बैक्टीरियल संक्रमण के लिए r87 homeopathic medicine का इस्तेमाल किया जाता है अगर आपको यह समस्या है तो आसानी से r87 medicine का सेवन कर सकते है

हमारे शरीर के पास हर दम बैक्टीरिया कीटाणु होते है जो हमे दिखाई नहीं देते है परंतु एक समय आने पर यह बैक्टीरिया हमें नुकसान जरुर पहुचाते है

बहुत सी बीमारियाँ एसी है जो हमे मुख्या रूप में बैक्टीरियल संक्रमण के कारण होती है जैसे टाइफाइड , बुखार , सर्दी , जुकाम , अधिक खांसी आदि सभी बैक्टीरियल संक्रमण के कारण होती है

बैक्टीरियल संक्रमण की समस्या सबसे ज्यादा कमजोर इम्यून सिस्टम वाले लोगो को होती है जिसके कारण बैक्टीरिया कीटाणु हमारे शरीर में प्रवेश कर लेते है और हमे समस्या होती है

आज हम आपको बैक्टीरियल संक्रमण से बचने के लिए homeopathic medicine के बारे में बताएगे जो बहुत लाभकारी है जानते है r87 medicine के बारे में

r87 medicine क्या है – what is r87 medicine in hindi

r87 medicine जर्मन की homeopathic medicine है जो की dr.reckeweg का एक ब्रांड है और यह 30ml की सीसी में आपको ड्राप के रूप में मिलती है r87 medicine को bacterol – anti bacterial drops के नाम से भी जाना जाता है इसका प्राइस 294 रूपये है जो समय के अनुसार बदल सकता है

बैक्टीरियल संक्रमण के लिए r87 medicine में अलग अलग homeopathic medicine मिली हुई है जैसे botulinum , hydrastis canadensis , pneumococcinum , preudomonas , glandulae thymi , scarlatinum , staphylococcinum , streptococcinum , proteus vulgaris , salmonella , ecoil इन सभी मेडिसिन के बारे में निचे देखने को मिल जाएगा

r87 medicine का इस्तेमाल कैसे करे – r87 homeopathic medicine uses in hindi

r87 medicine का इस्तेमाल उम्र ,लिंग , कोई नई या पुरानी बीमारी को ध्यान में रखकर डॉक्टर की सलाह के अनुसार किया जाता है ताकि कोई समस्या न हो बच्चे और व्यस्क को इसकी dose अलग अलग तरह से दी जाती है जानते है कैसे

(1) . 1 साल के बच्चे को r87 medicine कैसे दे

अगर आपके घर में 1 साल का बच्चा है या उसे छोटा है तो आपको r87 medicine की 3 बूंद बच्चे को पिलानी है और दिन में 3 बार सुबह दोपहर और शाम को खाने से पहले और 3 दिन तक ही r87 medicine को दे

जब 3 दिन तक बच्चे को मेडिसिन दे दे तो आपको 1 महीने तक रुकना है और एक महीने बाद फिरसे r87 medicine की 3 बूंद दिन में 3 बार 3 दिन तक देनी है और फिर 1 महिना रुकना है

और फिर 1 महीने बाद एसा ही करना है आपको एसा कम से कम 1 साल करना है अगर आप एसा करते है तो बच्चे की इम्यून शक्ति बढ़ जाती है और उसके बाद बच्चे को सर्दी जुकाम , बुखार जैसी समस्या नही होगी

बिमारी :बैक्टीरियल संक्रमण और इम्यून सिस्टम के लिए
मात्रा :3 बुँदे एक समय में
दिन में कितनी बार :दिन में 3 बार सुबह दोपहर और शाम
कितने दिनों तक दे :3 दिनों तक एक महिना रुके फिर 3 दिन तक दे
खाना खाने से पहले या बाद में :खाना खाने से आधे घंटे पहले दे
सलाह :डॉक्टर की सलाह के अनुसार दे
डॉक्टर की सलाह अनिवार्य है

