aspidosperma mother tincture uses in hindi,क्या है,फायदे,नुकसान,इस्तेमाल,प्रेगनेंसी

ASPIDOSPERMA MOTHER TINCTURE USES IN HINDI मैं जानेगे यह ऑक्सीजन की मात्रा को बढाने वाली एक होमोपेथिक दवा है , एसा माना जाता है की aspidosperma mother tincture के इस्तेमाल से शरीर में ऑक्सीजन को बढाया जाता है

और जैसा की आपको पता है कोरोना के इस महामारी में ऑक्सीजन की बहुत जादा आवश्यकता है और बहुत से लोगो ने aspidosperma mother tincture का इस्तेमाल किया

इस  होमोपेथिक दवा का इस्तेमाल इतना जादा किया गया की यह मिलनी भी बंद हो गयी थी क्युकी लोगो को लगता था की इसे ऑक्सीजन की मात्रा को आसानी से बढाया जा सकता है

परन्तु यह तथ्य गलत साबित हुआ , इसे एकदम से ऑक्सीजन की मात्रा को नहीं बढाया जाता , यह होमोपेथिक दवा है और इसका इस्तेमाल अलग अलग बिमारी में किया जाता है

परन्तु एसा नहीं है की इसका कोई फायदा नहीं है यह फायदेमंद है और इसका इस्तेमाल बहुत से लोग कर भी रहे है परन्तु इसका असर आराम आराम से होता है

यह होमोपेथिक दवा 200 साल पुरानी है इसका इस्तेमाल मुख्या रूप से फेफड़ो की किसी भी समस्या में किया जाता है , जानिये इस होमोपेथिक दवा के बारे में पूरी जानकारी

ASPIDOSPERMA MOTHER TINCTURE USES IN HINDI,क्या है,फायदे,नुकसान,इस्तेमाल,प्रेगनेंसी

ASPIDOSPERMA MOTHER TINCTURE USES IN HINDI और क्या है ये दवा 

aspidosperma mother tincture एक होमोपेथिक दवा है जो 200 साल पुरानी है , इस होमोपेथिक दवा का पेड़ साउथ अमेरिका vest इंडीज और मक्सिको में पाया जाता है

यह होमोपेथिक दवा हमारे फेफड़ो के लिए बहुत जादा लाभदायक होती है , aspidosperma हमारे फेफड़ो में जमा होने वाले विशेले प्रदार्थ को समाप्त करती है ,ताकि सही प्रकार से साँस ले सके

बहुत से लोग सिगरेट पीते है जिसकी वजह से उन लोगो के फेफड़ो में एक तार जमा हो जाती है जो फेफड़ो को ख़त्म करती है , इसलिए अगर aspidosperma का इस्तेमाल किया जाये

तो यह फेफड़ो में जमा होने वाली तार को ख़त्म कर देता है , aspidosperma का इस्तेमाल फेफड़ो की किसी भी समस्या में इस्तेमाल किया जाता है

इस दवाई के बारे मैं जानेsaridon tablet uses in hindi-सेरीडोन टेबलेट,साइड इफेक्‍ट,इस्तेमाल,लाभ,सावधानियाँ,खुराक,सामग्री,फायदे

aspidosperma mother tincture कैसे काम करती है

aspidosperma फेफड़ो के किसी भी प्रकार की समस्या के लिए इस्तेमाल की जाने वाली होमोपेथिक दवा है , aspidosperma एक टोनिक के रूप में काम करती है

जब हमारे फेफड़ो में कार्बनडाईआक्साइड जमा हो जाती है तो aspidosperma फेफड़ो में ऑक्सीजन की मात्रा को बढ़ाने का काम करती है ताकि सांस लेने में समस्या ना हो

जरुरी नहीं की ऑक्सीजन की मात्रा कम होने पर aspidosperma का इस्तेमाल करे , अगर फेफड़ो में कोई और समस्या है तो भी आप aspidosperma का इस्तेमाल कर सकते है

एक बात आपको और ध्यान में रखनी है बेवजह aspidosperma दवा का इस्तेमाल नहीं करना है अगर आपका ऑक्सीजन लेवल 9.4 के निचे जाता है तब आपको aspidosperma का इस्तेमाल करना है

