What Is Abs (Anti Lock Braking System)क्या है कैसे काम करता है

ABS का पूरा नाम है  Anti Lock Braking System है , जैसा की आपको पता ही है अब सभी कार में ABS SYSTEM आ रहा है जिसका इस्तेमाल दुर्घटना को कम करने के लिए किया जाता है और आप सुरक्षित तरीके से ड्राइव कर सकते है

पुरानी सभी कार और बाइक में ABS SYSTEM नहीं आता था जिसके कारण दुर्घटना होती थी परन्तु आज के समय में बहुत जादा ट्रेफिक बढ़ गई है इसी को ध्यान में रखकर कंपनी ने ABS SYSTEM कार और बाइक में दिया है

और जैसा की आजकल सभी जगह अछे रोड बन गए है जिनपे ना खड़े है और न खराब है और हम इसी कारण कार या बाइक को बहुत जादा अधिक रफ़्तार में चलाते है बहुत से लोगो को कार रफ़्तार में चलाना अच्छा लगता है

कार या बाइक को रफ़्तार में चलाना बहुत से लोगो का शोक होता है आज के समय में लडको को बाइक बहुत तेज चलाने का शोक होता है दुसरो को दिखावा करना अच्छा लगता है जिसके कारण दुर्घटना होती है और जान भी चली जाती है

और इस दुर्घटना को रोकने के लिए ABS SYSTEM का इस्तेमाल किया जा रहा है , आज तक आपने बहुत से दुर्घटना को होते हुए देखा होगा और जब आप उस व्यक्ति से पूछते है तो वह यही कहता है की अचानक से ब्रेक लगने के कारण कार या बाइक स्लीप हो गई

ACTIVA में छोटे छोटे टायर होते है और बहुत से व्यक्ति को कहते हुए सुना भी होगा आपने की जब ACTIVA के अचानक से ब्रेक लगाते है तो ACTIVA स्लीप या घूम जाती है और पलट जाती है जिसे दुर्घटना होती है

BAJAJ PULSAR में पहले फ्रंट ब्रेक में DISK BREAK आती थी परन्तु ABS SYSTEM नहीं आता था जिसे अगर DISK BREAK लगाते थे तो बाइक घूम जाती थी या पलट जाती थी इसी कारण अब BAJAJ PULSAR में ABS SYSTEM का इस्तेमाल किया जा रहा है

भारत में हर रोज 100 % में से 40 % दुर्घटना BREAK स्लीप होने के कारण होती है कार का कण्ट्रोल खोने के कारण होती है परन्तु अगर उसी जगह अगर कार या बाइक में ABS SYSTEM हो तो इन सभी दुर्घटना को कम किया जा सकता है और किया जा रहा है

आज हम आपको बताएगे की ABS ANTI – LOCK BREAKING SYSTEM क्या है और यह कैसे काम करता है इसके अलावा हम आपको ABS SYSTEM के बारे में पूरी जानकारी देंगे जिसे आपको परेशानी नहीं होगी जानिये

 

what is anti lock braking system (abs) क्या है 

ABS ANTI – LOCK BREAKING SYSTEM दुर्घटना को रोकने के लिए कार में लगाया जाता है ABS SYSTEM में एक ABS कंट्रोलर चारो पहिए में ABS सेंसर और ABS बेअरिंग लगे होते है और यह सभी ECM के साथ CONNECT होते है

ABS SYSTEM आपको उन सभी होने वाली दुर्घटना से बचाता है जिसे आपका कण्ट्रोल कार से खो जाता है या कार स्लीप हो जाती है ABS SYSTEM के कारण कार आसानी से रुक जाती है कार दुर्घटना से पहले ही रुक जाती है

ABS क्या है समझिए जब आप कोई भी कार चलाते है और स्पीड में होते है और आप अचानक से ब्रेक लगाते है तो पहिए में लगे ब्रेक पेड़ अचानक से लग जाते है रूटर से चिपक जाते है जिसके कारण कार के पहिए रुक जाते है कार फिसलने लगती है

