क्या फैटी लिवर में आलू खाना चाहिए इसका जवाब सबसे ज्यादा पूछा जा रहा है क्युकी फैटी लिवर में खान पान का ध्यान ज्यादा रखा जाता है

फैटी लिवर की समस्या दिन प्रतिदिन बढती जा रही है और बहुत से व्यक्ति इस बिमारी से परेशान है फैटी लिवर 2 प्रकार का होता है एल्कोहोलिक फैटी लिवर डिजीज और नॉन एल्कोहोलिक फैटी लिवर डिजीज

एल्कोहोलिक फैटी लिवर डिजीज मुख्या शराब के सेवन से होती है जो उन लोगो में ज्यादा देखि जाती है जो शराब का सेवन अधिक करते है और नॉन एल्कोहोलिक फैटी लिवर डिजीज हमारे खान पान और दिनचर्या के कारण होता है

खान पान की अगर बात करे तो आलू का इस्तेमाल हर घर में सबसे ज्यादा किया जाता है और हर सब्जी में आलू का प्रयोग किया जाता है एसे में जिन व्यक्ति को फैटी लिवर की समस्या होती है वह आलू को लेकर उलझन में रहते है

की वह आलू का सेवन कर सकते है या नहीं आपकी इस उलझन को आज हम दूर कर देंगे आप फैटी लिवर में आलू खा सकते है या नहीं इसकी जानकारी देंगे जो इस प्रकार है

फैटी लिवर में आलू खाना चाहिए या नहीं

फैटी लिवर में आलू खाना चाहिए या नहीं खाना चाहिए

फैटी लिवर में आलू खाना चाहिए या नहीं इसका जवाब है नहीं फैटी लिवर से ग्रस्त व्यक्ति को आलू के सेवन से परहेज करना चाहिए क्युकी आलू आपके लीवर में फैट को बढ़ा सकता है

फैटी लिवर की समस्या आमतोर पर लीवर में वसा की मात्रा बढ़ने के कारण होती है और आलू खाने से शरीर में वसा की मात्रा बढती है इसे व्यक्ति का वजन अधिक तेजी से बढ़ता है

एसे में अगर फैटी लिवर में आलू खाते है तो उसके द्वारा मिलने वाला वसा हमारे लीवर में जमा होता है जिसे फैटी लिवर की समस्या अधिक हो जाती है

इसलिए आपको फैटी लिवर में आलू से परेहज करना है इसी के साथ आपको आलू से बने खाद्य प्रदार्थ का भी सेवन नहीं करना चाहिए जैसे आलू से बने चिप्स आदि

इसी के साथ आपको मार्किट में मिलने वाले फ़ास्ट फ़ूड का सेवन भी नहीं करना चाहिए इसे आपकी फैटी लिवर की समस्या बढ़ सकती है , फैटी लिवर की मुख्या 3 ग्रेड होती है जैसे

(1) . फैटी लिवर की पहली ग्रेड

फैटी लिवर की पहली ग्रेड में सिर्फ लीवर के पास फैट जमा होता है किसी प्रकार का कोई इन्फ्लेमेशन नहीं होता है

(2) . फैटी लिवर की दूसरी ग्रेड

फैटी लिवर की दूसरी ग्रेड में लीवर में वसा की मात्रा बढ़ जाती है इसी के साथ इन्फ्लेमेशन भी होने लगती है जिसके कारण लीवर के सेल्स डैमेज होने लगते है

(3) . फैटी लिवर की तीसरी ग्रेड

फैटी लिवर की तीसरी ग्रेड में लीवर जो डैमेज होता है वह बहुत ज्यादा बढ़ जाता है और लीवर के सेल्स इतने ज्यादा डैमेज हो जाते है की वह सेल्स दोबारा ठीक नहीं हो सकते है एसे में लीवर फ़ैल भी हो जाता है

फैटी लिवर में आपको क्या नहीं खाना चाहिए

आपको फैटी लिवर की समस्या में कुछ खाद्य प्रदार्थ से दुरी बनाकर रखनी है जिसके बारे में आपको निचे देखने को मिल जाएगा जो इस प्रकार है

