r28 homeopathic medicine का इस्तेमाल मुख्या रूप से मासिक धर्म न आने की समस्या के लिए किया जाता है जब किसी महिला को मासिक धर्म नहीं आता है तो उस महिला के लिए r28 medicine बहुत लाभकारी है

मासिक धर्म को periods भी कहते है और बहुत सी महिलाए एसी है जिनको मासिक धर्म के दोरान बहुत ज्यादा दर्द होता है जो सहना मुश्किल होता है उन महिलाओं के लिए r28 medicine लाभकारी है

मासिक धर्म का आना आम बात है हर महिला लड़की को हर महीने मासिक धर्म होते है जिसके दोरान उन्हें थोड़ी समस्या का सामना करना पड़ता है क्युकी मासिक धर्म के दोरान दर्द होता है

हर महिला में एक प्रज्वलन अंग होता है हर महीने ओवरी से एक अंडा पैदा होता है और वह अंडा गर्भाशय में जाता है और कुछ समय या एक महीने के लिए वही पर रहता है

अगर उस दोरान किसी पुरुष की मदत से उस अंडे का फर्टिलाइजेशन नहीं होता है तो उस अंडे का कोई काम नहीं रहता है जिसके कारण वह अंडा योनी मार्ग के द्वारा बाहर निकल जाता है

उस अंडे के साथ साथ ब्लड भी निकलता है इसी को मासिक धर्म कहते है परन्तु कई बार कुछ महिला में मासिक धर्म न आने की समस्या उत्पन होती है मासिक धर्म लेट आता है

उसके लिए r28 medicine बहुत लाभकारी होती है अगर किसी महिला को मासिक धर्म लेट आने की समस्या है या मासिक धर्म के दोरान बहुत ज्यादा दर्द होता है तो r28 medicine ले सकती है जानते है r28 medicine के बारे में

r28 medicine क्या है – what is r28 medicine in hindi

r28 medicine का इस्तेमाल मासिक धर्म न आने की समस्या और मासिक धर्म में होने वाले तेज दर्द को कम करने के लिए किया जाता है r28 medicine एक homeopathic medicine है

जो की जर्मन की dr.reckeweg की एक ब्रांड है यह आपको ड्राप के रूप से मिल जाती है और r28 medicine को Secalen – dysmenorrhea , amenorrhea drops भी कहते है

r28 medicine के अंदर बहुत सी अलग अलग medicine मिली हुई है जैसे aesculus hippocastanum , crocus sativus , ferrum phosphoricum , hamamelis virginica , secale cornutum , acidum sulphuricum . इन सभी medicine के बारे में आपको निचे देखने को मिल जाएगा

r28 medicine का इस्तेमाल कैसे करे – r28 homeopathic medicine uses in hindi

r28 medicine का इस्तेमाल उम्र , लिंग को ध्यान में रखते हुए डॉक्टर की सलाह के अनुसार किया जाता है ताकि आने वाले समय में मरीज को कोई समस्या उत्पन न हो

अगर आपको मासिक धर्म लेट आने की समस्या है या दर्द होता है तो आप पहले डॉक्टर से सम्पर्क करे उसके बाद ही r28 medicine का इस्तेमाल करे

r28 medicine की dose आपकी समस्या पर निर्भर करती है अगर समस्या ज्यादा है तो dose ज्यादा होगी और अगर समस्या कम है तो आपको कम मात्रा में इसका सेवन करना पड़ेगा

पर ज्यादा कोशिस करे की शुरू में कम dose से ही इसकी शुरुवात करे आपको एक चोथाई कप पानी लेना है पानी आप हल्का गुनगुना ले न ज्यादा गर्म न ज्यादा ठंडा

उस पानी में आपको r28 medicine की 10 से 15 ड्राप डालनी है और उसको मिक्स करके उसका सेवन करना है आपको r28 medicine का सेवन दिन में 3 बार करना है

और ध्यान रहे की आपको r28 medicine का सेवन खाना खाने से आधे या एक घंटे पहले करना है अगर आप इसका इस्तेमाल लगातार करते है तो आपको लाभ होगा

