खून की कमी के कारण लक्षण उपचार

जिस बिमारी में शरीर में रक्त की मात्रा कम होकर शरीर का रंग बदलने लगता है , शरीर का रंग बदलकर सफ़ेद और पीला पड़ने लगता है उसे ही खून की कमी की समस्या कहाँ जाता है और आयुर्वेद के अनुसार पांडूरोग कहते है |

और इंग्लिश में खून की कमी की समस्या को anaemia कहते है | आज के समय में अगर खून की कमी की बात की जाए तो 100 % में से 30 % लोगो में खून की कमी / एनीमिया की समस्या है |

और इसी समस्या से अधिकतर लोग परेशान है , हमारे शरीर में सुध खून हमें कई बीमारियों से बचाता है और हमे जीवन जीने में मदत करता है अगर किसी व्यक्ति में खून की कमी होती है तो उसका असर हमारे दिमाग पर भी पड़ता है |

क्युकी खून की कमी होने पर शरीर ढीला पड़ जाता है काम में मन नहीं लगता है मन उदास रहता है बहुत आलस रहता है इसलिए  आज हम आपको खून की कमी / एनीमिया के बारे में बताएगे

हिमोग्लोबिन का प्रमाण 

हीमोग्लोबिन का प्रमाण इस प्रकार है

ग्राम %                                       अवस्था 

9 से 11                                          समान्य

7 से 9                                            मध्यम

4 से 7                                            तीर्व

4 से कम                                        गंभीर

खून की कमी के कारण 

खून की कमी के कारण आपको अलग अलग प्रकार से देखने को मिल जाएगा जो इस प्रकार है –

.  बहुत अधिक तीखे , खट्टे प्रदार्थ का सेवन करना

खून की कमी के कारण में सबसे पहला है बहुत अधिक तीखे , खट्टे प्रदार्थ का सेवन करना , देखा गया है की जो व्यक्ति बहुत अधिक तीखे खट्टे प्रदार्थ का सेवन करता है उसमे खून की कमी होने लगती है जो खून की कमी का पहला कारण है |

.  हमेशा गुसा , चिंता करना

आपने बहुत से लोगो को कहते हुए सुना ही होगा की जो लोग अधिक गुसा करते है उनका खून जलता है आयुर्वेद के अनुसार यह बात सच है अगर आप बहुत गुसा करते है चिंता करते है तो आपको खून की कमी हो जाती है |

.  ना पचने वाले खाद्य प्रदार्थ का सेवन करना

बहुत से लोग ना पचने वाले खाद्य प्रदार्थ का सेवन अधिक करते है जिसके कारण उनका पाचन खराब होता है और कई बिमारी भी होती है जिसके कारण खून की कमी हो जाती है |

.  अधिक मैथुन करना

खून कम होने का एक सबसे बड़ा कारण है मैथुन कुछ व्यक्ति को अधिक मैथुन करने की समस्या हो जाती है जिसके कारण खून की कमी की समस्या होती है इसलिए मैथुन ना करे |

.  मूत्र और मल को रोककर रखना

अधिकतर लोगो में मूत्र और मल को रोककर रखने की समस्या होती है जब वह कोई जरुरी काम करते है और उस समय मूत्र या मल आ जाता है तो उसे रोक लेते है और यह खून की कमी का मुख्या कारण होता है |

.  पोष्टिक प्रदार्थ का सेवन ना करना

खाना तो सभी को अच्छा लगता है परन्तु बहुत ही कम लोग होते है जो पोष्टिक आहार नहीं लेते है कुछ लोग अधिक फ़ास्ट फ़ूड का सेवन करते है जिसके कारण शरीर में खुन की कमी होने लगती है |

.  पेट में कीड़े की समस्या होने के कारण

पेट में कीड़े की समस्या भी अधिकतर लोगो को है और यह एक आम समस्या है परन्तु कई बार कुछ लोगो में पेट में कीड़े होने पर शरीर में खून कम हो जाता है इसके अलावा भी कई समस्या होने लगती है |

.  मिटी खाने के कारण

खून की कमी का एक कारण मिटी खाना हो सकता है बहुत से लोगो को मिटी खाने की आदत लग सकती है जो आपके लिए नुक्सानदायक हो सकती है जिसे आपके शरीर में खून की कमी हो सकती है |

.  अन्य कोई बिमारी होने के कारण

अगर शरीर में कोई नई या पुरानी बिमारी होती है तो भी उस बिमारी के कारण खून कम होने लगता है इसके लिए आपको अपनी बिमारी को ठीक करने के लिए डॉक्टर से मिलना चाहिए और जाँच करवानी चाहिए |

देखा गया है की बहुत से लोगो में लोहतत्व की मात्रा कम होने से खून की कमी होती है और इसके अलावा जिन लोगो के पेट में कीड़े होते है उनमे खून की कमी होती है 