(1) . शराब का सेवन न करे

फैटी लिवर की समस्या में आपको शराब के सेवन से बचना चाहिए शराब फैटी लिवर का कारण बनता है इसके सेवन से फैटी लिवर की समस्या बढ़ जाती है

यह भी पढ़े – धुम्रपान छोड़ने की होम्योपैथिक मेडिसिन

(2) . तला हुआ खाना न खाए

फैटी लिवर की समस्या होने के बाद आपको ज्यादा तले हुए खाने से बचना चाहिए आपको फ्रेंच फ़ूड चिप्स ज्यादा तेल वाले खाने का सेवन नहीं करना है फ़ास्ट फ़ूड का सेवन न करे

(3) . चीनी का सेवन ज्यादा न करे

फैटी लिवर के दोरान आप ज्यादा मात्रा में चीनी का सेवन न करे क्युकी ज्यादा मात्रा में चीनी का सेवन आपकी फैटी लिवर की समस्या बढ़ा सकती है

(4) . लाल मांश का सेवन न करे

लाल मांस का इस्तेमाल फैट को बढाने के लिए किया जाता है और फैटी लिवर के मरीज के लिए लाल मांश नुक्सानदायक होता है क्युकी यह लीवर में वसा बढाने का काम करता है इसलिए लाल मांश का सेवन न करे

अगर आपको फैटी लिवर की समस्या है तो आपको उपर बताए गए खाद्य प्रदार्थ से दुरी बनाकर रखनी है

निष्कर्ष

आशा करते है की आपको फैटी लिवर में आलू खाना चाहिए इसके बारे में पता चल गया होगा और अब आपको कोई उलझन नहीं होगी अगर आपको समस्या होती है तो आप अपने डॉक्टर की सलाह ले और अगर फैटी लिवर के लक्ष्ण दिखाई देते है तो आप समय पर जाँच करवाए ताकि समस्या को पहले ही रोका जा सके क्युकी फैटी लिवर की लास्ट ग्रेड में लीवर को ठीक करना मुश्किल होता है इसलिए समय पर डॉक्टर की सलाह ले

related topic

liv t homeopathic medicine का इस्तेमाल लीवर की समस्या में किया जाता है

R7 homeopathic medicine का इस्तेमाल लीवर और गाल ब्लैडर की समस्या में किया जाता है

जानिए कुछ सवालो के जवाब

Q . क्या आलू फैटी लिवर का कारण बन सकता है?

ans . आलू खाने से आपको फैटी लिवर की बिमारी नहीं होती है परन्तु अगर आपका लीवर कमजोर है या फैटी लिवर की समस्या है तो आपको आलू से परहेज करना चाहिए इसे फैटी लिवर की समस्या बढ़ सकती है|

Q . फैटी लिवर में पुरे दिन में कितना पानी पीना चाहिए?

ans . लीवर में समस्या का एक कारण पानी की कमी होती है आपको फैटी लिवर की समस्या में पानी का सेवन समय समय पर करना चाहिए आपको दिन में 3 से 4 लिटर पानी पीना चाहिए जिसे शरीर से टोक्सिक प्रदार्थ निकल जाए|

Q . फैटी लिवर के मुख्या लक्ष्ण क्या है?

फैटी लिवर की समस्या में लक्ष्ण बहुत कम देखने को मिलते है परन्तु जब भी किसी व्यक्ति को फैटी लिवर की समस्या होती है तो उसका वजन कम होने लगता है उसे बहुत थकान होती है भूख में कमी हो जाती है|

Q . फैटी लिवर में आलू खाने से क्या हो सकता है?

ans . फैटी लिवर में आलू खाने से समस्या बढती है क्युकी आले से मिलने वाला वसा लीवर में जमा होता रहता है इसलिए आलू खाने से मना किया जाता है|

डिस्क्लेमर – जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर प्रकार से प्रयाश  किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी thedkz.com की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है