(2) . व्यस्क और बुजुर्ग r87 medicine का सेवन कैसे करे

आपको एक चोथाई कप पानी लेना है और उसमे r87 medicine की 10 ड्राप डालनी है और उसका सेवन करना है आपको r87 medicine को दिन में 3 बार लेना है सुबह दोपहर और शाम को और 3 दिन तक ले फिर एक महिना रुके और फिर 3 दिन तक ले

एक बात का ध्यान रखे की r87 medicine को खाना खाने से आधे या एक घंटा पहले ले अगर आप इसे लेते है तो आपका बुखार , सर्दी , जुकाम जल्दी ठीक हो जाता है

बिमारी :बैक्टीरियल संक्रमण
मात्रा :10 बुँदे एक समय में
दिन में कितनी बार :दिन में 3 बार
खाना खाने से पहले या बाद में :खाने से आधे या एक घंटे पहले ले
किसके साथ ले :एक चोथाई कप पानी के साथ
सलाह :डॉक्टर की सलाह ले
समस्या के अनुसार dose को कम ज्यादा किया जा सकता है

r87 medicine के फायदे – benefits of r87 medicine in hindi

r87 medicine के फायदे इस प्रकार है

(1) . बैक्टीरियल संक्रमण के लिए r87 medicine लाभकारी है

अगर आपको किसी कारण बैक्टीरियल संक्रमण होता है फिर वह किसी भी बेक्टीरिया के कारण हो सभी प्रकार के संक्रमण के लिए r87 medicine ले सकते है अगर आपको बुखार हो , सर्दी जुकाम हो , खांसी , निमोनिया हो आदि सभी समस्या में r87 medicine लाभकारी है

r87 medicine के दुष्प्रभाव – side effects of r87 medicine in hindi

r87 medicine बैक्टीरियल संक्रमण के लिए बहुत लाभकारी है और इसका हमारे शरीर पर कोई दुष्प्रभाव नहीं पाड़ता है

परन्तु फिर भी आपको सही मात्रा में r87 medicine का सेवन करना चाहिए अगर आपको कोई दुष्प्रभाव होता है तो आप डॉक्टर की सलाह ले

r87 medicine की सावधानियाँ – precautions of r87 medicine in hindi

r87 medicine के सेवन से पहले आपको कुछ बातो का ध्यान रखना चाहिए जो इस प्रकार है

(1) . डॉक्टर की सलाह ले

जब भी आप r87 medicine को लेने के लिए जाए तो अपनी समस्या की जांच पहले डॉक्टर से करवाए उसके बाद ही r87 medicine का सेवन करे

(2) . शराब का सेवन न करे

आपको शराब का सेवन नहीं करना है r87 medicine के सेवन के दोरान आपको शराब का सेवन नहीं करना है इसे समस्या बढ़ सकती है

(3) . चाय का सेवन न करे

r87 medicine को लेने से आधे या एक घंटे पहले या बाद में आपको चाय का सेवन नहीं करना है इसे मेडिसिन का असर कम हो सकता है

(4) . r87 medicine को हिला ले

जब भी r87 medicine को लेने के लिए जाए तो आप r87 medicine को हिला ले क्युकी मेडिसिन सीसी में निचे जम जाती है

(5) . मुहँ को साफ़ रखे

आपको r87 medicine लेने से पहले आपको मुहँ को साफ़ रखना है आपको प्याज और लहसुन जैसे खाद्य प्रदार्थ का सेवन नहीं करना है

(6) . exp date को चेक करे

जब भी आप r87 medicine को लेने के लिए जाए तो आपको exp date को जरुर चेक करना है क्युकी exp date निकली होती है

r87 medicine के सेवन से पहले आपको उपर बताई गई बातो का ध्यान रखना है

r87 medicine की सामग्री – ingredients of r87 medicine in hindi

r87 medicine के अंदर अलग अलग homeopathic medicine मिली हुई है जो इस प्रकार है

(1) . बोटुलिनम (botulinum)

r87 medicine में बोटुलिनम मिली हुई है अगर आपको बोटुलिनम संक्रमण की समस्या हो जाती है तो उसके लिए बोटुलिनम मेडिसिन बहुत लाभकारी है