खून की कमी / एनीमिया के लक्ष्ण 

एनीमिया के लक्ष्ण इस प्रकार है जो आपको निचे देखने को मिल जाएगे –

.  भूख ना लगना

शरीर में खून कम होने का पहला लक्ष्ण जो आपको देखने को मिलेगा वह है भूख की कमी हो जाना मतलब जब आपके शरीर में खून की कमी होगी तो आपको भूख कम लगने लगेगी |

.  कमजोरी लगना

जब किसी व्यक्ति में एनीमिया की समस्या हो जाती है तो उसमे धीरे धीरे कमजोरी आने लगती है , थकान सी रहती है , आलस रहता है कार्य करने का मन नहीं करता है और यह खून की कमी का लक्ष्ण हो सकता है |

.  शोच साफ़ ना होना

एक लक्ष्ण और देखने को मिला है जिन व्यक्ति में खून कम हो जाता है तो उनका शोच साफ़ नहीं होता है उन्हें कब्ज की समस्या हो जाती है , पेट में दर्द सा रहता है इसलिए जांच करवाए |

.  बुखार लगना

बुखार आना भी एनीमिया का लक्ष्ण होता है जिन व्यक्तियों में खून कम होता है या कमी हो जाती है उनमे बुखार आने की समस्या बार बार हो जाती है वह एक महीने में ही कई बार बीमार पड़ जाते है |

.  मुहँ का सवाद कडवा हो जाना

खाना सभी को पसंद होता है और मुहँ के द्वारा ही हम खाने का सवाद पता करते है जिन व्यक्ति में खून कम होता है उन व्यक्ति के मुहँ का सवाद बदल जाता है कडवा हो जाता है |

.  चलने पर दम फूलना

खून की कमी वाले व्यक्ति में एक लक्ष्ण और देखने को मिलता है वह है दम फूलना , जब शरीर में खून की कमी होती है तो कुच्छ दूर चलते ही या सीढियाँ चढ़ते ही दम फूलने लगता है |

.  शरीर का रंग पिला पड़ना

जिन व्यक्ति के शरीर में खून की कमी हो जाती है उनके शरीर का रंग बदल जाता है , उनके शरीर का रंग बदलकर पीला और सफ़ेद पड़ जाता है चेहरे का रंग बदल जाता है |

.  चेहरा मुरझा जाना

सभी का मन होता है की उनके चेहरे पर रोनक रहे परन्तु अगर आपके शरीर में खून कम है या कमी है तो आपका चेहरा मुरझा जाएगा बेजान हो जाएगा |

.  गुसा अधिक आना

गुसा करना बहुत से लोगो की आदत होती है परन्तु जिन लोगो में खून कम होता है या कमी होती है उनको छोटी छोटी बात पर बहुत अधिक गुसा आता है और वह भी बहुत जल्दी जल्दी जो एक लक्ष्ण है |

.  चक्र आना

जिन व्यक्ति के शरीर में खून कम होता है और अगर वह जादा मेहनत का काम या फिर जादा धुप में काम करते है तो उनमे चकर  की समस्या उत्पन हो जाती है |

.  गर्म प्रदार्थ खाने की जादा इस्छा होना

शरीर में खून कम होने पर सिर्फ गर्म चीजे खाने का मन करता है अगर ठंडी चीजे का सेवन करते है तो व्यक्ति को समस्या होती है वह खा नहीं पाता है |

.  मिटी खाने की इच्छा होना

खून की कमी होने का कारण मिटी खाना भी है और खून की कमी होने के बाद यही लक्ष्ण दिखाई देता है मतलब जिनमे खून कम हो जाता है उनको मिटी खाना अच्छा लगता है उनकी इच्छा होती है मिटी का सेवन करना |

अगर आपके अन्दर खून की कमी है तो आपको यह लक्षण दिखाई देंगे , अगर आपके शरीर में भी यही लक्ष्ण दिखाई दे रहे है तो डॉक्टर की सलाह ले और खून की जांच करवाए | 

खून की कमी के उपचार 

खून की कमी के बहुत से उपचार है जो आपको अलग अलग प्रकार से देखने को मिल जाएगे

.  जिन कारणों से खून की कमी होती है उन कारणों को दूर करे

खून की कमी को दूर करने के लिए सबसे अच्छा उपचार है की आप सबसे पहले उन कारणों को दूर करो जिसे खून की कमी हो रही है उस कारण की जांच करवाओ और समय पर ठीक करवाओ

.  जादा पोष्टिक आहार ले

इसके अलावा दूसरा उपचार है जादा से जादा पोष्टिक आहार का सेवन करे उन चीजो का सेवन जादा करे जिसे खून की कमी खत्म हो जाए , मिनिरल्स वाले प्रदार्थ का सेवन करे सभी हरी सब्जियां आदि |

