बजे से लेकर 10 बजे के बीच सो जाना चाहिए और सुबहे 6 बजे तक उठ जाना चाहिए कोई भी प्रेग्नेंट महिला रात के समय गहरी नींद में होती है जो बहुत ज्यादा अच्छा होता है

इसके अलावा प्रेगनेंसी के दोरान माँ को कम से कम दिन में दो घंटे की नींद लेना बहुत ज्यादा जरुरी होता है और रात को आठ घंटे की नींद लेना जरुरी होता है इसलिए ज्यादा समय तक ना जागे रात को

प्रेगनेंसी के दोरान ध्यान रखने वाली कुछ बाते

प्रेगनेंसी में जितनी ज्यादा नींद लेना जरुरी होता है उसी के साथ लेटने , बैठने , उठने पर ध्यान देना भी बहुत ज्यादा जरुरी होता है इसलिए आज हम आपको इसी बारे में बताएगे

(1) . प्रेगनेंसी में बैठने का सही तरीका क्या होता है

अगर आप बैठना चाहते है हो तो आपको हमेशा आराम से बैठना है फिर चाहे वह कुर्सी हो या सोफा हो आपको आराम से बैठना है आपको बेठने से पहले कमर को सीधा रखना है और हो सके तो कमर के पीछे तकिया रख सकते है

प्रेगनेंसी के दोरान बैठते समय एक बात का और ध्यान रखे की आप एकदम से झटके से नहीं बेठना है और आराम से बेठना है और ध्यान रहे की आपके पेट पर ज्यादा जोर न पड़े , बैठने के लिए आप किसी दुसरे व्यक्ति का सहारा ले सकते है

प्रेगनेंसी के दोरान बैठने के बाद एक बात का और ध्यान रखे की आपके दोनों पैर जमीन पर टिके होने चाहिए हवा में पैर लटके नहीं होने चाहिए या आप पैरों के निचे एक स्टूल ले सकते है इसे आपको आराम मिलेगा और सुजन भी नहीं होगी

इसके अलावा आपको बहुत देर तक एक ही पोजीशन में नहीं बैठना है अगर आपको लगता है की आप ज्यादा समय तक एक ही जगह बैठे है तो आप कुछ काम कर सकते है और टहल सकते है

(2) . प्रेगनेंसी के दोरान सोने का सही तरीका क्या होता है

अगर प्रेगनेंसी के दोरान आपके तीन महीने पुरे हो जाते है तो आपको लेफ्ट साइड करबट लेकर ही सोना चाहिए इसका आपको और आपके बचे को बहुत फायदा होगा बचे को अछि ऑक्सीजन मिलती है

यह तरीका आपको प्रेगनेंसी में तीन महीने बाद ही करना है उसे पहले नहीं करना है अगर आपको सोना है तो आपको सबसे पहले बेड पर बैठना है आराम से उसके बाद बेड का थोड़ी सपोर्ट लेना है

और उसके बाद पैरों को आराम से बेड पर लेकर जाना है और आराम से सपोर्ट लेकर लेफ्ट साइड लेटना है सोते समय आपको जल्दी नही करनी है आराम से लेटना है इसके अलावा सिर के निचे तकिया रख सकते है

पैरों के निचे तकिया रख सकते है इसके अलावा ध्यान रहे की आप पेट के बल न सोए इसे आपको ओर आपको बचे को समस्या हो सकती है इसलिए पेट के बल ना सोए

(3) . समय पर खाना खाए

प्रेगनेंसी के दोरान आपको एक बात हमेशा ध्यान रखनी है की आप समय पर खाना खा ले आपको सोने से 2 घंटे पहले खाना खा लेना है अगर आप सोने से एकदम पहले खाना खाते है

तो प्रेगनेंसी के दोरान एसिडिटी , गैस , नींद न आने की समस्या हो जाती है और एक बात का ध्यान रखना है की आपको सोने से पहले पानी नहीं पीना है क्युकी आपको बार बार बाथरूम जाने की समस्या हो सकती है जिसे आपकी नींद पूरी नहीं होगी

(4) . प्रेगनेंसी में उठने का सही तरीका क्या होता है

प्रेगनेंसी के दोरान आपको एक दम से नहीं उठना है आपको आराम से उठना है आपको सबसे पहले उठते समय बैठने की पोजीशन में आना है और बैठने के बाद आराम से पैरों को जमीन पर रखना है

एक बात का और ध्यान दे की हमेशा एक हाथ को अपने पेट पर रखे और एक हाथ से सपोर्ट लेकर उठे इसे आपको फायदा होगा और झटका नहीं लगेगा एक बात और उठने से पहले हो सके तो किसी की मदत ले

निष्कर्ष

आशा करते है की आपको प्रेगनेंसी में सुबह कितने बजे उठना चाहिए इसके बारे में पता चल गया होगा और अब आप सभी बातो का ध्यान रखेगे अगर आपको प्रेगनेंसी के दोरान कोई समस्या होती है तो आपको तुरंत ही अपने डॉक्टर से जाँच करवानी चाहिए

related topic

प्रेगनेंसी में सुबह उठकर क्या खाना चाहिए

प्रेगनेंसी में संतरा खाने के फायदे

जानिए कुछ सवालो के जवाब

Q . प्रेगनेंसी में कितनी नीदं जरुरी होती है ?

ans . दिन में 2 घंटे की नींद और रात को आठ घंटे की नींद जरुरी होती है |

Q . प्रेगनेंसी में क्या नहीं करना है ?

ans . धुल मिट्टी की सफाई न करे , भारी वजन न उठाए , पोछा न लगाए |

डिस्क्लेमर – जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर प्रकार से प्रयाश  किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी thedkz.com  की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है  एक अच्छी जानकारी के लिए ही हमारी टीम काम करती है