और कार का कण्ट्रोल खो जाता है क्युकी बिना ABS वाली कार में ब्रेक लगाते ही कार शिधा फिसलती है जबकि जिन कारो में ABS होता है उनके पहिए ब्रेक लगाने से एकदम से नहीं रुकते है क्युकी इनके पहिए में स्पीड सेंसर लगा होता है

जब आप ABS वाली कार चलाते हो और अचानक से ब्रेक लगाते हो तो पहिए में लगे  ABS सेंसर ABS CONTROL UNIT को SIGNAL  भेजते है की पहिए रुकने वाले है तो ABS CONTROL UNIT पहिए में लगे ब्रेक पेड़ को थोड सा खोल देती है

और फिर ब्रेक लगते है और फिर ABS CONTROL UNIT फिर ब्रेक पेड़ को खोल देता है यह प्रक्रिया ब्रेक लगाने पर कई बार होती रहती है इस कारण पहिए फिसलते नहीं है और कार को कण्ट्रोल किया जा सकता है और स्टेअरिंग को भी संभाला जा सकता है

क्युकी बार बार ब्रेक लगने और खुलने से कार फिसलती नहीं है , परन्तु बिना ABS वाली कार में ब्रेक लगाते ही कार के ब्रेक पेड़ चिपक जाते है और खुलते नहीं है और कार फिसलने लगती है

बिना ABS(Anti Lock Braking System) वाली कार 

जिस कार में ABS नहीं होता उस कार के ब्रेक लागते ही ब्रेक पेड़ रूटर से चिपक जाते है और खुलते नही है और कार अचानक से फिसलती है और दुर्घटना होती है

ABS (Anti Lock Braking System)वाली कार 

जबकि जिस कार में ABS होता है उस कार के ब्रेक लगाते ही ब्रेक पेड़ रूटर से चिपकते है खुलते है चिपकते है और फिर खुलते है जिसके कारण कार फिलती नहीं है और कार रुक भी जाती है 

HOW DOES ABS WORK ( ABS काम कैसे करता है ) 

ABS SYSTEM बहुत आसान तरीके से काम करता है और आप आसानी से ABS SYSTEM को समझ सकते है , एक ABS SYSTEM में चार ABS SENSOR , ABS CONTROL मोडुल , ABS बेअरिंग और आखरी में ECM /ECU लगा होता है और इन सभी के कारण ABS SYSTEM काम करता है

ABS ब्रेक पेड़ को रूटर से अचानक चिपकने से रोकता है जिसे दुर्घटना होने का खतरा कम हो जाता है और कार को भी आसानी से रोका जा सकता है पहिए में लगे ABS /SPEED SENSOR SIGNAL भेजते है और उसी SIGNAL के आधार पर ब्रेक लगने की प्रक्रिया काम करती है और कार रूकती है

जब कार चलती है और स्पीड में होती है तो पहिए में लगे ABS सेंसर ECM को SIGNAL भेजते है कार इतनी स्पीड में चल रही है और जब हम कार को रोकने के लिए ब्रेक लगाते है तो ECM ABS CONTROL मोडुल को SIGNAL भेजता है और बताता है की कार की ब्रेक लग गयी है उसके बाद ABS CONTROL MODUL ब्रेक पेड़ को खोलता है और बंद करता है

यह प्रक्रिया बार बार होती रहती है ब्रेक लगते है और खुलते है जिसके कारण कार स्पीड में होने के बावजूद भी रुक जाती है और फिसलती नहीं है और कार को कण्ट्रोल करना आसान हो जाता है , इसके अलावा अगर किसी पहिए का ABS सेंसर खराब हो जाता है तो वह उस पहिए के स्पीड का SIGNAL ECM को नहीं देगा

जबकि तीन पहियों का SIGNAL ECM को मिलेगा जिसके कारण जब आप स्पीड कार में ब्रेक लगाएगे तो तीन पहिए के तो  ABS SYSTEM से ब्रेक लगेगे और एक पहिए के ब्रेक पेड़ रूटर से चिपके ही रह जाएगे और कार का एक साइड से फिसलने का खतरा होता है जिस पहिए का ABS खराब होता है उस पहिए के ब्रेक अचानक से लगते है