(1) . महिला सेवन करे

बिमारी :मासिक धर्म न आना , मासिक धर्म में ज्यादा दर्द होना
मात्रा :10 से 15 ड्राप एक समय में
दिन में कितनी बार :दिन में 3 बार सुबह दोपहर और शाम
खाना खाने के बाद या पहले :खाना खाने से आधे या एक घंटे पहले ले
किसके साथ ले :एक चोथाई कप गुनगुने पानी के साथ
सलाह :डॉक्टर की सलाह ले
अगर समस्या कम है तो एक समय में 10 ड्राप ले

r28 medicine का इस्तेमाल आप लगातार करे बीच में न छोड़े अगर आप लगातार इसका सेवन करते है तो आपको अच्छा रिजल्ट मिलेगा बहुत सी माहिला इसका सेवन करना छोड़ देती है जिसे उनको फायदा नहीं मिलता है

r28 medicine के फायदे – benefits of r28 medicine in hindi

r28 medicine के फायदे आपको निचे देखने को मिल जाएगे जो इस प्रकार है

(1) . मासिक धर्म लेट आने की समस्या के लिए लाभकारी है

जिन महिलाओं का मासिक धर्म लेट आता है उन महिलाओं के लिए r28 medicine बहुत ज्यादा लाभकारी होता है अगर आपको मासिक धर्म लेट आ रहा है और समस्या हो रही है तो आप r28 medicine का सेवन करे

(2) . मासिक धर्म में होने वाले तेज दर्द को कम करती है

कुछ महिला को दर्द की समस्या होती है उनको मासिक धर्म के दोरान बहुत तेज दर्द होता है जो सहन नहीं होता है r28 medicine ज्यादा होने वाले दर्द को कम करता है

यह दोनों r28 medicine के मुख्या लाभ है और आप r28 medicine का सेवन कर सकते है

r28 medicine के दुष्प्रभाव – side effects of r28 medicine in hindi

r28 medicine का इस्तेमाल लाभकारी है और इसके दुष्प्रभाव के बारे में अभी तक कोई सुचना नहीं मिली है परन्तु फिर भी आप इसका सेवन सही तरीके से करे इसके सेवन से पहले डॉक्टर की सलाह ले और अपनी समस्या के अनुसार ही इसकी dose ले ताकि कोई समस्या उत्पन न हो

r28 medicine की कुछ सावधानियाँ – precautions of r28 medicine in hindi

r28 medicine के सेवन से पहले आपको कुछ बातो का ध्यान जरुर रखना है जिसके बारे में आपको निचे देखने को मिल जाएगा जो इस प्रकार है

(1) . डॉक्टर की सलाह ले

आप r28 medicine के सेवन करने से पहले आपको एक बात का ध्यान रखना है आपको डॉक्टर की सलाह जरुर लेनी है ताकि कोई समस्या न हो

(2) . medicine को खाने से पहले ले

जब भी आप r28 medicine का सेवन करे तो ध्यान रहे की खाना खाने से पहले ही करे और अगर हो सके तो खाना खाने से आधे या एक घंटे पहले सेवन करे

(3) . अगर इसे एलर्जी है तो न ले

अगर आपको r28 medicine से किसी प्रकार की एलर्जी की समस्या है तो आपको इसका सेवन नहीं करना है इसे आपको समस्या हो सकती है

(4) . exp date को जरुर चेक करे

r28 medicine को लेने से पहले आप इसकी exp date को जरुर चेक करे क्युकी बहुत सी महिलाए r28 medicine को लेने से पहले exp date को जरुर चेक करे

अगर आप r28 medicine ले रहे है तो आप उपर बताई गई बातो का ध्यान रखे

r28 medicine की सामग्री – ingredients of r28 medicine in hindi

r28 medicine में कुछ homeopathic medicine मिली हुई है जिसके बारे में आपको निचे देखने को मिल जाएगा जो इस प्रकार है

(1) . एस्कुलस हिप्पोकास्टेनम (aesculus hippocastanum)