.  आंवले और सहद का इस्तेमाल करे

आपको ताजे आंवले के 2 चमच रस में 1 चमच सहद डाल लेना है और इसका सेवन करना है आप एसा 2 या 3 बार पुरे दिन में कर सकते है इसे आपको अच्छा फायदा होगा |

.  कट्फल का इस्तेमाल करे

आपको कट्फल लेना है और उसका बहुत बारीक चूर्ण बना लेना है और उसको 1 या 2 ग्राम की मात्रा में दिन में 2 या 3  बार लेना है इसे खून की कमी वाली समस्या खत्म होगी |

.   त्रिफला चूर्ण का इस्तेमाल करे

त्रिफला , गिलोय , अडूलसा , कुटकी , निम्बू का छिलका सामान मात्रा में लेकर उसका काढ़ा बना लेना है और उसे कपडे में अछे से छान लेना है और उसमे 2 या 3 चमच सहद डालना है और सुबह और शाम आधा आधा कप लेना है |

.  लोहास्व का इस्तेमाल करे

लोहास्व का इस्तेमाल खून की कमी को पूरा करने के लिए किया जाता है इसके लिए आपको लोहास्व की 3 या 4 चमच सुबह शाम सेवन करना है |

.  नवायस चूर्ण का इस्तेमाल करे

500 मी ग्राम से 1 मिलीग्राम की मात्रा में दिन में 2 या 3 बार दाड़ीमादी घी के साथ गर्म पानी के साथ लेना है इसे आपके शरीर में खून कम होने वाली समस्या खत्म हो जाएगी |

उपर बताए गए उपचार बहुत फायदेमंद है परन्तु फिर भी आप सबसे पहले डॉक्टर के पास जाए और जांच करवाए और खून की कमी को पूरा करे उसके बाद ही घरेलू उपचार करे | 

खून की कमी होने पर क्या खाना चाहिए 

जानते है की जब शरीर में खून कम हो जाता है तो हमें क्या खाना चाहिए –

.  भूंजे हुए चावल का सेवन करे |

.  सभी प्रक्रार की हरी साग का सेवन करे |

.  लोह तत्व से बनी हुई दाल का सेवन करे |

.  सभी प्रकार के फलो का सेवन करे |

.  मुंग की खिचड़ी का सेवन करे |

क्या नहीं खाना चाहिए 

शरीर में खून कम होने पर क्या नहीं खाना चाहिए |

.  दही का सेवन नहीं करना चाहिए |

.  किसी भी प्रकार के मांस का सेवन नहीं करना चाहिए |

.  किसी भी प्रकार के अचार का सेवन नहीं करना चाहिए |

.  किसी भी प्रकार के पापड़ का सेवन नहीं करना चाहिए |

खून की कमी होने पर क्या नही करना है 

शरीर में खून कम होने पर आपको इन बातो का ध्यान रखना है

.  धुप में आपको नहीं घूमना है |

.  रात में जादा देर तक नहीं जागना है |

खून की कमी के लिए ओषधियाँ 

शरीर में खून कम होने पर निचे दी गई उपलब्ध ओषधियाँ का प्रयोग करे 

ओषधियो का नाम                                       कंपनी का नाम 

टेबलेट . हेमोल फोर्टे                                        सन्दू

टेबलेट . रक्तदा                                               महर्षि आयुर

सिरप / कैप्सूल . अम्यरोंन                                एमिल

कैप्सूल                                                            अनुजा

सिरप . मंनोल                                                  चरक

निष्कर्ष 

आशा करते है की आपको खून की कमी के कारण लक्ष्ण और इसके उपचार के बारे में पता चल गया होगा , खून की कमी होने पर आपके शरीर में कोई बड़ी समस्या हो सकती है इसलिए डॉक्टर की सलाह ले और शरीर में खून को पूरा करे |

related topic 

स्मरण शक्ति कम होना और इसके उपाय | याददाश्त तेज करने के घरेलू उपाय

मोच के घरेलू उपाय | मोच को ठीक करने के लिए अपनाए यह 6 घरेलू उपचार

पैर फटना क्या है और इसके घरेलू उपाय

दांतो को अंदर करने का घरेलू उपाय | जानिए दांतों को अंदर करने के 3 टिप्स

बालों का झड़ना कैसे बंद करें घरेलू उपाय | बालो को झड़ने से रोकने के लिए 8 easy उपाय

जानिए कुछ सवालों के जवाब                              

Q . खून की कमी होने पर क्या करे ?

ans . खून की कमी को पूरा करने के लिए आप सबसे पहले डॉक्टर से मिले और जांच करवाए उसके बाद डॉक्टर के बताए अनुसार ही चीजो का सेवन करे |

Q. खून की कमी होने पर किन फलो का सेवन करे |

ans . खून की कमी के लिए अनार का सेवन करे इसके अलावा केले सेब आदि का सेवन करे |

डिस्क्लेमर – जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर प्रकार से प्रयाश  किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी thedkz.com  की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है

Leave a Comment