उधारण से समझिए 

आपको कार ड्राइव करने का मन है और आप सोच रहे है की में कार ड्राइव HIGWAY पर करुगा और आप कार को 100 या 120 की स्पीड में चला रहे है और अछि ड्राइव कर रहे है

परन्तु आपको आगे कुछ समस्या दिखाई देती है और आपको लग रहा है की अब कार को रोकना पड़ेगा परन्तु आप जादा स्पीड में होने के कारण कार को अचानक से नहीं रोक सकते उस समय ABS SYSTEM काम करता है

इसलिए जब आप कार को ब्रेक लगाएगे तो सभी पहिए में लगे ABS SPEED सेंसर ECM को जल्द ही SIGNAL भेज देंगे की कार स्पीड में है और ECM एकदम से जल्द ही ABS CONTROL मोडुल को सिगनल भेज देगा

ABS CONTROL मोडुल जल्दी से जल्दी ब्रेक को लगाएगा भी और ब्रेक पेड़ को थोडा खोलेगा भी जिसके कारण आपकी कार फिसलेगी नहीं और आप जल्द से जल्द कार को रोक लेंगे और दुर्घटना भी नही होगी

TYPES OF ABS ( ABS के प्रकार ) 

कार , बाइक , बस , ट्रक सभी में आज के समय में ABS SYSTEM का इस्तेमाल किया जा रहा है परन्तु ABS ब्रेक को अलग अलग प्रकार में विभाजित किया गया है

क्युकी कार में चारो पहिए में ABS सेंसर लगा होता है , बाइक में एक या दो पहिए में , बस में आगे दो और पीछे एक सेंसर लगा होता है , जानिए उन प्रकार के बारे में

( I )  फोर चैनेल , फोर सेंसर ABS

फोर चैनेल , फोर सेंसर ABS SYSTEM में चारो पहिए में ABS SPEED सेंसर लगे होते है और साथ में चारो पहिए में वाल्व लगे होते है जिनसे ब्रेक काम करते है

यह चारो पहिए में लगे SPEED सेंसर ECM को ब्रेक की पूरी जानकारी देते है और ABS SYSTEM काम करता है और ब्रेक लगाना आसान हो जाता है

( II )  थ्री चैनेल , थ्री सेंसर ABS

थ्री चैनेल , थ्री सेसर ABS का इस्तेमाल ट्रक और बस में किया जाता है थ्री चैनेल ABS में आगे की तरफ दो SPEED सेंसर और दो वाल्व का इस्तेमाल किया जाता है और एक SPEED सेंसर और एक वाल्व पीछे दोनों पहिए के लिए इस्तेमाल किया जाता है

ट्रक और बस के पीछे वाले पहिए के AXCEL में बीच में SPEED सेंसर लगाया जाता है और यह एक सेंसर दोनों पहिए के ब्रेक की जानकारी ECM को देता है जबकि आगे वाले SPEED सेंसर और वाल्व दोनों पहिए की जानकारी ECM को देता है

( III )  टू चैनेल , फोर सेंसर ABS

इसका इस्तेमाल 1990 में किया जाता था यह टू चैनेल फोर सेंसर ABS है इसका इस्तेमाल यात्री कारो में किया जाता था इसमे आगे की तरफ दो सेंसर और पीछे के तरफ दो वाल्व लगे होते थे और सेंसर पहिए के स्पीड को ECM को SIGNAL भेजता है और वाल्व काम करते है

HISTORY OF ABS ( ABS का इतिहास ) 

ABS SYSTEM का इस्तेमाल हमारे लिए बहुत जादा फायदेमंद साबित हुआ है इस TECONOLOGY से बहुत से दुर्घटना को रोका गया है ANTI -LOCK BREAKING SYSTEM का इस्तेमाल बहुत साल पहले हुआ था

ANTI -LOCK BREAKING SYSTEM का इस्तेमाल सबसे पहले जहाज में किया गया था और ABS SYSTEM का बहुत जादा फायदा देखने को भी मिला था उसके बाद इसका इस्तेमाल कार में किया गया