अगर आपकी ऑक्सीजन की मात्रा सही है और फेफड़ो में कोई समस्या नहीं है तब आपको aspidosperma का इस्तेमाल नहीं करना है

aspidosperma mother tincture  के फायदे

अब जानते है की aspidosperma के क्या फायदे होते है

. सिगरेट के वजह से फेफड़ो में जमा होने वाली तार को aspidosperma के इस्तेमाल से साफ़ किया जाता है

. जिन लोगो को अस्थमा की समस्या होती है उन लोगो के लिए aspidosperma का इस्तेमाल करना फायदेमंद होता है

. सांस लेने में समस्या होना ऑक्सीजन की मात्रा  कम होने पर aspidosperma का इस्तेमाल किया जाता है

. फेफड़ो में जमा होने वाली कार्बनडाईआक्साइड को खत्म करती है aspidosperma

. vense की सिकुड़ने की समस्या को ख़त्म करती है aspidosperma

. सांस फूलने की समस्या में फायदेमंद है aspidosperma

aspidosperma mother tincture के नुकसान

aspidosperma mother tincture एक होमोपेथिक दवा है जिसका इस्तेमाल ऑक्सीजन की मात्रा को बढाने के लिए किया जाता है इसके फायदे भी है

परन्तु यह होमोपेथिक दवा होने के कारण इसके नुक्सान नहीं देखे जाते , हां अगर किसी को इस दवा से एलर्जी है तो इस दवा का इस्तेमाल ना करे

परन्तु ध्यान रखे की अगर आप सोचते है की aspidosperma mother tincture के इस्तेमाल से आपका ऑक्सीजन लेवल बिलकुल सही हो जाएगा और कभी सांस लेने में समस्या नहीं होगी

तो यह आपकी गलत फेमि है aspidosperma mother tincture ऑक्सीजन की मात्रा को हमेशा के लिए नहीं बढाता इसलिए यह आपको बिमारी से राहत दिलाता है

और अगर आप covid के मरीज है और आपको जादा समस्या है तो आप शिधा डॉक्टर से जाकर मिले घर पर किसी भी दवा के इस्तेमाल से ऑक्सीजन की मात्रा को बढाने की कोशिस ना करे

aspidosperma mother tincture इस्तेमाल करने का तरीका

अगर आपके शरीर में ऑक्सीजन की मात्रा 94 के निचे जाती है तो आपको aspidosperma का इस्तेमाल दिन में तीन बार करना है , आपको aspidosperma mother tincture

का 10 या 15 बूँद एक चोथाई पानी के कप में ले सकते है अगर आप एसा करते है तो आपके ब्लड का ऑक्सीजन लेवल बढ जाएगा और आपको सांस लेने में समस्या नहीं होगी

अगर आपको ऑक्सीजन की जादा समस्या है तो आप दिन में हर तीन घंटे के अंतराल में aspidosperma mother tincture का इस्तेमाल कर सकते है

और जब ऑक्सीजन की मात्रा सही होने लगे तो दिन में तीन बार aspidosperma mother tincture का इस्तेमाल करे

aspidosperma mother tincture का इस्तेमाल प्रेगनेंसी में कर सकते है

वेसे तो aspidosperma mother tincture का कोई नुक्सान देखने को नहीं मिलता है परन्तु अगर आप प्रेग्नेनेट है और आपको ऑक्सीजन की समस्या है तो आप

aspidosperma mother tincture के इस्तेमाल से पहले एक बार डॉक्टर की सलाह अवश्य ले तभी aspidosperma mother tincture का इस्तेमाल करे

बिना डॉक्टर की सलाह के aspidosperma mother tincture का इस्तेमाल बिलकुल भी ना करे

aspidosperma mother tincture के इस्तेमाल के बाद आप कोई गाडी चला सकते है या नहीं

जादातर देखा गया है की होमोपेथिक दवा में थोडा नशा होता है , इसलिए अगर आप aspidosperma mother tincture का इस्तेमाल कर रहे है तो ड्राइविंग ना करे

क्युकी आपको नींद आ सकती है जिसे आपको नुक्सान पहुच सकता है इसलिए aspidosperma mother tincture के इस्तेमाल के बाद ड्राइविंग ना करे

aspidosperma mother tincture का शराब के साथ नुक्सान होता है

हम यह नहीं कह सकते की aspidosperma mother tincture का इसतेमाल शराब के साथ करने से कोई नुक्सान होता है या नहीं क्युकी अभी तक कोई रिसर्च नहीं हुई है

