QRMP स्कीम क्या है जाने आई आई फ के बारे मैं

QRMP स्कीम मैं आप कैसे आ सकते हो और आप इस से कैसे निकल सकते है आये जानते है

ये स्कीम जनुअरी 2021 से लागू किया गया है और जिनका AATO वार्षिक टर्न ओवर 19 या 20 मैं 5 करोड़ या उससे कम है

रूल – वे टैक्स पेयर जिनका वार्षिक टर्न ओवर 1.50 करोड़ तक था और अपनी पिछली साल की दिसम्बर की रिटर्न मंथली बेसिक पर भर रहे थे उन्हें इस स्कीम से बहार रखा गया है और वो अपनी रिटर्न मंथली बेसिक पर ही भरेगे

रूल – वे टैक्स पेयर जिनका वार्षिक टर्न ओवर 1.50 तक था और वो अपनी रिटर्न क्वार्टरली भर रहे थे उनको इस स्कीम के अंदर लाया गया

रूल – वे टैक्स पेयर जिनका टर्म ओवर 1.50 करोड़ से 5 करोड़ के बीच तक था उन्हें क्वार्टरली कर दिया गया यानी उनको QRMP स्कीम मैं लाया गया बस इसमें शर्त रखी गयी थी जिन टैक्स पेयर ने जी एस टी आर 3बी OCT -2020 की रिटर्न नवम्बर 2020 मैं दाखिल नही किया था उनको इस स्कीम से बहार रखा गया और वो मंथली रिटर्न ही भरेगे

जो टैक्स पेयर सिस्टम के हिसाब से क्वार्टरली स्कीम मैं आ गए है वो मंथली मैं कैसे जा सकते है पहले बता दे की आप इस स्कीम मैं पुरे साल मैं कभी भी आ सकते है और कभी भी निकल सकते है

ऑप्ट इन और ऑप्ट आउट का रुल कैसे काम करता है 

ऑप्ट आउट और ऑप्ट इन की सुविधा जो है वो पुरे साल उपलब्ध होती है इसमें एक विंडो दी जाती है जो एक क्वार्टर के पहले माह से और अगले क्वार्टर की पहले माह की आखिरी तारिक तक आप कभी भी इससे बहार आ सकते हो ओर इस स्कीम मैं आ भी सकते है पर इसमें कुछ कंडीशन है

कंडीशन –

इसमें ये सर्त ये भी है की आप जिस माह मैं इस स्कीम मैं आना चाहते है तो आपकी पिछले माह की रिटर्न भरी होनी चाहिए  अगर आप एक बार इस स्कीम मैं आ गए तो आप इसी स्कीम मैं ही रहोग जब तक की आप उससे खुद बहार ना निकलना चाहो या जो आपका टर्न ओवर जो है वो किसी क्वार्टर मैं आपकी 5 करोड़ या उससे ऊपर ना चली जाये

वो कौन सी तारिक है जिसमे आप QRMP  ऑप्ट इन और ऑप्ट आउट हो सकते हो

क्वार्टर

QRMP स्कीम कैन बी ऑप्ट इन और ऑप्ट आउट डेट

क्वार्टर पहला –अप्रैल से जून

1ST फेब्रुअरी से 30TH मार्च

क्वार्टर दूसरा  –जुलाई से सितम्बर

1ST मई से 31st जुलाई

क्वार्टर  तीसरा –अक्टूबर से दिसम्बर

1ST अगस्त से 31ST अक्टूबर

क्वार्टर चार –जनुअरी से मार्च

1ST नवम्बर से 31st जनुअरी

आई फ फ डिटेल

आपको उपर बता दिया गया है की ऑप्ट इन और ऑप्ट आउट की सुविधा इन क्वार्टर मैं इन माह मैं आप कर सकते हो

अब हम बात करेगे की आई आई फ की फैसिलिटी कैसे इस्तेमाल कर सकते है और कैसे टैक्स जमा करा सकते है

वो टैक्स  पेयर जो QRTMT स्कीम मैं है वो अपनी रिटर्न पहले की तरह ही भरते रहेगे बस उनको आई आई फ की फैसिलिटी है जिसमे वो अपनी B2B की बिल की डिटेल भर सकते है

इसमें कुछ शर्त है अगर एक महीने मैं अगर बिल की इनवॉइस की वैल्यू 50 लाख से तक होनी चाहिए अगर इनती वैल्यू नही होगी तो आप 50 लाख से ज्यदा की वैल्यू जो है वो प्रोसेस नही कर सकते मतलब आपकी वैल्यू जो है अगले महीने भी पचास लाख तक ही होगी

ये फैसिलिटी आपको अगले माह की 13 तारिक तक मिलती है मतलब ये है की आप पहले माह की 1 तारीख से अगले माह की 13 तारिक तक आप इसमें अपने B2B कॉलम को ऐड कर सकते है और आप अगले माह की 13 तारीख तक जब चाहे इसके चेंज कर सकते है बस आपको सुम्बित नही करना है आपको सेव करना है अगर आप सुम्बित कर देते है तो आप चेंज नही कर सकते आपको चेंज करने के लिए आपको रिसेट का बटन मिलेगा आप चेंज कर सकते हो

अब आपको ये समझ आ गया होगा अब आप पेमेंट कैसे जमा कर सकते है

पेमेंट of टैक्स फ्रॉम PMT -06

पहला महिना और दूसरा महिना का टैक्स DUE है वो अगले माह के 25 तारिक तक जमा कर सकते है

इसमें आपको कुछ शर्त है

अगर आप ने पिछले तीन महीने मैं आप ने कैश ledger से कितना अमाउंट डिपाजिट कराया है उसका 35% आप जमा कर सकते है और इसका एडजस्टमेंट आप जब आप नेक्स्ट GSTR 3 B फाइल करोगे तो आपको उसमे ये एडजस्टमेंट होगा

दूशरा तरीका ये है की अगर आप मंथली पेयर थे और आप ने पिछले महीने कितना कैश LEDGER से पे किया है उसका 100% आपका चालान आपको भरना पड़ेगा

इसमें एक शर्त ये भी है अगर आपके क्रेडिट ledger मैं इतना बैलेंस है की आपके 2 महीने की टैक्स लायबिलिटी के बराबर है तो आपको कुछ भी टैक्स पे करने की जरूरत नही है

अगर आप नील की रिटर्न है कोई अमाउंट नही तो भी आपको कोई टैक्स पे नही करना है

आपको चालान कैसे GENRATE करना है – आपको सर्विस मैं जाना है -पेमेंट मैं जाना है -क्रिएट चालान -रीज़न फॉर चालान -मंथली पेमेंट फॉर क्वार्टरली रिटर्न -35% चालान

 

Leave a Comment