1966 इ में ANTI -LOCK BREAKING SYSTEM का इस्तेमाल पहली बार कार में किया गया जेन्सेन फ़र्गुसन फार्मूला  में इसका इस्तेमाल बहुत से लोगो ने किया था और ANTI -LOCK BREAKING SYSTEM को अनुभव किया था

धीरे धीरे ABS SYSTEM का इस्तेमाल बहुत जादा किया जाने लगा हर किसी को ABS SYSTEM की जानकारी हुई लोगो को ABS का इस्तेमाल फायदेमद लगा और इस्तेमाल किया

अब सभी कार और बाइक , ट्रक ,बस में ABS ANTI -LOCK BREAKING SYSTEM का इस्तेमाल किया जा रहा है जिसके कारण दुर्घटना में भी बहुत जादा कमी को देखा गया है ABS SYSTEM बहुत महंगा भी होता है

ABS SYSTEM COMPONENTS   ( ABS पार्ट्स ) 

ABS SYSTEM में बहुत से COMPONENTS का इस्तेमाल किया जाता है और उन्ही COMPONENTS के कारण ABS SYSTEM काम करता है जानिए ABS SYSTEM में कोनसे COMPONENTS होते है

( I )  ABS स्पीड सेंसर

ABS SYSTEM में चारो पहिए में ABS स्पीड सेंसर लगे होते है और यह सेंसर वायरिंग के साथ कनेक्ट होते है और यह चारो ABS सेंसर ECM / ECU को SIGNAL भेजते है

और ECM / ECU ABS कण्ट्रोल यूनिट को SIGNAL भेजता है और ब्रेक काम करती है इसके अलावा अगर कोई एक ABS स्पीड सेंसर खराब हो जाता है तो उस पहिए की ब्रेक नार्मल काम करती है

और ABS स्पीड सेंसर खराब होते ही ECM को पता चल जाता है और ECM  DASHBORD में वार्निंग लाइट को ऑन कर देता है जिसे चेक इंजन लाइट कहाँ जाता है

( II )  ABS SYSTEM valve वाल्व

ABS SYSTEM वाल्व चारो पहिए में लगे होते है और ब्रेक पेड़ को खोलने और बंद करने का काम करते है यह वाल्व ब्रेक आयल के द्वारा काम करते है और खुलते और बंद होते है

ब्रेक वाल्व में पाइप लगे होते है जो ABS कण्ट्रोल यूनिट के साथ जुड़े होते है और उसमे से यह पाइप मास्टर सिलेंडर के साथ जुड़े होते है और मास्टर सिलेंडर में ब्रेक आयल रहता है जिसे ब्रेक का प्रेसर बनता है

जब हम ब्रेक लगाते है तो ABS कण्ट्रोल यूनिट ब्रेक आयल को प्रेस करता है और ब्रेक लगती है वाल्व खुलता है और फिर हलके से ब्रेक पेड़ को खोल भी देता है यह प्रक्रिया बार बार होती है

( III )  ECM / ECU

ECM कार का बहुत महत्वपूर्ण पार्ट होता है ECM के साथ ही सभी सेंसर कनेक्ट होते है और ABS सेंसर भी ECM के साथ ही जुड़े होते है अगर ECM में कोई समस्या हो जाए तो कार स्टार्ट भी नहीं होती और सेंसर काम करने बंद कर देते है ये भी पढ़ेCar engine control module ecm क्या है ख़राब होने पर क्या करे symptoms 

ECM ही ABS स्पीड सेंसर से SIGNAL प्रदान करता है और आगे ABS कण्ट्रोल यूनिट को भेजता है जिसके कारण ब्रेक ABS SYSTEM के द्वारा काम करती है और कोई सेंसर ख़राब हो जाए तो ECM हमें वार्निंग भी देता है चेक इंजन लाइट ऑन करके

इसके अलावा ECM कार स्टार्ट से लेकर फ्यूल सप्लाई , माइलेज सभी चीजो को कण्ट्रोल करता है, एक प्रकार से ECM कार का दिल होता है