परन्तु अगर आप aspidosperma mother tincture के इस्तेमाल के बाद शराब का इस्तेमाल करते हो तो आपको कोई फायदा देखने को नहीं मिलेगा 

यह जरुर पढ़े

अभी कुछ समय पहले ही aspidosperma mother tincture का इस्तेमाल बहुत जादा किया जा रहा था क्युकी किसी ने यह अपवाह फेला दी थी की aspidosperma mother tincture

के इस्तेमाल से एकदम से ऑक्सीजन की मात्रा को बढ़ाया जा सकता है और कभी ऑक्सीजन की कमी नहीं होगी , और इसी कारण बहुत से लोगो ने aspidosperma mother tincture का इस्तेमाल किया

एसा नहीं कहा जा सकता की aspidosperma mother tincture का कोई फायदा नहीं है , यह फेफड़ो के लिए बहुत फायदेमंद होती है covid के मामलो में aspidosperma mother tincture

कुछ समय के लिए ऑक्सीजन की मात्रा को बढ़ा देती है परन्तु हर समय के लिए नहीं , अगर आपको लगता है की आपके ऑक्सीजन की मात्रा जादा कम हो गयी है

तो आप तुरंत डॉक्टर से मिले घर पर ही किसी दवा का इस्तेमाल ना करे , और अगर आपको लगता है की ऑक्सीजन की मात्रा थोड़ी कम है तब आप दिन में 3 बार aspidosperma mother tincture

का इस्तेमाल कर सकते है , परन्तु डॉक्टर की सलाह के अनुसार ही aspidosperma mother tincture का इस्तेमाल करे 

इन दवाई के बारे मैं जाने 

crocin tablet uses in hindi-क्या है ,इस्तेमाल,फायदे,साइड इफ़ेक्ट,सावधानियाँ,उपयोग,खुराक

doxycycline uses in hindi-डोक्सी टैबलेट,लाभ ,नुकसान,खुराक,सावधानियां,इस्तेमाल,परहेज | डॉक्सीसाइक्लिन कैप्सूल का उपयोग जाने

folvite tablet uses in hindi-फोल्विट Tablet के लाभ ,दुष्प्रभाव,सावधानियाँ,खुराक,प्रेगनेंसी मैं फायदे ,इस्तेमाल-फोलिक एसिड

डेंगू बुखार के कारण, लक्षण एवं रोकथाम| symptoms of dengue fever in hindi -dengue symptoms in hindi

 

जानिये कुछ सवालों के जवाब

Q . aspidosperma mother tincture

ans . यह एक होमोपेथिक दवा है जो 200 साल पुरानी है , इस होमोपेथिक दवा का पेड़ साउथ अमेरिका vest इंडीज और मक्सिको में पाया जाता है यह फेफड़ो के लिए बहुत फायदेमंद है |

Q . क्या , aspidosperma mother tincture का किडनी पर कोई बुरा प्रभाव पड़ता है ?

ans . नहीं aspidosperma mother tincture का किडनी पर कोई बुरा प्रभाव नहीं पड़ता है |

Q . क्या ड्राईव करते समय aspidosperma mother tincture का इस्तेमाल करना चाहिए ?

ans . नहीं आपको aspidosperma mother tincture के इस्तेमाल करने के बाद आपको drive नहीं करनी है क्युकी इस दवाई के इस्तेमाल से आपको नींद आती है जिसके कारण आपको नुक्सान हो सकता है |

Q . क्या aspidosperma mother tincture covid के लिए फायदेमंद है ?

ans . कुछ समय के लिए यह दवा ऑक्सीजन ,की मात्रा को बढ़ा देती है परन्तु covid में इसका आपको जादा फायदा देखने को नहीं मिलेगा , इसलिए आप डॉक्टर से संपर्क करे |

Q . aspidosperma mother tincture का इस्तेमाल कैसे करे ?

ans . 10 या 15 बूँद एक चोथाई पानी के कप में ले सकते है अगर आप एसा करते है तो आपके ब्लड का ऑक्सीजन लेवल बढ जाएगा और आपको सांस लेने में समस्या नहीं होगी |

Leave a Comment