(2) . हाइड्रैस्टिस कैनाडेंसिस (Hydrastis Canadensis)

हाइड्रैस्टिस कैनाडेंसिस बहुत लाभकारी है यह एंटी बैक्टीरियल के लिए बहुत फायदेमंद है और इसका इस्तेमाल किया जा सकता है

(3) . न्यूमोकोकिनम (pneumococcinum)

अगर आपको न्यूमोकोकल संक्रमण है तो उसे बचने के लिए r87 medicine में न्यूमोकोकिनम मिली हुई है जो बहुत लाभकारी है

(4) . स्यूडोमोनास (pseudomonas)

स्यूडोमोनास एक बेक्टीरिया होता है जिसे हमे संक्रमण होता है इस संक्रमण से बचने के लिए r87 medicine में स्यूडोमोनास मेडिसिन मिली हुई है

(5) . स्क्रेलेटींनम (scarlatinum)

स्कार्लेट बैक्टीरिया से बचने के लिए r87 medicine के अंदर स्क्रेलेटींनम मेडिसिन मिली हुई है जो संक्रमण को होने से रोकती है

(6) . साल्मोनेला (salmonella)

साल्मोनेला टाइफी जैसे संक्रमण को रोकने के लिए r87 medicine में साल्मोनेला मेडिसिन मिली हुई है जो बहुत लाभकारी है

(7) . ईकोलाई (ecoli)

अगर आपको ईकोलाई संक्रमण की समस्या होती है तो उसके लिए ईकोलाई r87 medicine में मिली हुई है जो बहुत लाभकारी है

यह सभी homeopathic मेडिसिन r87 medicine में मिली हुई है और इन सभी मेडिसिन के कारण r87 medicine का असर बहुत अच्छा देखने को मिलता है

r87 medicine को कैसे रखे – how to store r87 medicine in hindi

r87 medicine को आपको हमेशा ही सामान्य तापमान में रखना है इसके लिए आप मेडिसिन को कमरे के सामान्य तापमान में रख सकते है

आपको एक बात का ध्यान रखना है की r87 medicine को ज्यादा गर्म व ज्यादा ठंडी जगह पर नहीं रखना है इसे मेडिसिन खराब हो सकती है

निष्कर्ष

आशा करते है की आपको r87 homeopathic medicine के बारे में पता चल गया होगा और अब आप r87 medicine का इस्तेमाल सही तरीके से करेगे बच्चो के लिए यह मेडिसिन बहुत लाभकारी है और आपको इस मेडिसिन को बच्चे को देने से पहले डॉक्टर की सलाह जरुर ले

related topic

Dr.reckeweg R62 medicine का इस्तेमाल संक्रमण को ठीक करने के लिए किया जाता है

Candifem Vaginal Cream uses in hindi का इस्तेमाल योनी संक्रमण में किया जाता है

जानिए कुछ सवालों के जवाब

Q . व्यस्क और बुजुर्ग r87 medicine का सेवन कितने दिन तक कर सकते है ?

ans . व्यस्क और बुजुर्ग r87 medicine का सेवन 3 दिन तक करे 1 महीने तक रुके फिर 3 दिन मेडिसिन ले फिर रुके एसे आप हर महीने इसे ले सकते है सकते है आपको फायदा होगा |

Q . क्या प्रेगनेंसी के दोरान r87 medicine का सेवन कर सकते है ?

ans . प्रेगनेंसी के दोरान r87 medicine के सेवन से पहले आपको डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए |

डिस्क्लेमर – जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर प्रकार से प्रयाश  किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी thedkz.com की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है