( IV )  ABS कण्ट्रोल यूनिट /मोडुल

यह ABS SYSTEM का मुख्या अंग होता है ABS ब्रेक के सभी पाइप ABS कण्ट्रोल यूनिट के साथ ही जुड़े होते है इसमें अन्दर वाल्व होते है जिसे ब्रेक काम करती है

ABS कण्ट्रोल यूनिट में एक कंनेक्टेर लगा होता है जो वायरिंग से जुड़ा होता है और इसी के कारण यह ECM से SIGNAL प्राप्त करता है ABS कण्ट्रोल यूनिट के साथ बूस्टर और मास्टर सिलेंडर जुड़ा होता है

ABS कण्ट्रोल यूनिट ECM से SIGNAL मिलने के कारण ही ब्रेक पेड़ को बंद करता है और खोलता है जिसे ब्रेक काम करती है और ECM को SIGNAL ABS स्पीड सेंसर से प्राप्त होते है

( V )  ABS व्हील बेअरिंग

चारो पहिए में ABS स्पीड सेंसर के साथ ABS व्हील बेअरिंग लगे होते है जिनसे ABS स्पीड सेंसर SIGNAL प्राप्त करते है , अगर आप सिंपल कार का व्हील बेअरिंग ABS वाली कार में डाल देते है

तो आपको बहुत सी समस्या उत्पन हो जाएगी और चेक इंजन लाइट ऑन हो जाएगी और ABS SYSTEM काम नहीं करेगा और कार ओवररेस होने की संभावना होती है

जिन कारो में पीछे की तरफ ड्रम लगा होता है उनमे ABS SENSOR लगा होता है जो पिछले पहिए की गति को मापता है , इसलिए ABS कार में सिंपल बेअरिंग का इस्तेमाल ना करे

SYMPTOMS OF BAD ABS SENSOR ( खराब ABS सेंसर के लक्ष्ण ) 

जब आपकी कार का ABS स्पीड सेंसर खराब होता है तो आपको कुछ लक्ष्ण दिखाई देते है जो इस प्रकार है –

( I )  ABS वार्निंग लाइट ऑन

ABS सेंसर के खराब होने पर आपको जो सबसे पहला लक्ष्ण देखने को मिलेगा वह है ABS वार्निंग लाइट का DASHBORD में आना , ABS सेंसर में कोई समस्या हो या ABS से जुडी वायरिंग में कोई समस्या होगी तो ABS वार्निंग लाइट ऑन हो जाएगी क्युकी सेंसर खराब होने के कारण ECM को पहिए की गति का SIGNAL नहीं मिल पाता है

( II )  सस्पेंसन का खराब होना

देखा गया है की जिस कार के ABS सेंसर खराब हो जाते है या काम नहीं करते है उस कार की सस्पेंसन बहुत जल्द खराब हो जाती है और सबसे जादा खराब AXCEL होते है इसलिए ABS सेंसर के खराब होने का दूसरा लक्ष्ण है सस्पेंसन का खराब हो जाना क्युकी ब्रेक बहुत जादा हार्ड लगने लगते है

( III )  ब्रेक मारने पर कार का देर में रुकना

तीसरा लक्ष्ण आपको देखने को मिलेगा कार को ब्रेक लगाने पर कार देर में रुकेगी क्युकी ABS सेंसर खराब होने पर वह ECM को SIGNAL नहीं भेज पाता है और जिसके कारण ECM ABS कण्ट्रोल यूनिट को SIGNAL नहीं भेज पाता है और ब्रेक तो लगती है पर कार जल्दी से नहीं रूकती है

( IV )  ब्रेक पेडल का कापना

एक लक्ष्ण और देखा गया है ABS सेंसर के खराब होने पर वो है ब्रेक पेडल का कापना वेसे जादातर कार में यह लक्ष्ण देखने को नहीं मिलता परन्तु अगर ABS SYSTEM में जादा समस्या हो जाए तो आपको यह लक्ष्ण देखने को मिल जाएगा

WHAT IS ABS WARNING LIGHT ( ABS वार्निंग लाइट क्या है ) 

