हेमपुष्पा कब पीना चाहिए,हेमपुष्पा की खुराक से जुडी बाते

हेमपुष्पा कब पीना चाहिए हेमपुष्पा आयुर्वेदिक दवा है जो आपको सिरप के रूप में देखने को मिलती है हेमपुष्पा का इस्तेमाल महिलाओं के लिए बहुत जादा फायदेमंद होता है यह महिलाओं को सवस्थ रखने में बहुत जादा मदत करती है

हेमपुष्पा सिरप का इस्तेमाल पुरुष नहीं कर सकते है अगर वाशरूम के दोरान दर्द होता है तो हेमपुष्पा सिरप लेना फायदेमंद होता है यह दर्द और जलन को कम करता है इसके अलावा पीरियड में भी हेमपुष्पा बहुत फायदेमंद होती है

बहुत सी महिलाओं को पीरियड लेट आने की समस्या या जल्दी आने की समस्या या पीरियड में जादा ब्लड आने की समस्या होती है उसके लिए हेमपुष्पा का इस्तेमाल करना बहुत फायदेमंद होता है

इसके अलावा यह वजन बढाने में भी बहुत असरदार होती है देखा जाता है बहुत सी महिलाए बहुत जादा पतली दुबली होती है उनका वजन कम होता है हेमपुष्पा के इस्तेमाल से आप वजन बढ़ा सकती है

पीरियड के दोरान महिलाओं में पिम्पल निकल आते है पेरो हाथो शरीर में दर्द होने लगता है जो बहुत जादा परेशानी वाली बात है इस सभी समस्या को हेमपुष्पा सिरप कम कर देता है जिसे राहत मिलती है

हेमपुष्पा का इस्तेमाल आप प्रेगनेंसी के दोरान भी कर सकती है परन्तु इस्तेमाल करने से पहले आप एक बार डॉक्टर की सलाह जरुर ले तभी इस्तेमाल करे वेसे हेमपुष्पा का साइड इफ़ेक्ट देखने को नहीं मिलता है

आपको यह तो पता चल गया है की हेमपुष्पा का इस्तेमाल महिलाओं के लिए बहुत जादा फायदेमंद होता है परन्तु बहुत सी महिलाओं का सवाल होता है की हेमपुष्पा कब पीना चाहिए

आज हम आपको बताएगे की हेमपुष्पा कब पीना चाहिए हेमपुष्पा का इस्तेमाल करने का क्या तरीका होता है यह आपको पता होना आवश्यक होता है हेमपुष्पा का इस्तेमाल करने से पहले

और पढ़े1 दिन में कितना पानी पीना चाहिए

हेमपुष्पा कब पीना चाहिए

किसी भी सिरप या टेबलेट के इस्तेमाल से पहले यह पता होना जरुरी है की उसका सेवन किस तरीके और किस समय करना चाहिए तभी आपको फायदा होगा हेमपुष्पा कब पीना चाहिए जानिए इसके बारे में

आपको हेमपुष्पा सिरप का इस्तेमाल सुबहे नास्ते के समय और रात को डिनर के समय करना है आपको हेमपुष्पा सिरप का 7 ml सुबहे खाना खाने के बाद लेना है और 7 ml ही रात को डिनर के बाद लेना है

और पढ़ेरात को सोते समय अजवाइन खाने के फायदे क्यों खाना चाहिए अजवाइन

हेमपुष्पा सिरप के साथ आपको केप्सूल भी देखने को मिल जाती है आपको इसका इस्तेमाल भी करना है इस केप्सूल का इस्तेमाल भी आपको सुबहे खाना खाने के बाद और रात को डिनर के बाद करना है

हेमपुष्पा सिरप या केप्सूल का इस्तेमाल करने से पहले एक बात का ध्यान रखे की अगर आपकी उम्र 13 वर्ष से उपर है तभी आप इसका इस्तेमाल करे 13 वर्ष से कम उम्र में इसका इस्तेमाल ना करे

और पढ़ेडेंगू में बकरी का दूध कैसे पीना चाहिए इसमें क्या पाया जाता है

हेमपुष्पा की खुराक से जुडी बाते

हेमपुष्पा कब पीना चाहिए यह बात आपको पता होना जरुरी है और साथ ही कुछ बाते जो हेमपुष्पा सिरप से जुडी है वह भी पता होना जरुरी है जानिए उन बातो के बारे में

.  हेमपुष्पा का सेवन आप उतना ही करे जितना आपको डॉक्टर के द्वारा बताया गया हो जादा मात्रा में हेमपुष्पा का सेवन ना करे

.  हेमपुष्पा सिरप लेते समय एक बात का ध्यान रखे की खाना खाने के बाद ही इसका सेवन करे

.  13 वर्ष से कम होने पर हेमपुष्पा का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए

.  आपको हेमपुष्पा सिरप का इस्तेमाल एक समय में 7 ml या दो छोटे चमच करना है जादा मात्रा में नहीं करना है

.  आपको दिन में सिर्फ दो बार ही हेमपुष्पा सिरप का सेवन करना है

.  हेमपुष्पा का सिरप लेने से पहले एक बार सिरप की डेट चेक कर ले ख़त्म ना हो गई हो

डिस्क्लेमर – जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर प्रकार से प्रयाश  किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी thedkz.com  की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है  एक अच्छी जानकारी के लिए ही हमारी टीम काम करती है

Leave a Comment