एस्कुलस हिप्पोकास्टेनम तब दी जाती है जब मासिक धर्म के दोरान बहुत तेज दर्द की समस्या उत्पन होती है उस समय में एस्कुलस हिप्पोकास्टेनम दी जाती है जिसे आराम मिलता है

(2) . क्रोकस सैटिवस (crocus sativus)

क्रोकस सैटिवस medicine तब दी जाती है जब जल्दी जल्दी मासिक धर्म होता है और इसके साथ ही बहुत ज्यादा ब्लीडिंग होती है और अगर ब्लीडिंग गहरे रंग की होती है उसके लिए क्रोकस सैटिवस लाभकारी है

(3) . फेरम फास्फोरिकम (ferrum phosphoricum)

फेरम फास्फोरिकम medicine का इस्तेमाल तब किया जाता है जब ब्लीडिंग बहुत ज्यादा होती है और ब्लीडिंग होने के बाद एनीमिया की समस्या हो जाती है खून की कमी हो जाती है उस समय में फेरम फास्फोरिकम दी जाती है

(4) . हमामेलिस वर्जीनिका (hamamelis virginica)

हमामेलिस वर्जीनिका medicine का इस्तेमाल तब किया जाता है जब बहुत ज्यादा ब्लीडिंग होती है और साथ में दर्द भी होता है और ब्लीडिंग बार बार होती है उस समय में हमामेलिस वर्जीनिका दी जाती है

(5) . सिकेल कौर्नूटम (secale cornutum)

सिकेल कौर्नूटम बहुत ज्यादा लाभकारी होती है यह medicine ब्लड सर्कुलेशन को सही रखती है और मासिक धर्म की समस्या के लिए लाभकारी है

(6) . एसिडम सल्फ्यूरिकम (acidum sulphuricum)

एसिडम सल्फ्यूरिकम तब दी जाती है जब मासिक धर्म के दोरान शरीर से बहुत ज्यादा गर्मी निकलती है या बहुत ज्यादा पसीना आता है और इसके साथ ही कमजोरी लगती है उस समय में एसिडम सल्फ्यूरिकम medicine दी जाती है

यह सभी homeopathic medicine r28 medicine में मिली हुई है जिसे r28 medicine के फायदे और ज्यादा बढ़ जाते है आप इन सभी medicine को अलग से भी ले सकते है

r28 medicine को कैसे रखे – how to store r28 medicine in hindi

r28 medicine को आपको सामान्य तापमान में रखना पड़ता है इसे आप अपने कमरे में रख सकते है क्युकी कमरे का तापमान सामान्य होता है

एक बात का और ध्यान रखे की ज्यादा ठंडी और ज्यादा गर्म जगह से r28 medicine को दूर रखे इसे यह medicine खराब हो सकती है और डैमेज r28 medicine को कभी न ले

निष्कर्ष

आशा करते है की आपको r28 homeopathic medicine के बारे में पता चल गया होगा और अब आप इसका इस्तेमाल सही से करोगी परन्तु फिर भी जब भी मासिक धर्म की समस्या हो तो आपको डॉक्टर से सम्पर्क करना चाहिए और उनकी सलाह के बाद ही किसी medicine का इस्तेमाल करना चाहिए

related topic

r10 homeopathic medicine का इस्तेमाल सिर दर्द मासिक धर्म कमजोरी में किया जाता है

dr.reckeweg r75 medicine का इस्तेमाल पीरियड्स में दर्द की समस्या के लिए किया जाता है

जानिए कुछ सवालों के जवाब

Q . क्या r28 medicine का हमारे शरीर पर कोई दुष्प्रभाव पड़ सकता है ?

ans . r28 homeopathic medicine का हमारे शरीर पर कोई बुरा प्रभाव नहीं पड़ता है परन्तु फिर भी आप सही मात्रा में इसका सेवन करे |

Q . क्या r28 medicine के अंदर मिली medicine को हम अलग से ले सकते है ?

ans . हाँ आप r28 medicine में मिली हुई medicine का इस्तेमाल अलग से कर सकती है इसके लिए एक बार डॉक्टर से सलाह ले |

डिस्क्लेमर – जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर प्रकार से प्रयाश  किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी thedkz.com की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है