ABS वार्निंग लाइट का मतलब है की आपके ABS सेंसर या सेंसर से जुडी वायरिंग में या ECM में कोई समस्या हो गई है , जब ABS स्पीड सेंसर ECM को SIGNAL नहीं भेज पाता है तो ECM DASHBORD में ABS वार्निंग लाइट को ऑन कर देता है

और हमें वार्निंग देता है की आपके कार के ABS में समस्या हो गई है , अब बात आती है की कैसे चेक करे कोनसा सेंसर खराब है , उसके लिए आपको कार को SCAN करवाना पड़ेगा

जब कार को SCAN किया जाएगा तो उसमे यह पता चल जाएगा की कोनसे पहिए का ABS स्पीड सेंसर काम नहीं कर रहा या SIGNAL ECM को नहीं भेज पा रहा है जैसे अगर अगले पहिए का सेंसर खराब होता है

तो SCANNER फाल्ट बतात है और साथ में एक कोड दिखाता है जिसे आप पता कर सकते है की कहाँ समस्या है उसके बाद आप उस सेंसर को बदलते है और SCAN के माध्यम से ही कोड को DELET कर देते है और ABS वार्निंग लाइट चली जाती है

BENEFITES OF ABS SYSTEM ( ABS सिस्टम के फायदे ) 

ABS SYSTEM हमारी कार के लिए बहुत जादा फायदेमंद होती है यह कार को दुर्घटना होने से बचाती है साथ ही कार को फिसलने से बचाती है कार को कण्ट्रोल में रखती है एकदम से ब्रेक नहीं लगने देती है , ABS SYSTEM के बहुत से फायदे होते है जो इस प्रकार है

( I )  ABS SYSTEM वाली कार आपको हमेशा दुर्घटना से बचाती है

( II )  जिन कारो में ABS लगा होता है उन कारो में ब्रेक अचानक से नहीं लगती है

( III )  ABS वाली कार में आराम आराम से ब्रेक लगते है और यह दुर्घटना से पहले ही रुक जाती है

( IV )  ABS SYSTEM वाली कार में स्टेअरिंग को संभालना बहुत आसान होता है ब्रेक लगाते ही स्टेअरिंग कण्ट्रोल से बाहर नहीं जाता है

( V )  जिन कारो में ABS लगा होता है उन कारो की सस्पेंसन जल्दी खराब नहीं होती क्युकी ब्रेक एकदम से नहीं लगते है परन्तु अगर एबीएस खराब हो जाए तो AXCEL में समस्या उत्पन हो जाती है |

( VI )  जिन कारो में ABS लगा होता है उन कारो की व्हील की गति का पूरा अनुमान ECM को मिलता रहता है

 ABS SYSTEM से जुड़े कुछ सवालों के जवाब 

Q . क्या ABS वाली कार में सिंपल व्हील बेरिंग डाल सकते है ?

Ans . नहीं आप Abs वाली कार में सिंपल व्हील बेअरिंग नहीं डाल सकते आपको Abs वाला ही बेअरिंग ही डालना होगा नहीं तो आपको समस्या हो सकती है

Q . ABS वार्निंग लाइट क्यों आती है ?

Ans . जब कार का Abs स्पीड सेंसर खराब हो जाता है या वायरिंग में कोई समस्या हो जाए तो Abs वार्निंग लाइट ऑन हो जाती है

Q . ब्रेक फ़ैल क्यों होते है ?

Ans . जब मास्टर सिलेंडर में से बिलकुल ब्रेक आयल खत्म हो जाता है या ब्रेक पाइप फट जाता है तो ब्रेक फ़ैल हो जाते है

Q . ब्रेक का प्रेसर किसे बनता है ?

Ans . ब्रेक का प्रेसर ब्रेक आयल और बूस्टर और मास्टर सिलेंडर के कारण बनता है

Q . ECM ABS के साथ किस प्रकार से काम करता है ?

Ans . Abs स्पीड सेंसर Ecm को सिगनल भेजता है और Ecm Abs कण्ट्रोल यूनिट को सिग्नल भेजता है और ब्रेक काम करते है

Leave a Comment